चौधरी देवीलाल के बाद चौथी पीढी के सांसद दुष्यंत चौटाला जींद की धरती से आज फूंकेंगे क्रांति का बिगुल

चौधरी देवीलाल के बाद चौथी पीढी के सांसद दुष्यंत चौटाला जींद की धरती से आज फूंकेंगे क्रांति का बिगुल

Prateek Saini | Publish: Dec, 09 2018 06:00:00 AM (IST) Jind, Jind, Haryana, India

जननायक जनता पार्टी के नाम से पंजीकृत करवाया गया नया दल...

(जींद): कभी पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल ने अपने संघर्ष की शुरूआत जींद की धरती से की थी। अब देवीलाल के परिवार की चौथी पीढी में सांसद दुष्यंत चौटाला उसी धरती से रविवार को क्रांति का बिगुल फूंकेंगे। देवीलाल के परिवार ने अपना राजनीतिक इतिहास दोहराया है। कभी देवीलाल की मौजूदगी में राजनीतिक विरासत का बटवारा उनके दो बेटों रणजीत सिंह और ओमप्रकाश चौटाला के बीच हुआ था और ओमप्रकाश चौटाला ने बाजी मार ली थी। इस बार ओमप्रकाश चौटाला की विरासत का बटवारा ओमप्रकाश चौटाला के छोटे बेटे अभय सिंह चौटाला और बडे बेटे अजय सिंह चौटाला के पुत्र दुष्यंत चौटाला के बीच हुआ है। दुष्यंत चौटाला देवीलाल की विरासत के मूल राजनीतिक दल इंडियन नेशनल लोकदल से निष्कासित कर दिए जाने के बाद रविवार को अपने नए राजनीतिक दल का ऐलान करेंगे। यह ऐलान सांसद दुष्यंत के समर्थकों में क्रांति का बिगुल ही माना जा रहा है।

अजय चौटाला भी ले सकते है बैठक में हिस्सा

सांसद दुष्यंत समर्थकों की राय में यह नया दल हरियाणा की राजनीति में एक नया विकल्प खडा करेगा और चौधरी देवीलाल के विचारों का सही प्रतिनिधित्व करेगा। सांसद दुष्यंत चौटाला और उनके पिता अजय सिंह चौटाला को हाल में इंडियन नेशनल लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में पार्टी से निष्कासित कर दिया था। इसके बाद पिछले माह जींद में बडे कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन कर जींद की धरती पर ही नई पार्टी का ऐलान करने का फैसला किया गया था। नई पार्टी के ऐलान के लिए रविवार को जींद में आयोजित बडी रैली में सांसद दुष्यंत चौटाला के पिता अजय सिंह चौटाला के भी पहुंचने की संभावना है। वे जेबीटी टीचर्स भर्ती मामले में दस साल की सजा के तहत तिहाड जेल में है। इस रैली के लिए उन्होंने पेरोल का आवेदन किया है।

 

गांव—गांव जाकर दिया लोगों को आमंत्रण

सांसद दुष्यंत चौटाला का आरोप है कि मौजूदा इंडियन नेशनल लोकदल ने संस्थापक चौधरी देवीलाल की विचारधारा को छोड दिया है। वे नई पार्टी के जरिए देवीलाल की असल विचारधार से प्रदेश को राजनीतिक विकल्प देंगे। जींद की धरती पर नई पार्टी के ऐलान के लिए आयोजित रैली को समस्त हरियाणा सम्मेलन नाम दिया है। सांसद दुष्यंत और उनके छोटे भाई छात्र संगठन इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने गांव-गांव जाकर लोगों को सम्मेलन का आमंत्रण दिया है।

बेहतरीन साज—सज्जा

समस्त हरियाणा सम्मेलन को अनूठा रंग देने का प्रयास किया गया है। सम्मेलन जींद के पाडु पिंडारा में आयोजित किया गया है। सम्मेलन को शानो-शौकत देने के लिए नाइजीरिया की लिली और कश्मीर के गुल दाउदी से सजाया गया है। पेशेवर पुष्प सज्जा करने वालों ने विदेशी फूलों के अलावा देश के अलग-अलग हिस्सों के फूलों से भी मंच और मैदान को सजाया है। इनमें से एक बंगलुरू से मंगवाए गए जरबरा नामक फूल की छटा भी शामिल है।

 

देहरादून की वादियों का ग्लाइड और नासिक का गुलाब भी सम्मेलन की रौनक में शुमार है। मंच के सामने रंगोली सजाने के लिए तीन क्विंटल हरा व पीला गुलाल दिल्ली से मंगाया गया है। हरा और पीला गुलाल मंगाने के पीछे कारण यह है कि जननायक जनता पार्टी के नाम से पंजीकृत नए दल का ध्वज पीला और हरा होगा। सम्मेलन स्थल पर तीन स्टेज बनाए गए है। इनमें एक अतिथियों और दूसरा सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश करने वालों और तीसरा मीडिया कर्मियों के लिए होगा। हरियाणवी परम्परा का नगाडा पलवल से मंगाया गया है। यह नगाडा अतिथियों का स्वागत करेगा। सम्मेलन के मुख्य अतिथि सांसद दुष्यंत चौटाला हेलिकॉप्टर से पाडु पिडारा पहुंचेंगे।

Ad Block is Banned