scriptSports Authority of India in jhunjhunu | राजस्थान में क्यों नहीं खुल रहे साई के नेशनल एक्सीलैंस सेंटर | Patrika News

राजस्थान में क्यों नहीं खुल रहे साई के नेशनल एक्सीलैंस सेंटर

देश में कुल 14 नेशनल एक्सीलैंस सेंटर हैं, लेकिन इनमें राजस्थान में एक भी नहीं है। इसी प्रकार देश में 11 रीजनल सेंटर हैं। वे भी राजस्थान में एक भी नहीं है।
राजस्थान के खाते में केवल स्पोट्र्स ट्रेनिंग सेंटर हैं।

झुंझुनू

Published: January 07, 2022 05:13:07 pm

राजेश शर्मा

झुंझुनूं. इसे हमारे केन्द्रीय नेताओं की लापरवाही मानें या केन्द्र का राज्य के प्रति अलग नजरिया। कारण चाहे कुछ भी हों लेकिन यह सच है कि भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) ने अपनी स्थापना के बाद राजस्थान में एक भी नेशनल एक्सीलैंस सेंटर स्थापित नहीं किया। जबकि पिछले कार्यकाल में तो 25 में से 25 सांसद भाजपा के थे। कई सांसद केन्द्र में मंत्री भी थे। इस बार भी 25 में से 24 सांसद भाजपा के हैं। कई मंत्री भी हैं। वहीं पहले कांग्रेस के सांसदों व मंत्रियों ने भी सेंटर नहीं खुलवाए।
देश में कुल 14 नेशनल एक्सीलैंस सेंटर हैं, लेकिन इनमें राजस्थान में एक भी नहीं है। इसी प्रकार देश में 11 रीजनल सेंटर हैं। वे भी राजस्थान में एक भी नहीं है।
राजस्थान में क्यों नहीं खुल रहे साई के नेशनल एक्सीलैंस सेंटर
राजस्थान में क्यों नहीं खुल रहे साई के नेशनल एक्सीलैंस सेंटर
#Sports Authority of India in jhunjhunu
राजस्थान के खाते में केवल स्पोट्र्स ट्रेनिंग सेंटर हैं। देश में कुल 288 के लगभग स्पोट्र्स ट्रेनिंग सेंटर(एसटीसी) हैं, इनमें राजस्थान में केवल जयपुर, जोधपुर व अलवर में ही एसटीसी केन्द्र हैं। इसके अलावा स्कूलों व स्टेडियमों में विस्तार केन्द्र की सुविधा उपलब्ध है। अर्जुन पुरस्कार विजेता सेना से रिटायर्ड अधिकारी मेहरचंद भास्कर ने बताया कि राजस्थान में साई के एक्सीलैंस सेंटर खुल जाएं तो हमारे खिलाड़ी भी ओलम्पिक में पदक ला सकते हैं। मैं साई के सेंटर से वर्षों से जुड़ा रहा हूं, लेकिन आज तक किसी भी सरकार ने मन से प्रयास ही नहीं किए। जो भी खिलाड़ी तैयार हो रहे हैं या तो सेना से हो रहे हैं या रेलवे से हो रहे हैं। यहां भी एक्सीलैंस सेंटर और रीजनल सेंटर खुलने चाहिए। भारतीय बास्केटबाल टीम में कई वर्षों तक खेल चुके दर्शन सिंह जोडिय़ा का कहना है एक्सीलैंस सेंटर पर श्रेष्ठ कोच मिलते हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर की ट्रेनिंग, फिजियो, श्रेष्ठ डाइट सहित तमाम सुविधाएं निशुल्क मिलती है। अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी सुभाष योगी का कहना है कि यह दुर्भाग्य है कि राजस्थान में ना तो साई का ऐक्सीलैंस सेंटर है ना ही रीजनल सेंटर। केवल स्पोट्र्स ट्रेनिंग सेंटर खुले हुए हैं।
#Sports Authority of India in jhunjhunu
क्या है साई

भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) भारत के युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय का महत्वपूर्ण अंग है। अपनी खेल प्रोत्साहन योजनाओं के माध्यम से भारतीय खेल प्राधिकरण युवाओं में प्रतिभा उत्पन्न करने का काम करता है। इसके लिए वह उन्हें आवष्यक आधारभूत ढांचा, उपकरण, प्रशिक्षण की श्रेष्ठ सुविधाएं और प्रतियोगिता के अवसर प्रदान करता है।
भारतीय खेल प्राधिकरण भारत का सर्वोच्च राष्ट्रीय खेल निकाय है, जिसे भारत में खेल के विकास के लिए भारत सरकार के युवा मामले और खेल मंत्रालय की ओर से वर्ष 1984 में स्थापित किया गया था। इसका मुख्यालय नई दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में है।
#Sports Authority of India in jhunjhunu
देश में है 14 नेशनल एक्सीलैंस सेंटर
-पटियाला
-सोनीपत
-हिसार
-सिलोंग
-इम्फाल
-कोलकाता
-जगतपुर
-भोपाल
-बेंगलुरु
-तिरुअनंतपुरम
-कांदीवेली मुम्बई
-ओरंगाबाद
-गांधीनगर
-अलपूझा
----------------

#Sports Authority of India in jhunjhunu
यहां है रीजनल सेंटर
-चंडीगढ़
-जिराकपुर
-लखनऊ
-गुवाहाटी
-इंफाल
-कोलकाता
-भोपाल
-बेंगलुरु
-मुम्बई
-गांधीनगर
-सोनीपत

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

पाकिस्तान ने भेजी है विषकन्या: राजस्थान इंटेलिजेंस ने सेना को तस्वीरें भेज कर किया अलर्टPooja Singhal Case: झारखंड की 6 और बिहार के मुजफ्फरपुर में ED की एक साथ छापेमारी, अहम सुराग मिलने की उम्मीदकर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया का विवादित बयान, 'मैं हिंदू हूं, चाहूं तो बीफ खा सकता हूं..'सबसे आगे मोदी, पीछे से बाइडेन सहित अन्य नेता, QUAD Summit से आई PM मोदी की ये तस्वीर वायरलआर्थिक तंगी और तेल की कमी से जूझ रहे पाकिस्तान ने ढूंढा अजीब तरीका, कर्मचारियों को ज्यादा छुट्टियां देने की तैयारी!QUAD Summit: अमरीकी राष्ट्रपति ने उठाया रूस-यूक्रेन युद्ध का मुद्धा, मोदी बोले- कम समय में प्रभावी हुआ क्वाड, लोकतांत्रिक शक्तियों को मिल रही ऊर्जाWhat is IPEF : चीन केंद्रित सप्लाई चैन का विकल्प बनेंगे भारत, अमरीका समेत 13 देशबेरोजगारों के लिए सबसे बड़ी खबर: राजस्थान में अब अधिकांश भर्तियों में नहीं होगा साक्षात्कार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.