बेरहम मां ने चार साल के बेटे को टंकी में डूबोकर मारा, खुद ने हाथ की नस काटी

बुडानिया गांव में घरेलू कलह से तंग आकर एक महिला ने अपने चार साल के बेटे को पानी की टंकी में डूबोकर मार डाला और खुद के हाथ की नस काटकर आत्महत्या का प्रयास किया।

By: santosh

Published: 01 Mar 2020, 12:08 PM IST

मंड्रेला/चिड़ावा। थानाक्षेत्र के बुडानिया गांव में घरेलू कलह से तंग आकर एक महिला ने अपने चार साल के बेटे को पानी की टंकी में डूबोकर मार डाला और खुद के हाथ की नस काटकर आत्महत्या का प्रयास किया। पुलिस ने महज छह घंटे में वारदात का खुलासा करते हुए आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार बुडानिया निवासी कृष्ण कुमार स्वामी ने सुबह थाने पहुंच कर रिपोर्ट दी कि रात को अज्ञात व्यक्ति ने उसके छोटे भाई विद्याधर के चार साल के पुत्र विवान को पानी की टंकी में डूबोकर मार दिया तथा विद्याधर की पत्नी सुनिता को धारदार हथियार से हमला कर घायल कर दिया। थानाधिकारी राकेश मीणा मौके पर पहुंचे और मासूम के शव को मंड्रेला सीएचसी पहुंचाया। डॉग स्क्वायड से मिले सुराग के आधार पर घर के सदस्यों से अलग-अलग पूछताछ की। जिसमें विवान की मां सुनिता से पुलिस ने गहनता से पुछताछ की तो सुनिता ने मासूम को टंकी में डूबोकर मारने तथा खुद को ब्लेड से घायल करने की बात स्वीकार कर ली। बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

यूं दिया वारदात को अंजाम
सुनिता ने बताया कि वह घरेलू कलह से तंग आ चुकी थी। आए दिन उसका पति विद्याधर ताने मारता रहता था। ऐसे में रात साढ़े तीन बजे वह अपने पास सोए छोटे पुत्र विवान को गोद में लेकर टंकी के पास पहुंची। उसने टंकी का ढक्कन हटाकर उसे पानी में डूबो दिया और खुद ने ब्लेड से अपने दोनों हाथों पर वार किए।

आए दिन होती रहती थी कलह
सुनिता का पति विद्याधर पहले प्राइवेट नौकरी करता था। मगर कुछ दिनों से वह बेरोजगार था। ऐसे में घर में कलह भी ज्यादा होती रहती थी। आए दिन की कलह से वह तंग आ चुकी थी। सुनिता ने पुलिस को बताया कि उसका पति चरित्र पर भी शक करता था और वह बात-बात पर ताने देता रहता था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned