scriptVice President Dhankhar cultivating the land of temple forgiveness | मंदिर माफी की जमीन पर खेती कर रहे उप राष्ट्रपति धनखड़ | Patrika News

मंदिर माफी की जमीन पर खेती कर रहे उप राष्ट्रपति धनखड़

किठाना में ही धनखड़ परिवार की खुद की 60 बीघा जमीन पर खेती हो रही है। यह जमीन भी मंदिर माफी के नाम दर्ज है। खेत की देखभाल कर रहे महिपाल धनखड़ ने बताया कि खेत में वर्ष 2013 से जोजोबा ही उगाया जा रहा है।

झुंझुनू

Published: August 11, 2022 01:08:09 pm

युगलेश शर्मा.

झुंझुनूं.देश के नए उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ का खेती-बाड़ी से विशेष लगाव रहा है। वे जब भी गांव आते हैं, यहां के लोगों से खेती-बाड़ी से संबंधित चर्चा जरूर करते हैं। यहां तक कि खेतों में घास नजर आ जाए तो खुद ही घास को उखाडऩे लग जाते हैं। इसी घास की तरह उनके गांव की एक बड़़ी समस्या है। करीब आधे गांव की जमीन मंदिर माफी के नाम दर्ज है। ऐसे में यहां के लोगों को कृषि योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा। किसान के बेटे धनखड़ के उप राष्ट्रपति बनने के बाद गांव के लोगों को उम्मीद जगी है कि अब इस समस्या का हल होगा।
धनखड़ का जन्म झुंझुनूं जिले के किठाना गांव में किसान परिवार में हुआ है। लगभग 15 हजार की आबादी वाला यह गांव 18 हजार बीघा में बसा है। इसमें से करीब 9 हजार बीघा जमीन मंदिर माफी के नाम दर्ज है। इस जमीन पर गांव के लोग सालों से खेती तो कर रहे हैं लेकिन कृषि संबंधित योजनाओं का लाभ नहीं उठा पा रहे। उन्हें लोन या मुआवजा नहीं मिल पाता। बिजली कनेक्शन के लिए भी जयपुर स्थित गोपीनाथ जी मंदिर जाकर एनओसी लानी पड़ती है। ऐसे में गांव के लोगों को खेती करना भारी पड़ रहा है।
मंदिर माफी की जमीन पर खेती कर रहे उप राष्ट्रपति धनखड़
मंदिर माफी की जमीन पर खेती कर रहे उप राष्ट्रपति धनखड़

धनखड़ के खेत में उगता है जोजोबा

किठाना में ही धनखड़ परिवार की खुद की 60 बीघा जमीन पर खेती हो रही है। यह जमीन भी मंदिर माफी के नाम दर्ज है। खेत की देखभाल कर रहे महिपाल धनखड़ ने बताया कि खेत में वर्ष 2013 से जोजोबा ही उगाया जा रहा है। इसका तेल धनखड़ का परिवार ही काम में लेता है। इससे पहले अन्य फसल उगाई जाती थी।
उप राष्ट्रपति से उम्मीद
गांव के लोगों का मानना है कि धनखड़ ने हमेशा गांव के लिए कुछ ना कुछ किया है। उन्होंने कभी किसी को मदद के लिए मना नहीं किया। स्कूल के बच्चों को ड्रेस-स्वेटर देते हैं। गांव के मंदिर का जीर्णोद्धार करवा दिया। ऐसे में ग्रामीणों को उम्मीद है उनकी इस समस्या का हल भी धनखड़ की करवाएंगे।
कई बार उठाई मांग
गांव के पूर्व उप सरपंच महेन्द्र धनखड़ बताते हैं कि करीब आधा गांव कृषि योजनाओं से वंचित है। उन्हें लोन नहीं मिल सकता, उन्हें मुआवजा नहीं मिल सकता। लाइट कनेक्शन के लिए जयपुर स्थित गोपीनाथ जी मंदिर जाकर एनओसी लेनी पड़ती है। मालिकाना हक के लिए कई बार मांग उठाई गई है। फिलहाल कोई समाधान नहीं हुआ लेकिन अब उप राष्ट्रपति से उम्मीद है कि वे इस समस्या का समाधान कराएंगे।

घरड़ाना तक सडक़ की भी आस

सुलताना से किठाना तक डबल लेन सडक़ बनी है। मगर किठाना की सीमा निकलते ही घरड़ाना रोड की हालत खराब है। सडक़ में गहरे गड्ढे बन चुके हैं। नए उप राष्ट्रपति धनखड़ ने घरड़ाना के सरकारी विद्यालय से भी शिक्षा ग्रहण की थी। धनखड़ इसी रास्ते से पैदल ही घरड़ाना जाते हैं। ग्रामीणों को अब इस रोड के नवीनीकरण की उम्मीद है।
फार्म हाउस में ठहरते हैं धनखड़

किठाना गांव में प्रवेश करने से पहले धनखड़ का फार्म हाउस आता है। इससे कुछ दूरी पर गांव के बीच में उनकी पुश्तेनी हवेली भी है, जहां उनका बचपन बीता है। लेकिन अब यह हवेली काफी पुरानी होने के कारण जर्जर हो चुकी है। इसलिए धनखड़ जब भी गांव आते हैं। इसी फार्म हाउस में ही ठहरते हैं। फार्म हाउस में उनका एक साधारण सा कमरा है।
लाइब्रेरी में रख रखे हैं स्मृति चिंह

फार्म हाउस में ही धनखड़ ने एक लाइब्रेरी बना रखी है। इसमें ही पश्चिम बंगाल व राजस्थान से मिले स्मृति चिंह भी रख रखे हैं। इसी फार्म हाउस में धनखड़ की तरफ से सिलाई प्रशिक्षण शिविर भी चल रहा है जिसमें महिलाओं को नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

पाकिस्तानी आकाओं के इशारे पर भारत में आतंक फैलाने की थी साजिश, ग्रेनेड के साथ 3 आतंकी गिरफ्तारIND vs SA, 2nd T20: भारत ने साउथ अफ्रीका को 16 रनों से हराया, सीरीज पर 2-0 से कब्जाअरविंद केजरीवाल का बड़ा दावा- 'गुजरात में बनेगी आप की सरकार', IB रिपोर्ट का दिया हवालासच बोलने की सजा भुगतनी पड़ी... बिहार के कृषि मंत्री के इस्तीफे पर BJP ने नीतीश पर किया हमलाअमित शाह के जम्मू दौरे से पहले पुलवामा में आतंकी हमला, पुलिस का एक जवान शहीद, CRPF जवान जख्मीIND vs SA: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान, सभी सीनियर खिलाड़ियों को मिला आरामIAF की ताकत में होगा इजाफा, कल सेना में शामिल होगा स्वदेशी हल्का लड़ाकू हेलीकॉप्टर, जानें इसकी खासियतIND vs SA 2nd T20: 2 गेंदबाज जो साउथ अफ्रीका को हराने में टीम इंडिया की मदद करेंगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.