जिलेवासी बोले- सभी जागरूक रहें, तभी आगे बढ़ेगा झुंझुनूं

खेतड़ी कॉपर कॉम्लेक्स के नए सिरे से संचालन की बात हो या बेटी बचाने के लिए चलाया गया अभियान। सेना भर्ती कार्यालय के लिए किए गए प्रयास हों या कोरोना काल में मजदूरों का दर्द उजागर करने का मुद्दा। हर जगह पत्रिका आगे रहता है। जिलेवासियों ने कहा, जिले के विकास के लिए हम सभी को जागरूक रहना होगा।

By: Rajesh

Published: 05 Feb 2021, 11:19 PM IST

संवाद सेतु में जिले की समस्याओं और उनके समाधान की राह पर हुई चर्चा, प्रबुद्धजन ने जिले के विकास के लिए दिए सुझाव

#patrika sanwad setu in jhunjhunu

झुंझुनूं. समय से पहले ही स्क्रीन पर टकटकी लगाए युवा। जिले की समस्याओं पर चर्चा करते लोग। उनके समाधान की बात कहते प्रबुद्धजन और हर तरफ उल्लासित होता तन-मन। राजस्थान पत्रिका की ओर से जिले की समस्याओं,उनके समाधान तथा यहां के विकास को लेकर शुक्रवार को आयोजित संवाद सेतु कार्यक्रम में कुछ ऐसा ही माहौल रहा। हर किसी ने कहा कि पत्रिका सामाजिक सरोकार में हमेशा अग्रणी रहता है। खेतड़ी कॉपर कॉम्लेक्स के नए सिरे से संचालन की बात हो या बेटी बचाने के लिए चलाया गया अभियान। सेना भर्ती कार्यालय के लिए किए गए प्रयास हों या कोरोना काल में मजदूरों का दर्द उजागर करने का मुद्दा। हर जगह पत्रिका आगे रहता है। जिलेवासियों ने कहा, जिले के विकास के लिए हम सभी को जागरूक रहना होगा।
इस अवसर पर पत्रिका समूह के प्रधान सम्पादक गुलाब कोठारी ने कहा कि जिले के सर्वांगीण विकास के लिए हमें केवल सरकार पर निर्भर नहीं रहना है। सभी को मिलकर आगे आना होगा। खासकर युवाओं को पहल करनी होगी। यह हम सभी की सामूहिक जिम्मेदारी है। हर व्यक्ति रोज एक घंटे सामाजिक सरोकारों के लिए काम करे। महीने के तीस घंटे। हजारों लोग हजारों घंटे। फिर देखना, तस्वीर बदलते देर नहीं लगेगी। कोठारी ने कहा कि हमें तकनीक का उपयोग करना चाहिए, उसका गुलाम नहीं होना चाहिए। जनप्रतिनिधि का खुद का धर्म है कि वह अपने क्षेत्र के विकास के लिए काम करे, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा। जबकि वे हमारे ही वोटों से सत्ता तक पहुंचे हैं। हमें जनप्रतिनिधियों से हिसाब मांगना होगा ताकि उनपर दबाव पड़े और विकास के काम हो सके। पत्रिका के अमृतम जलम सहित अन्य सामाजिक सरोकारों का जिक्र करते हुए कोठारी ने कहा कि इन्हीं के दम पर आज पत्रिका की विश्वसनीयता और साख कायम है।

#patrika sanwad setu in jhunjhunu

डॉक्युमेंट्री फिल्म से बताई विकास यात्रा

कार्यक्रम की शुरुआत में दो मिनट 57 सैकंड की डॉक्युमेंट्री फिल्म ने सभी का मन मोह लिया। पत्रिका के इस वीडियो में यहां की झरोखे वाली हवेलियों, धार्मिक स्थलों, दूर-दूर तक फैले माटी के धोरों, सेठों व शूरवीरों की गाथाओं को बेहद आकर्षक ढंग से दिखाया गया है। कार्यक्रम का प्रसारण पत्रिका टीवी सहित पत्रिका समूह के सभी सोशल प्लेटफार्म पर भी किया गया।

सांसद व विधायकों सहित पूरा जिला जुड़ा
संवाद सेतु को लेकर इतना उत्साह था कि अनेक जगह स्क्रीन लगाकर यह कार्यक्रम देखा गया। संसद की कार्यवाही में व्यस्त रहने के बावजूद सांसद नरेन्द्र खींचड़ पूरे कार्यक्रम में जुड़े रहे। इनके अलावा नवलगढ़ विधायक डॉ राजकुमार शर्मा, जिला प्रमुख हर्षिनी कुल्हरी, खेतड़ी प्रधान मनीषा गुर्जर, भाजपा जिला उपाध्यक्ष प्यारेलाल ढूकिया, उपभोक्ता प्रतितोष आयोग के सदस्य मनोज मील, डॉ शशि मोरोलिया, भाजपा के मुकेश कुमार, एडवोकेट संजय महला सहित जिले के अनेक संगठनों के पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि व आमजन जुड़े रहे।

----

आओ अब लौट चलें
झुंझुनूं की पहचान प्रवासियों की वजह से है और सामाजिक विकास यहां का इतिहास रहा है। परंतु धीरे-धीरे प्रवासियों की चौथी पीढ़ी का लगाव कम होता जा रहा है। गांव-गांव से निकलने वाले प्रवासियों की कहानियों को प्रकाशित कर उन्हें अपनी माटी से जोडऩे का प्रयास किया जाए। सरकार उनको सुविधाएं दें। आओ अब लौट चले अभियान शुरू हो।

मनीष अग्रवाल, सीए
तम्बाकू के खिलाफ अभियान चले

पत्रिका की ओर से बिगड़ते लिंगानुपात पर शुरू किया गया अभियान सराहनीय रहा। जिसके बलबूते आज झुंझुनूं में लिंगानुपात सुधरा है। साथ ही तंबाकू के खिलाफ चलाए गए अभियान ने भी लोगों को जागरूक किया। पत्रिका का संवाद सेतु कार्यक्रम लोगों में नई ऊर्जा का काम करेगा। तम्बाकू के खिलाफ अभियान चलें।
-राजन चौधरी, सामाजिक कार्यकर्ता, झुंझुनूं

जांच की सुविधा बढ़े
छोटी सी बीमारी के इलाज के लिए जयपुर समेत अन्य बड़े शहरों में जाना पड़ता है। एमआरआइ व सीटीस्कैन भी पीपीपी मोड पर चल रहे हैं। ऐसे में हर किसी को इलाज की सुविधा नहीं मिल पाती है। बेहतर चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराने के प्रयास किए जाने चाहिए। जिले में निशुल्क जांच का दायरा बढ़ाया जाए।

डॉ उपासना चौधरी, झुंझुनूं
मंडावा फिल्म सिटी बने

मैं कला के क्षेत्र से जुड़ा हूं। फिल्म शूटिंग को लेकर जिला काफी सालों से प्रसिद्ध होता जा रहा है। जिले का मंडावा शूटिंग के मामले में देश के नक्शे पर है। यहां बनने वाली फिल्में हिट तो होती ही है, साथ ही शूटिंग से हजारों लोगों को रोजगार मिलता है। ऐसे में मंडावा में फिल्म सिटी बननी चाहिए।
-सलीम दीवान चौबदार, अभिनेता, मुम्बई
काटली को फिर जीवित किया जाए
शेखावाटी की लाइफलाइन काटली नदी में अवैध खनन जारी है। प्रशासन व पुलिस की नाक के नीचे से बजरी से भरे ट्रक व ट्रैक्टर दौड़ रहे हैं। दबंगों ने अवैध रूप से कब्जा कर नदी में फार्म हाउस बना लिए हैं। अब किसी बड़ी नदी या नहर के पानी से जोड़कर काटली को फिर से जीवित किया जाए।

-अशोक सिंह शेखावत, बड़ागांव
नहर के लिए आगे आएं

काफी वक्त से यमुना के पानी को लाने के लिए प्रयासरत हैं। परंतु जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के कारण लोग अपने हक से वंचित हैं। नहर के मुद्दे को लेकर पूरे जिले को आगे आकर सरकारों पर दबाव बनाना होगा। नहर आने से खेतों में फिर से खुशियां छाने लगेगी।
-यशवर्धनसिंह शेखावत, सामाजिक कार्यकर्ता

सामाजिक चेतना जगाता पत्रिका
पत्रिका की ओर से चलाए जा रहे सामाजिक सरोकार काबीले तारीफ है। पत्रिका सामाजिक चेतना तो जगाता ही है, यह मन के दरवाजे भी खोलता है। जिले की कोई बड़ी समस्या हो, कोई मुद्दा हो पत्रिका हमेशा आगे रहता है।

-कमल कांत शर्मा, जिला प्रवक्ता भाजपा
बेटियों की सुरक्षा हो

महिला शिक्षा के क्षेत्र में झुंझुनूं बहुत आगे है। महिला अपराध रोकने के लिए पुलिस को ज्यादा सक्रिय रहना होगा। आरोपियों को जल्द सजा मिले, ताकि वे गलत कार्य करने का दुस्साहस नहीं करें। यहां की बेटियों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया जाए।
-योगिता शर्मा, प्राचार्य जेबी शाह कॉलेज, झुंझुनूं

बीड को संरक्षित किया जाए
बीड़ को कंजर्वेशन रिजर्व क्षेत्र घोषित कर रखा है और इस पर करोड़ों रुपए भी स्वीकृत कर रखे हैं। ऐसे में इसे विकसित किया जाए। इसे पर्यटन स्थल बनाया जाए। यहां वाच टावर बनाए जाएं। इसे इस प्रकार विकसित किया जाए कि सफारी शुरू हो सके।

-मुरारी सैनी, जिला प्रवक्ता कांग्रेस
सड़कें सुधरें, रेल चले

शहर की सड़कें बनती है, लेकिन फिर तोड़ दी जाती है। कभी पाइप लाइन के नाम पर तो कभी सीवरेज व ड्रेनेज के नाम पर। फिर उनको सही तरीके से नहीं सुधारा जाता। जिले के अनेक लोग बड़े शहरों में रहते हैं, उनके जुड़ाव के लिए लम्बी दूरी की सुपरफास्ट ट्रेन चलनी चाहिए।

-शिखा कुमावत, फैशन डिजाइनर, झुंझुनूं

---

#patrika sanwad setu in jhunjhunu

चिड़ावा: पत्रिका टीवी पर देखा संवाद सेतु
चिड़ावा. स्टेशन रोड स्थित बौधायन डिफेंस एकेडमी के अभ्यर्थियों ने शुक्रवार को झुंझुनंू के विकास से जुड़े मुद्दों को लेकर रखे संवाद सेतु के वर्चुअल आयोजन का पत्रिका टीवी पर लाइव प्रसारण देखा। जिसमें अभ्यर्थी राजस्थान पत्रिका के प्रधान संपादक गुलाब कोठारी का उद्बोधन सुनकर उत्साहित नजर आए। निदेशक अमित भास्कर ने बताया कि कोठारी के उद्बोधन से बहुत कुछ सीखने को मिला। इस मौके पर करतारसिंह भांबू, राकेश पालावत, हर्ष कुमार, सुरेश कुमार, प्रवीण योगी, संदीप पूनियां, अरविंद कुमार आदि मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned