scriptनौतपा में पड़ी भीषण गर्मी राजस्थान के इस जिले के लिए साबित हुई फायदेमंद, होगी झमाझम बारिश, किसानों के खिले चेहरे | The intense heat of Nautapa proved beneficial for these districts of Rajasthan, there will be heavy rain, farmers are happy | Patrika News
झुंझुनू

नौतपा में पड़ी भीषण गर्मी राजस्थान के इस जिले के लिए साबित हुई फायदेमंद, होगी झमाझम बारिश, किसानों के खिले चेहरे

नौतपा के दौरान जबरदस्त गर्मी भी बेहतर बरसात और फिर बेहतर उत्पादन के संकेत दे रही है। इसे देखते हुए कृषि विभाग भी सक्रिय हो गया है। विभाग ने इस बार खरीफ फसल बुवाई का लक्ष्य तय कर लिया है।

झुंझुनूJun 26, 2024 / 04:32 pm

जमील खान

Jhunjhunu News : झुंझुनूं. शेखावाटी अंचल में इस बार मानसून में अच्छी बरसात के आसार बताए जा रहे हैं। हाल ही में हुई प्री-मानसून की बरसात से जिले के कई स्थानों पर खरीफ फसल की बुवाई भी किसानों ने शुरू कर दी गई है। अच्छी बरसात के संकेत के चलते किसानों ने खेतों में निराई-गुड़ाई का काम शुरू कर दिया है। सुबह से लेकर शाम तक खेतों में किसान काम करते नजर आ रहे हैं। नौतपा (Nautapa 2024) के दौरान जबरदस्त गर्मी भी बेहतर बरसात और फिर बेहतर उत्पादन के संकेत दे रही है। इसे देखते हुए कृषि विभाग भी सक्रिय हो गया है। विभाग ने इस बार खरीफ फसल बुवाई का लक्ष्य तय कर लिया है। विभाग के अनुसार इस बार जिले के खेतों में तीन लाख नौ हजार हेक्टेयर में बुर्वाई होगी। यह बुवाई पिछले साल की तुलना में ज्यादा है।
इनका कहना है
पूरे जिले में प्री मानसून की बरसात नहीं हुई है। कई जगह किसानों ने बुवाई शुरू कर दी है। जहां पर बरसात नहीं हुई हैं , वहां पर किसान बुवाई की तैयारियों में जुटे हुए हैं। विभाग की ओर से इस बार तीन लाख नौ हजार रूझान में बुवाई का लक्ष्य रखा है। नौतपा में इस बार जबरदस्त गर्मी पडऩे से मानसून में अच्छी बरसात के संकेत हैं। इससे जिले में बुवाई का रकबा बढऩे की उम्मीद है। पीसी बुनकर, संयुक्त निदेशक, कृषि विभाग झुंझुनूं
48 हजार हेक्टेयर से ज्यादा क्षेत्रफल में होगी बुवाई
कृषि विभाग के पिछली बार हुई बुवाई की तुलना की जाए तो इस बार 48 हजार हेक्टेयर से ज्यादा बुवाई का लक्ष्य रखा गया है। पिछली बार करीब 2 लाख 61 हजार हेक्टेयर में खरीफ फसल की बुवाई हुई थी।
साढ़े चार हजार हेक्टेयर में कपास की बुवाई
जिले में अब तक किसान चार हजार छह सौ हेक्टेयर में कपास की बुवाई कर चुके हैं। इसके अलावा पशुओं के लिए चारे की भी काफी बुवाई हो चुकी है। इस बार जिले में 73000 हजार हेक्टेयर में कपास समेत अन्य व्यवसायिक फसलों की बुवाई की जाएगी।
जानिए, कौनसी फसल की कितनी होगी बुवाई
फसल बुवाई लक्ष्य हेक्टेयर में

बाजरा 160000

मूंग 40000

मुंगफली 13000

कपास 17000

गवार 50000

चंवला 23000
अन्य 6000

कुल 309000

Hindi News/ Jhunjhunu / नौतपा में पड़ी भीषण गर्मी राजस्थान के इस जिले के लिए साबित हुई फायदेमंद, होगी झमाझम बारिश, किसानों के खिले चेहरे

ट्रेंडिंग वीडियो