भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड में कॉन्ट्रैक्ट इंजीनियर के 480 पदाें पर walk in interview

भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड में कॉन्ट्रैक्ट इंजीनियर के 480 पदाें पर walk in interview

Yuvraj Singh | Publish: Jun, 14 2018 06:37:44 PM (IST) जॉब्स

BEL 480 Contract Engineers Recruitment 2018, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड में कॉन्ट्रैक्ट इंजीनियर के 480 रिक्त पदाें पर भर्ती

BEL 480 Contract Engineers Recruitment 2018, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड ने एक्सपोर्ट मैन्युफैक्चरिंग एसबीयू में मार्केटिंग और कस्टमर सपोर्ट डिवीजन में कॉन्ट्रैक्ट इंजीनियर के 480 रिक्त पदाें पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। इच्छुक व याेग्य उम्मीदवार इन पदाें के लिए 8 जुलाई 2018 (8.30 बजे) वॉक-इन-इंटरव्यू में उपस्थित हो सकते हैं।

 

भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड ( BEL) में रिक्त पदाें का विवरणः

• कॉन्ट्रैक्ट इंजीनियर- 480 पद

• इलेक्ट्रॉनिक्स

• मेकेनिकल

• इलेक्ट्रिकल

• इंस्ट्रुमेंटेशन

• इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी

वेतनमानः 23,000 रूपए प्रतिमाह।

 

भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड ( BEL) में Contract Engineers के रिक्त पदाें पर आवेदन करने के लिए योग्यता मानदंड, शैक्षिक / तकनीकी योग्यता और अनुभव:

कॉन्ट्रैक्ट इंजीनियर: एआईसीटीई मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय / संस्थान से बीई / बीटेक।

 

चयन प्रक्रिया:

8 जुलाई 2018 को उम्मीदवारों के चयन के लिए लिखित परीक्षा और साक्षात्कार आयोजित किया जाएगा।

 

आवेदन कैसे करें:

उम्मीदवार आवेदन पत्र 'http://bghr-Recruitment.com/ApplForm_CON.aspx?pid=184' के माध्यम से ई मेल कर सकते हैं। आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 26 जून 2014 (8.30 बजे) है।

 

महत्वपूर्ण तिथि:

वॉक-इन-इंटरव्यू की तिथि: 8 जुलाई 2018 (8.30 पूर्वाह्न)।

पंजीकरण की अंतिम तिथि: 26 जून 2018

 

नाेटः साक्षात्कार स्थल की जानकारी 2 जुलार्इ 2018 काे जारी की जाएगी।

BEL Contract Engineers Recruitment notification 2018 for 480 posts:

भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड में एक्सपोर्ट मैन्युफैक्चरिंग एसबीयू में मार्केटिंग और कस्टमर सपोर्ट डिवीजन में कॉन्ट्रैक्ट इंजीनियर के 480 रिक्त पदाें पर भर्ती के लिए विस्तृत अधिसूचना यहां क्लिक करें।

भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड ( BEL) का परिचयः

भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड, भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय के अधीन एक सैन्य एवं नागरिक उपकरण एवं संयंत्र निर्माणी है। भारत सरकार द्वारा सन 1954 में सैन्य क्षेत्र की विशेष चुनौतीपूर्ण आवश्यकताऐं पूरी करने हेतु रक्षा मन्त्रालय के अधीन इसकी स्थापना की गई थी। इलेक्ट्रानिक उपकरण व प्रणालियों का विकास तथा उत्पादन देश में ही करने के उद्देश्य से इसका पहला कारखाना बंगलुरू में लगाया गया था, किन्तु आज यह अपनी नौ उत्पादन इकाईयों, कई क्षेत्रीय कार्यालय तथा अनुसन्धान व विकास प्रयोगशालाओं से युक्त सार्वजनिक क्षेत्र का एक विशाल उपक्रम है, जिसे अपने व्यावसायिक प्रदर्शन के फलस्वरूप भारत सरकार से नवरत्न उद्योग का स्तर प्राप्त हुआ है।

 

 

Ad Block is Banned