छात्रा से दुष्कर्म के तीन माह बाद भी जांच के नाम पर सिफर

बेनामी छात्रा द्वारा पीएम, राष्ट्रपति, सीएम व अन्य अधिकारियों को पत्र लिख कर सामूहिक दुराचार के आरोप लगाने के मामले में अब तक पुलिस

By: शंकर शर्मा

Published: 15 Jan 2018, 10:43 PM IST

जींद। बेनामी छात्रा द्वारा पीएम, राष्ट्रपति, सीएम व अन्य अधिकारियों को पत्र लिख कर सामूहिक दुराचार के आरोप लगाने के मामले में अब तक पुलिस व शिक्षा विभाग के हाथ पूरी तरह से खाली है। तीन माह से अधिक का समय बीतने के बाद भी कोई सुराग नहीं लग सका है।

ऐसे में अब डीएसपी कार्यालय ने जिले के सभी गांवों के सरपंचों तथा सभी एरिया पुलिस थानों व चौकी से सूचना मांगी है कि कहीं उनकी जानकारी में पूर्व में ऐसा कोई मामला सामने आया है या नहीं। यदि कोई बात सामने आई है तो वह डीएसपी कार्यालय में इसकी सूचना दे। वहीं इस मामले में सैक्सुअल हरासमेंट कमेटी भी अब तक जांच शुरू नहीं कर सकी है। कमेटी की एक बैठक जरूर हो चुकी है लेकिन कोरम पूरा नहीं होने के कारण मीटिंग में कोई जांच आगे नहीं बढ़ सकी थी।

गौरतलब है कि अक्टूबर माह में बेनामी छात्रा ने डीईओ व अन्य अधिकारियों को पत्र भेजकर उसके साथ सामूहिक दुराचार करने की शिकायत दी थी लेकिन डीईओ कार्यालय ने नाम व पता नहीं होने के कारण मामला आगे नहीं बढ़ाया था। इसके बाद दिसंबर में मामला तब सामने आया, जब पुलिस के पास शिकायत पहुंची। पुलिस ने तुरंत इस मामले में एसआईटी गठित कर जांच डीएसपी रामभज को सौंप दी। पुलिस ने इस मामले में आरोपित शिक्षकों से पूछताछ करने के साथ उनका मेडिकल भी कराया। साथ ही पुराना रिकार्ड भी खंगालने का काम किया लेकिन शिकायतकर्ता के नाम से कोई लड़की नहीं मिली और न ही सामने आई।

इस मामले में महिला आयोग भी जांच के लिए पहुंचा था और पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए थे लेकिन उसके बाद भी आज तक कोई सुराग नहीं लग सका। इस मामले में डीएसपी रामभज की ओर से सभी गांवों के सरपंचों व थानों से सूचना मांगी गई है कि पूर्व में इस प्रकार का उनके संज्ञान में कोई मामला आया हो और कोई कार्रवाई न की गई हो। यदि ऐसा मामला सामने आया है तो उसकी सूचना डीएसपी कार्यालय को दी जाए।

ऐसे में अब तक डीएसपी कार्यालय सरपंचों व थानों की तरफ ताक रहा है कि कहीं न कहीं वहां से सुराग सामने आ जाए। वहीं इस मामले में शिक्षा विभाग की कमेटी भी आगे नहीं बढ़ सकी है। कमेटी की चार जनवरी को बैठक हुई थी लेकिन कोरम पूरा नहीं होने के कारण जांच आगे नहीं बढ़ सकी। फिलहाल अगली बैठक की तिथि तय नहीं की गई है।

अब तक नहीं लग पाया है कोई सुराग
डीएसपी राम भज ने कहा कि बेनामी पत्र मामले में अब तक सुराग नहीं लग सका है। उन्होंने सरपंचों व थानों से ऐसा कोई पूर्व में मामला सामने आने की जानकारी मांगी है। शिक्षा विभाग से मांगा गया रिकार्ड भी अब तक नहीं मिल सका है।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned