मंडी सचिव को चप्पलों से पीटने वाली टिकटॉक स्टार सोनाली गिरफ्तार

(Hariyana News ) भाजपा नेत्री (Hariyana BJP ) और टिकटॉक स्टार सोनाली (TikTok Star Sonali ) फोगाट को आखिरकार मंडी सचिव को चप्पलों से पीटने की कीमत गिरफ्तार होकर चुकानी पड़ी। पुलिस ने मंडी सचिव की रिपोर्ट के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। बिनैन खाप ने (Khap warned Hariyana Govt ) प्रस्तावित अपना आंदोलन स्थगित कर दिया।

By: Yogendra Yogi

Published: 23 Jun 2020, 05:55 PM IST

जींद(हरियाणा): (Hariyana News ) भाजपा नेत्री (Hariyana BJP ) और टिकटॉक स्टार सोनाली (TikTok Star Sonali ) फोगाट को आखिरकार मंडी सचिव को चप्पलों से पीटने की कीमत गिरफ्तार होकर चुकानी पड़ी। पुलिस ने मंडी सचिव की रिपोर्ट के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। बिनैन खाप ने (Khap warned Hariyana Govt ) प्रस्तावित अपना आंदोलन स्थगित कर दिया। खाप ने सरकार को चेतावनी दी कि अगर सचिव सुलतान को झूठे मुकदमे कोई कार्रवाई की गई तो बिनैन खाप शांत नहीं बैठेगी और दोबारा सड़कों पर उतकर न्याय के लिए लड़ेगी।

सोशल मीडिया पर हुआ था वायरल
गौरतलब है कि हिसार में बालसमंद मंडी के दौरे के दौरान मार्केट कमेटी के एक पदाधिकारी की चप्पल से पिटाई के मामले में विवादों में घिर गईं। सोनाली फोगाट का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ। पुलिस ने प्रारंभ में कोई कार्रवाई नहीं की। खाप पंचायत की चेतावनी के बाद हरियाणा सरकार दवाब में आ गई और सोनाली की गिरफ्तारी करनी पड़ी।

पांच अन्य भी हुए गिरफ्तार
पुलिस ने सोनाली के अलावा उनके साथ निजी सचिव व चार अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर एसीजेएम की अदालत में पेश किया गया। जहां से सोनाली फोगाट व उनके निजी सचिव सुधीर को 30-30 हजार रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी गई। वहीं, चार अन्य आरोपी आशीष, सुभाष, रवि और अमित को जमानती शनाख्त न होने के कारण जेल भेज दिया गया। मामले में अदालत की ओर से अगली सुनवाई के लिए 8 जुलाई निर्धारित की गई है।

खाप की चेतावनी
साथ ही खाप पंचायत ने सरकार को चेताया कि अगर पीडि़त सुलतान सिंह के खिलाफ दर्ज झूठे मुकदमे में कार्रवाई करने की कोशिश की तो बिनैन खाप सड़क पर उतरने से गुरेज नहीं करेगी। गौरतलब है कि सोनाली की ओर से भी पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पंचायत में पहुंचे कालवन पता के प्रधान फकीरचंद नैन ने कहा कि अगर सरकार द्वारा सचिव सुल्तान सिंह पर दर्ज किए झूठे मुकदमें को वापिस नहीं लिया गया तो निश्चित रूप से खाप आंदोलन शुरू करेगी। क्योंकि प्रशासन के बाद खाप के लोगों की सुरक्षा व न्याय दिलाने की जिम्मेवारी खाप की बनती है और खाप न्याय के लिए कुछ भी कर गुजरने के लिए हमेशा तैयार रहेगी।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned