राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्तीः करोड़ों खर्च, 15 लाख अभ्यर्थी, फिर भी खाली रहेंगी पोस्ट

राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्तीः करोड़ों खर्च, 15 लाख अभ्यर्थी, फिर भी खाली रहेंगी पोस्ट

Sunil Sharma | Publish: Sep, 11 2018 01:19:27 PM (IST) जॉब्स

राजस्थान पुलिस कांस्टेबल के करीब 13200 पदों के लिए चल रही भर्ती प्रक्रिया में 15 लाख अभ्यर्थियों के शामिल होने के बाद भी पद खाली रहेंगे।

युवाओं को रोजगार देने की सरकार की घोषणा को पुलिस विभाग के कारण चुनावी साल में धक्का लग सकता है। कांस्टेबल के करीब 13200 पदों के लिए चल रही भर्ती प्रक्रिया में 15 लाख अभ्यर्थियों के शामिल होने के बाद भी पद खाली रहेंगे। कक्षा दस की न्यूनतम योग्यता वाले पद के लिए ऐसा पेपर तैयार किया कि अनुमान से कहीं अधिक अभ्यर्थी फेल हो गए।

राज्य स्तर पर परीक्षा होने के बाद इन दिनों जिला स्तर पर शारीरिक दक्षता परीक्षा हो रही है। जैसे-जैसे दक्षता परीक्षा के परिणाम सामने आ रहे हैं, उससे साफ है कि कई पद खाली रह जाएंगे। सर्वाधिक खाली पद आरएसी और टीएसपी एरिया के लिए आरक्षित कोटे के रहेंगे।

गौरतलब है थ्क कांस्टेबल बनने के लिए लिखित परीक्षा में करीब १५ लाख अभ्यर्थियों ने भाग लिया था। खाली पद जिला व आरएसी की बटालियनों के स्तर पर बांटे गए थे। राज्य स्तर पर लिखित परीक्षा होने के बाद अन्य प्रक्रिया शाखा स्तर पर ही शुरू की गई है। नियमानुसार दक्षता परीक्षा में पद से पांच गुणा अभ्यर्थी आने थे।

कहने को परीक्षा का स्तर कक्षा १० का था लेकिन परिणाम कुछ और निकले। अधिकतर स्थानों पर पांच गुणा अभ्यर्थी पास ही नहीं हुए। प्रतापगढ़ जिले में 136 पदों के लिए हुई लिखित परीक्षा में पांच गुणा तो दूर, मात्र 129 ही पास हुए। आरएसी जेल सुरक्षा के 51 पदों के लिए मात्र 80 अभ्यर्थी ही पास हुए हैं। आरएसी की पांचवीं बटालियन में तो 48 पदों पर मात्र 37 अभ्यर्थी पास हुए हैं।

परीक्षा में पांच गुणा पास होने होते हैं लेकिन फेल होने वालों का प्रतिशत कुछ ज्यादा है। पद खाली रहने की स्थिति के बारे में अभी कुछ नहीं कह सकते। रिजल्ट घोषित होने के बाद जानकारी आएगी।
- प्रशाखा माथुर, आइजी, पुलिस भर्ती शाखा

प्रवेश पत्र अपलोड करने में हुई तकनीकी खामी
कांस्टेबल भर्ती परीक्षा-2018 की लिखित परीक्षा में पास हुए अभ्यर्थियों की शनिवार को जयपुर में आयोजित शारीरिक मापतौल और दक्षता परीक्षा में देरी से पहुंचने के कारण बीस से ज्यादा अभ्यर्थी परीक्षा से वंचित रह गए थे। इन अभ्यर्थियों का कहना है कि तकनीकी कारणों से प्रवेश पत्र समय से एसएसओ आईडी पर अपलोड नहीं हो सके। इस कारण उन्हें फिजिकल टेस्ट के समय की सही जानकारी समय पर नहीं मिल पाई।

Ad Block is Banned