काश वह दिल बड़ा रखने के बजाए दिमाग बड़ा रखता तो आज जिंदा होता

(Hariyana News ) 'दिल बड़ा रखोगे तो पहचान अपने आप बढ़ जाएगी।' फेसबुक (Facebook ) पर लिखी उसकी इन पंक्तियों के साथ काश वह दिल के साथ दिमाग बड़ा रखता और अपनी मां का कहना (If he obeyed his mother ) मान लेता तो आज सलाखों में ही सही पर जीवित होता। उसने मां की समझाईश की अनसुनी कर दी और पुलिस मुठभेड़ में मारा ( Police killed a criminal) गया।

By: Yogendra Yogi

Published: 02 Jul 2020, 08:19 PM IST

जींद(हरियाणा): (Hariyana News ) 'दिल बड़ा रखोगे तो पहचान अपने आप बढ़ जाएगी।' फेसबुक (Facebook ) पर लिखी उसकी इन पंक्तियों के साथ काश वह दिल के साथ दिमाग बड़ा रखता और अपनी मां का कहना (If obey his mother ) मान लेता तो आज सलाखों में ही सही पर जीवित होता। उसने मां की समझाईश की अनसुनी कर दी और पुलिस मुठभेड़ में मारा ( Police killed a criminal) गया। ऐसे अंत हुआ एक अपराधी का, जिसने अपने दो साथियों के साथ मिल कर दो पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी। पुलिस ने जींद की अजमेर बस्ती में बदमाश अमित को मुठभेड़ के दौरान मार गिराया। उसके एक साथी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

शराब पीने से टोकने पर मारा
हरियाणा में सोनीपत जिले के बुटाना इलाके में गश्ती करते दो पुलिसकर्मियों की सोमवार रात हत्या हो गई। पुलिस के मुताबिक सार्वजनिक स्थल पर कार में शराब पीने से टोकने पर कार सवार 6 लोगों ने पुलिसकर्मियों पर जानलेवा हमले किए थे। उसके बाद स्पेशल पुलिस अधिकारी (एसपीओ) कप्तान सिंह और कॉन्स्टेबल रविंद्र गोहाना-जींद रोड पर मंगलवार तड़के मृत पड़े मिले। पुलिस ने वारदात के 15 घंटों के भीतर हत्यारोपियों का पता कर लिया। वारदात के दूसरे रोज यानी कि मंगलवार शाम को कार की पहचान के साथ ही जींद से एक आरोपी संदीप को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद पुलिस अमित को पकडऩे गई थी।

मुठभेड़ में 4 पुलिसकर्मी घायल
जवानों की हत्या के बाद वह मंगलवार सुबह आठ बजे ही घर पहुंच गया था। पहले उसने खाना खाया और उसके बाद पूरे दिन वह सोता रहा। मंगलवार शाम को फोन आने के बाद वह उठकर रोहतक रोड पर गया था। वह रोज रोहतक रोड पर जिम में जाता था। इसके बाद शाम करीब छह बजे पुलिस ने दबिश दी और रोहतक रोड पर मुठभेड़ हुई। इस कार्रवाई में अमित की मौत से पहले बदमाशों ने चार पुलिसकर्मियों को भी तेजधार हथियार से वार कर घायल कर दिया था।

दूसरा बदमाश गिरफ्तार
वहीं, दूसरा बदमाश सन्दीप पुत्र जोगिन्द्र निवासी नाडा हाल राम नगर शहर जींद गिरफ्तार कर लिया गया है। कुल छह आरोपी, जिनमें दो महिलाएं कुल मिलाकर छह लोग इस वारदात में शामिल थे। जिनमें से दो महिलाएं बताई जा रही हैं। जिन्हें भी पकडऩे की कार्रवाई जारी है। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, वारदात के दूसरे रोज यानी कि मंगलवार शाम को कार की पहचान के साथ ही जींद से एक आरोपी संदीप को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद पुलिस अमित को पकडऩे गई थी, जो मुठभेड में मारा गया।

मां की नहीं मानी
अमित की मां गीता ने बताया कि सोमवार रात दस बजे तक अमित घर पर ही था। इसके बाद वह बिना बताए ही कहीं चला गया। इसके बाद अगले दिन घर आया और उसने दोपहर करीब डेढ़ बजे उसे बताया कि इस प्रकार से दो पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी है। इस पर परिजन उसे पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण करने के लिए कहा तो अमित ने कहा कि ऐसे तो उसके दोस्त भी पकड़े जाएंगे। जो होगा देखा जाएगा। इसके बाद शाम करीब छह बजे पुलिस ने दबिश दी और रोहतक रोड पर मुठभेड़ हुई। इस कार्रवाई में अमित की मौत से पहले बदमाशों ने चार पुलिसकर्मियों को भी तेजधार हथियार से वार कर घायल कर दिया था।

फेसबुक पर लिखा था...

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए अमित ने फेसबुक पर खिलाड़ी सुनारिया के नाम से आईडी बनाई हुई थी फेसबुक पर वह अपने फोटो अपलोड करता रहता था। फेसबुक पर अपने रौब के बारे में भी कई बार लिखा है। तीन दिन पहले डाली गई अपनी पोस्ट पर लिखा है 'दिल बड़ा रखोगे तो पहचान अपने आप बढ़ जाएगी।' वहीं 22 जून को डाली गई एक पोस्ट में अमित ने लिखा है कि 'किसा टाइम कैसे खेलते हैं एक अच्छा खिलाड़ी ही जानता है।'

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned