नवजन्मी बेटी होगी मुख्य अतिथि, ज्यादा पढ़ी लिखी बेटी करेगी ध्वजारोहण

गणतंत्र दिवस समारोह में 20 जनवरी 2019 से 20 जनवरी 2020 तक गांव अथवा वार्ड में जन्म लेने वाली बेटियां विशेष अतिथि के रूप में शामिल होंगी। एक वर्ष तक की इन बच्चियों को माता सहित पहली पंक्ति में बिठाकर विशेष सम्मान दिया जाएगा।

चंडीगढ़. (संजीव शर्मा). कन्या भू्रण हत्या का कलंक लगने वाले हरियाणा में अब बेटियों के लिए फिजा बदलने लगी है। अब बेटियों को मान सम्मान दिया जाने लगा है। इसी क्रम में इस बार मनाया जाने वाला गणतंत्र दिवस समारोह बेटियों पर केंद्रीत होगा। प्रदेश के सभी गांवों में स्कूलों में होने वाले कार्यक्रमों में नवजन्मी बच्चियां मुख्य अतिथि होंगी, वहीं गांव की सबसे अधिक पढ़ी लिखी बेटी ध्वजारोहण करेगी। इस संबंध में शिक्षा निदेशालय ने प्रदेश के सभी शिक्षा अधिकारियों को दिशा निर्देश दे दिए हैं।


गणतंत्र दिवस समारोह में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ तथा संविधान दिवस का समावेश होगा। गांव की सबसे अधिक पढ़ी-लिखी बेटी से ध्वजारोहण करवाकर बेटियों का सलाम राष्ट्र के नाम संदेश देने का प्रयास किया जाएगा। संविधान दिवस की 70वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में केन्द्र के निर्देशों पर 26 नवंबर 2020 तक स्कूलों में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।

इसके चलते इस बार गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान विद्यार्थी संविधान दिवस को समर्पित स्किट, सांस्कृतिक कार्यक्रम, मौलिक अधिकारों का संदेश देने वाले कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे। इसमें गांव की उन लड़कियों को सम्मानित किया जाएगा जिन्होंने गत शैक्षिक सत्र और विभिन्न प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन किया है।

छोटी बच्चियां होंगी आकर्षण का केंद्र

गणतंत्र दिवस समारोह में 20 जनवरी 2019 से 20 जनवरी 2020 तक गांव अथवा वार्ड में जन्म लेने वाली बेटियां विशेष अतिथि के रूप में शामिल होंगी। स्कूल मुख्याध्यापक की जिम्मेदारी होगी कि वह ग्राम पंचायत के सहयोग से ऐसी बेटियों के परिजनों को संपर्क करें जिनका उक्त अवधि के दौरान जन्म हुआ है। कार्यक्रम के दौरान एक वर्ष तक की इन बच्चियों को माता सहित पहली पंक्ति में बिठाकर विशेष सम्मान दिया जाएगा।


हरियाणा की अधिक खबरों के लिए क्लिक करें...
पंजाब की अधिक खबरों के लिए क्लिक करें...

Show More
Devkumar Singodiya Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned