आर्थिक तंगी से परेशान होकर बैंक मैनेजर ने की आत्महत्या

गांव खोखरी कॉप्रेटिव बैंक के मैनेजर ने अपने सेक्टर नौ स्थित मकान में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली

By: शंकर शर्मा

Published: 09 Dec 2017, 09:46 AM IST

जींद। गांव खोखरी कॉप्रेटिव बैंक के मैनेजर ने अपने सेक्टर नौ स्थित मकान में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक द्वारा छोड़े गए सुसाइड नोट में चार लोगों की तरफ लगभग 80 लाख रुपये की लेनदारी बताई गई। राशि न लौटाने तथा आर्थिक तंगी से परेशान होकर आत्महत्या का कदम उठाया।

मौत के लिए चार लोगों को जिम्मेवार ठहराया गया है। सिविल लाइन थाना पुलिस ने मृतक के भाई तथा सुसाइड नोट के आधार पर चार लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। सेक्टर नौ निवासी एवं गांव खोखरी कॉप्रेटिव बैंक मैनेजर राकेश का शव गत दिवस शाम को उसके मकान के दूसरी मंजिल पर बने कमरे में फांसी के फंदे पर लटकता पाया गया।

फंदा पत्नी की चुन्नी से बनाया गया था। घटना का उस समय पता चला जब राकेश की पत्नी डयूटी कर घर वापस लौटी। घटना की सूचना पाकर सिविल लाइन थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को कब्जे में ले सामान्य अस्पताल पहुंचाया। पुलिस ने मृतक की जेब से सुसाइड नोट बरामद किया है।

जिसमे बताया गया है कि विशाल मेघा माट के पीछे रहने वाले सुनील की तरफ 36 लाख, गांव बांस निवासी संजय मोर की तरफ दस लाख, बूरा स्टेट वाला मास्टर अजित बूरा की तरफ दस लाख 24 हजार रुपये, काठमंडी में दुकानदार सुमित की तरफ नौ लाख 38 हजार रुपये, प्रवीन गर्ग से 22 लाख 30 हजार रुपये लेने थे।

पांचों लोगों ने राशि को दिसम्बर तक देने का आश्वासन दिया था। काफी दबाव के बाद भी इन्होंने राशि को नहीं लौटाया। इसके अलावा उसे कुछ लोगों की देनदारी भी थी जो उस पर राशि के लिए दबाव डाल रहे थे। जिसके कारण उसके आर्थिक हालात बिगड़ गए। सुसाइड नोट में पांचों लोगों को मौत के लिए जिम्मेवार ठहराया गया है।

सिविल लाइन थाना पुलिस ने मृतक द्वारा छोड़े गए सुसाइड नोट तथा मृतक के बड़े भाई राजेश की शिकायत पर सुनील, अजित बूरा, सुमित, प्रवीन गर्ग, संजय मोर के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned