SBI में स्पेशलिस्ट कैडर ऑफिसर के पदाें पर निकली वैकेंसी, करें आवेदन

SBI specialist officer cadre recruitment 2018, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने रेगुलर/कॉन्ट्रैक्चुअल बेसिस पर स्पेशलिस्ट कैडर ऑफिसर के 12 रिक्त पदाें पर

By: युवराज सिंह

Published: 27 May 2018, 12:49 PM IST

SBI specialist officer cadre recruitment 2018, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने रेगुलर/कॉन्ट्रैक्चुअल बेसिस पर स्पेशलिस्ट कैडर ऑफिसर के 12 रिक्त पदाें पर भर्ती के लिए आवेदन आमंति्रत किए हैं। इव्छुक व याेग्य उम्मीदवार 2 जून 2018 तक SBI के ऑफिशियल वेबसाइट से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन आैर अन्य जानकारी के लिए नीचे दिए गए अधिसूचना विवरण लिंक पर क्लिक करें।

स्पेशलिस्ट कैडर में एचआर स्पेशलिस्ट एवं बैंकिंग एडवाइजर जैसे पद शामिल हैं। SBI SO जॉब्स 2018 के लिए उम्मीदवारों का चयन योग्यता, अनुभव एवं इंटरव्यू में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया जायेगा।अधिसूचना में प्रकाशित कैडर ऑफिसर के पदों के लिए कॉन्ट्रैक्ट एक या दो वर्ष (कुछ पदों के लिए) का होगा जिसे बाद में बढ़ाया जा सकता हैं।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में रिक्त पदाें का विवरणः

रेगुलर पदः

एचआर स्पेशलिस्ट (रिक्रूटमेंट)- 1 पद

एचआर स्पेशलिस्ट (मैनपावर प्लानिंग)- 1 पद

इंटरनल कम्युनिकेशन स्पेशलिस्ट- 1 पद

इस नौकरी को पाने के लिए पढ़ें करेंट अफेयर्स

कॉन्ट्रैक्चुअल पदः

बैंकिंग सुपरवाइजर स्पेशलिस्ट (बीएसएस)- 3 पद

डिफेन्स बैंकिंग एडवाइजर (आर्मी)- 1 पद

डिफेन्स बैंकिंग एडवाइजर (पारा मिलिट्री फोर्स)- 1 पद

सर्किल डिफेन्स बैंकिंग एडवाइजर- 5 पद

 

आवेदन शुल्क:

600 रुपया

आवेदन कैसे करें:

योग्य उम्मीदवार SBI के ऑफिशियल वेबसाइट https://www.sbi.co.in से 2 जून 2018 तक या इससे पहले ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

महत्वपूर्ण तिथियाँ:

आवेदन शुरू होने की तिथि- 15 मई 2018

आवेदन की अंतिम तिथि- 2 जून 2018

SBI specialist officer cadre recruitment 2018, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने रेगुलर/कॉन्ट्रैक्चुअल बेसिस पर स्पेशलिस्ट कैडर ऑफिसर के 12 रिक्त पदाें पर भर्ती के लिए विस्तृत अधिसूचना यहां क्लिक करें।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) का परिचयः

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India / SBI) भारत की सबसे बड़ी एवं सबसे पुरानी बैंक है।2 जून 1806 को कलकत्ता में 'बैंक ऑफ़ कलकत्ता' की स्थापना हुई थी। तीन वर्षों के पश्चात इसको चार्टर मिला तथा इसका पुनर्गठन बैंक ऑफ़ बंगाल के रूप में 2 जनवरी 1809 को हुआ। यह अपने तरह का अनोखा बैंक था जो साझा स्टॉक पर ब्रिटिश भारत तथा बंगाल सरकार द्वारा चलाया जाता था। बैंक ऑफ़ बॉम्बे तथा बैंक ऑफ़ मद्रास की शुरुआत बाद में हुई।

Show More
युवराज सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned