कोरोना की जांच के लिए मंडावा की होटल से लाए 6 कर्मचारी चाय, पानी व खाने के लिए तरसते रहे

होटल में कार्यरत छह कर्मचारियों को चिकित्सा विभाग झुंझुनूं तो ले आया, लेकिन वे यहां पीने के पानी, चाय व खाने के लिए तरसते रहे। एक रोगी ने पत्रिका को बताया कि उन्हें यहां पर गुरुवार रात को आठ बजे लाया गया। इसके बाद पूरी रात ना तो खाना दिया गया और ना ही चाय दी गई। खाना दूसरे दिन शुक्रवार को दोपहर में दिया गया। गुरुवार रात को पानी भी नहीं मिला। रोगियों ने आरोप लगया कि मेडिकल स्टाफ को उन्होंने रुपए देकर चाय लाने को कहा तो वे दूर भागने लगे।

By: Jitendra

Published: 07 Mar 2020, 12:01 PM IST

झुंझुनूं. मंडावा में कोरोना के मरीज मिलने के बाद वहां के होटल में कार्यरत छह कर्मचारियों को चिकित्सा विभाग झुंझुनूं तो ले आया, लेकिन वे यहां पीने के पानी, चाय व खाने के लिए तरसते रहे।विभाग ने सभी छह कर्मचारियों को बगड़ रोड स्थित एक अस्पताल में भर्ती कर दिया। भर्ती रोगियों ने मेडिकल स्टाफ पर उचित देखभाल नहीं करने का आरोप लगाया। एक रोगी ने पत्रिका को बताया कि उन्हें यहां पर गुरुवार रात को आठ बजे लाया गया। इसके बाद पूरी रात ना तो खाना दिया गया और ना ही चाय दी गई। खाना दूसरे दिन शुक्रवार को दोपहर में दिया गया। गुरुवार रात को पानी भी नहीं मिला। रोगियों ने आरोप लगया कि मेडिकल स्टाफ को उन्होंने रुपए देकर चाय लाने को कहा तो वे दूर भागने लगे। उन्होंने कहा कि परिवार से भी नहीं मिलना दिया, वरना चाय व खाना वे ही ले आते। इधर, सीएमएचओ डॉ. छोटेलाल गुर्जर ने बताया कि संदिग्धों की हालात ठीक है। अब उनकी खांसी-जुकाम भी ठीक हो गई है। उनकी लगातार मोनेटरिंग की जा रही है। भोजन की व्यवस्था कर दी गई है।


पत्रिका ने भेजा पानी का कैन
पीडि़ता ने जब राजस्थान पत्रिका कार्यालय में फोन कर अपनी पीड़ा बताई तो पत्रिका टीम ने उनके पीने के लिए पानी की व्यवस्था के लिए कैन भिजवाए।


महंगा हो गया मास्क
मंडावा में कोरोना के संदिग्ध रोगी मिलने के बाद अब बाजार में मास्क की मांग बढ़ गई है। कोरोना से बचने के लिए अब लोग मास्क का सहारा लेने लगे हैं। अचानक से मांग बढऩे पर बाजार में मास्क की कीमत बढ़ गई है।सामान्य दिनों में 10 से 20 रुपए तक मिलने वाला मास्क अब 30-40 रुपए तक मिल रहा है। बाजार में स्पेशल एन-95 ना के बराबर है। मेडिकल स्टोर के संचालकों ने बताया कि आगे से आपूर्ति नहीं हो रही है। अन्य दिनों की अपेक्षा अब मांग बढ़ी है। पहले कभी-कभार ही मास्क लेने के लिए आते थे, अब तो प्रतिदिन मास्क लेने ग्राहक आ रहे हैं। कई मास्क ऑनलाइन भी अनुपब्ध हैं।


मास्क लगाकर कर रहे हैं काम
कोरोना संक्रमण से बचने के लिए लोग अपने कार्यालय में मास्क लगाकर काम कर हैं। बैंक सहित अन्स संस्थाओं में कर्मचारी मास्क लगाकर काम कर रहे हैं तथा आने वालों को जागरूक कर रहे हैं।शार्दुल मार्केट स्थित एसबीआइ बैंक में कर्मचारियों ने मास्क लगाकर काम किया।


जर्मनी के पर्यटकों की जांच
खेतड़ीनगर. आरआरटी एवं चिकित्सा विभाग की टीम ने जर्मनी से खेतड़ीनगर आए दो पर्यटकों की खेतड़ी बीसीएमओ डॉ. हरिश यादव के नेतृत्व में जांच की। बीसीएमओ डा. हरिश यादव ने बताया कि दो पर्यटक खेतड़ी नगर में रुके हुए हैं। जांच के दौरान किसी भी प्रकार के लक्षण नहीं पाए गए।

Jitendra Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned