रीटा को क्यों पड़ी ट्रैक्टर रैली की जरूरत

रीटा बोली, तजुर्बेदार सांसद कभी लोगों को कहते हैं दो पैग लगाओ और पांच वोट बढ़ाओ। इससे वे युवाओं को क्या संदेश देना चाहते हैं। कभी सांसद कहते हैं रेल बस तो राज्य सरकार चलाती है। अब उनको ये ही पता नहीं कि रेल राज्य चलाती है या केन्द्र। इस जिले का सांसद मंडावा विधानसभा क्षेत्र से आता है, लेकिन सांसद किसानों की आवाज नहीं बन पाए।

By: Rajesh

Published: 01 Mar 2021, 10:25 PM IST

झुंझुनूं. जिले में चल रहे किसानों के आंदोलन के दौरान खुद को जिले और शेखावाटी की सबसे बड़ी किसान नेता साबित करने के लिए मंडावा से कांग्रेस की विधायक रीटा चौधरी ने झुंझुनूं शहर में शक्ति प्रदर्शन किया। पहले उन्होंने ट्रैक्टर रैली निकाली। फिर पहली बार नेहरू पार्क के पास सभा की। इससे पहले चूरू शहर में सादुलपुर की विधायक कृष्णा पूनिया ऊंट रैली निकाल चुकी। रीटा की सभा हर बार विद्यार्थी भवन (जाट बोर्डिंग)में होती है, लेकिन इस बार उन्होंने विद्यार्थी भवन की जगह सभा का स्थान नेहरू पार्क के पास चुना। जब उप चुनाव हुए थे तब भी रीटा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व अन्य मंत्रियों की सभा जाट बोर्डिंग में करवाई थी। रैली में रीटा के निशाने पर सांसद नरेन्द्र कुमार व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रहे। रैली में सैकड़ों की संख्या मंडावा क्षेत्र के किसान आए। रैली पर राष्ट्रीय ध्वज के साथ भारतीय किसान संघर्ष समिति के पीले रंग के झंडे लगे हुए थे।


रैली के मायने
रीटा ने अपने सम्बोधन के दौरान रैली के दो कारण गिनाए। पहला कारण बताया। किसानों की आवाज बुलंद करने के लिए यह रैली की है। दूसरा कारण बताया रैली के बाद हर गांव व ढाणियों में लोग जाएंगे। वहां आमजन को तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ जागरूक करेंगे। वहीं राजनीति से जुड़े लोगों का कहना है कि अभी जिले में किसान आंदोलन चरम पर है। राकेश टिकै त, राजाराम मील व अन्य किसान नेता 2 मार्च को झुंझुनूं आएंगे। ओला के निधन के बाद कांग्रेस में कोई बड़ा किसान नेता नहीं उभरा।


तजुर्बेदार सांसद कहते है दो पैग लगाओ

रीटा बोली, तजुर्बेदार सांसद कभी लोगों को कहते हैं दो पैग लगाओ और पांच वोट बढ़ाओ। इससे वे युवाओं को क्या संदेश देना चाहते हैं। कभी सांसद कहते हैं रेल बस तो राज्य सरकार चलाती है। अब उनको ये ही पता नहीं कि रेल राज्य चलाती है या केन्द्र। इस जिले का सांसद मंडावा विधानसभा क्षेत्र से आता है, लेकिन सांसद किसानों की आवाज नहीं बन पाए।

प्रधानमंत्री के लिए बोली
प्रधानमंत्री ने पहले नोटबंदी में गरीबों को परेशान किया। फिर जीएसटी लगाकर परेशान किया। अब बिना किसी से पूछे तीन कृषि कानून थोप दिए। प्रधानमंत्री किसानों को नहीं देश को बर्बाद करना चाहते हैं। उनकी बातों पर विश्वास नहीं किया जा सकता। वे देश की कम्पनियां व्यापारियों को बेच रहे हैं। वे कहते हैं मंडिया बंद नहीं होंगी, लेकिन उन पर विश्वास कैसे करें, क्योंकि उन्होंने पहले कहा था कालाधन वापस लाऊंगा, हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख आएंगे। लेकिन हुआ कुछ नहीं। देश


तीनों कृषि कानूनों पर यह बोली
पहले कृषि कानून से मंडियां बंद हो जाएंगी।
दूसरे कृषि कानून से किसानों की जमीन बिक जाएंगी।
तीसरे कृषि कानून से कालाबाजारी को छूट मिलेगी।


सांसद से सवाल पूछो, वे किसानों के लिए क्या कर रहे हैं: रीटा
सभा को सम्बोधित करते हुए रीटा चौधरी ने कहा कि कोई भी भाजपा नेता या सांसद आपके गांव/शहर में आए तो उनसे सवाल पूछो कि वे किसानों के लिए व गरीबों के लिए क्या कर रहे हैं। भाजपा जाति व धर्म के नाम पर लोगों को लड़वा रही है। झुंझुनूं वीरों की धरती है। राजनीति में आगे है। लेकिन फिर भी किसानों की सुनवाई नहीं होना गलत है। उन्होंने कहा कि दो मार्च को किसान अपनी ताकत दिखाएं।


झलकियां
-विधायक खुद नया ट्रैक्टर चलाकर लाई।
-पूर्व प्रंधानमंत्री नेहरू, गांधी की योजनाएं गिनाई साथ ही अटल बिहारी वाजपेयी की सड़कों की योजना की प्रशंसा की।
-रैली में जिले के अन्य विधायकों व नेताओं को नहीं बुलाया। केवल मंडावा क्षेत्र के लोग ज्यादा रहे।
-दो ट्रैक्टरों की ट्रॉलियों को मिलाकर मंच बनाया।
-बैनर पर बडी फोटो राहुल गांधी व रीटा चौधरी की रही।
-तिरंगे के साथ भारतीय किसान मोर्चा के झंडे भी रैली में खूब रहे।
-सम्बोधन की शुुरआत राम राम सा से की। समापन भी राम राम से किया।
-पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष रामनारायण चौधरी, सरदार हरलाल सिंह व पूर्व केन्द्रीय मंत्री शीशराम ओला का भी नाम लिया।
-कांग्रेस के झंडे दिखाई नहीं दिए।
-सम्बोधन में दो बार मुख्मंत्री का नाम लिया।
-रीटा ने कहा यह आगाज है, अंजाम नहीं
-रैली में युवा नारे लगाते हुए चल रहे थे।


कई जगह बन गई जाम की स्थिति
बड़ी संख्या में ट्रैक्टरों और गाडिय़ों का काफिला निकलने के कारण शहर के पीपली चौक से मंडावा मोड, कलक्ट्रेट, रोडवेज डिपो, गांधी चौक और रोड नंबर एक पर जाम लग गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned