नए कलक्टर भी नहीं सुधार पा रहे झुंझुनूं के स्कूलों व अस्पतालों के हाल

जिला कलक्टर का डर भी अब कर्मचारियों में नहीं रहा। ऐसे में सरकारी अस्पतालों में ना समय पर डॉक्टर मिल रहे हैं ना ही स्कूलों में शिक्षक। इस का सबसे बड़ा नुकसान ग्रामीणों व गरीबों को हो रहा है।

By: Rajesh

Published: 10 Apr 2019, 12:32 PM IST


कलक्टर की कार्रवाई का डर किसी को नहीं
झुंझुनूं. हर माह मोटा वेतन। ढेर सारे भत्ते। अनेक छुट्टियां। फिर भी झुंझुनूं जिले के सरकारी अस्पतालों में ना डॉक्टर व अन्य स्टाफ समय पर आ रहा है ना ही स्कूलों में शिक्षक समय पर आ रहे हैं। नए कलक्टर रवि जैन भी अस्पतालों व स्कूलों की व्यवस्था नहीं सुधार पा रहे। जानकारों का कहना है कि कड़ी कार्रवाई होती नहीं और छोटी कार्रवाई का डर नहीं है। ऐसे में जिला कलक्टर का डर भी अब कर्मचारियों में नहीं रहा। ऐसे में सरकारी अस्पतालों में ना समय पर डॉक्टर मिल रहे हैं ना ही स्कूलों में शिक्षक। इस का सबसे बड़ा नुकसान ग्रामीणों व गरीबों को हो रहा है।
कलक्टर रवि जैन व एसपी गौरव यादव ने सीमावर्ती इलाकों में स्थापित मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया। सीनियर सैकण्डरी विद्यालय, छापड़ा के निरीक्षण के दौरान व्यवस्थाएं सही नहीं पाई गईं। साफ-सफाई का अभाव मिला, शौचालय गन्दे पाए गए व पीने के पानी की टंकी खुली पड़ी थी और इसमें कचरा भरा पड़ा था। मिड-डे-मील की व्यवस्थाएं भी ठीक नहीं पाई गई। साथ ही विद्यालय में कार्यरत 21 कर्मचारियों में से महज आठ ही मौके पर मिले। गैर हाजिर मिलने वाले कर्मचारियेां को नोटिस जारी करने के निर्देश दे दिए गए। निरीक्षण के दौरान उपखण्ड मजिस्ट्रेट चिड़ावा, सूरजगढ एवं बुहाना भी साथ रहे।

तातीजा में चिकित्सालय पर ताला

खेतड़ी. उपखण्ड अधिकारी खेतड़ी ने तातीजा स्थित राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र व राजकीय आयुर्वेद चिकित्सालय तातीजा का औचक निरीक्षण किया। उपखण्ड अधिकारी इन्द्राज सिंह ने बताया कि राजकीय आयुर्वेद चिकित्सालय में ताला बंद मिला। जहां कार्यरत चिकित्साधिकारी डा.बलराज चौधरी व जीएनएम पूनम अनुपस्थित मिले। राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तातीजा में कार्यरत 8 में सात कर्मचारी अनुपस्थित मिले। इनमे चिकित्साधिकारी डा.नवीन सैनी,आयुष चिकित्सक डा.राकेश कुमार योगी,नर्स प्रथम ईश्वर सिंह,नर्स द्वितीय संजय कुमार,एलएचवी सुमन,एएनएम संगीता व पीएचएस कैलाशचन्द अनुपस्थित मिले। इनके खिलाफ कार्यवाही हेतु उच्चाधिकारियों को पत्र लिखा गया।


बालक की हत्या के आरोपी को भेजा जेल
पचेरी. लाम्बी अहीर गांव के बालक के साथ कुकर्म कर हत्या करने के आरोपी चचेरे चाचा को पुलिस रिमाण्ड के बाद मंगलवार को न्यायालय में पेश किया। जहां से आरोपी को जेल भेज दिया। थानाधिकारी भरतलाल मीणा ने बताया कि लाम्बी अहीर निवासी राजवीर मेघवाल को बालक अंकित के साथ कुकर्म कर हत्या करने का मामले में तीन दिन के पुलिस रिमाण्ड पर ले रखा था। मंगलवार को आरोपी राजवीर मेघवाल को न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे जेल भेज दिया। गौरतलब है कि 24 मार्च 2019 को लाम्बी अहीर गांव से बालक अंकित को आरोपी चचेरा चाचा राजवीर उठाकर ले गया था। इसके बाद आरोपी ने अंकित के साथ कुकर्म कर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी थी। इस संबंध में मृतक अंकित की मां कमलेश ने आरोपी राजवीर के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned