बचा है 10 दिन का पानी, क्लोजर बढ़ा तो होगी किल्लत

बचा है 10  दिन का पानी, क्लोजर बढ़ा तो होगी किल्लत

Manish Panwar | Publish: Apr, 23 2018 01:09:15 AM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर लिफ्ट के नाल में २९ मार्च को शुरू हुए क्लोजर के बाद स्टोरेज के लिए बनाए गए पोंड में अब केवल दस दिन का ही पानी बचा है।

फलोदी. जोधपुर लिफ्ट के नाल में २९ मार्च को शुरू हुए क्लोजर के बाद स्टोरेज के लिए बनाए गए पोंड में अब केवल दस दिन का ही पानी बचा है। इतने ही दिन यानि २ मई तक क्लोजर और चलेगा। इस बीच मुख्य नहर इंदिरा नहर की मरम्मत और रखरखाव का काम पूरा न होने की संभावना है इस कारण क्लोजर और बढऩे का अंदेशा है। यदि क्लोजर नहीं बढ़ाया गया तो भी एक सप्ताह पानी पहुंचने में लगेगा, इस लिहाज से भी जोधपुर जिले के कई शहरों, कस्बों और सैकड़ों गांवों में जलापूर्ति बाधित रहेगी और यदि क्लोजर और बढ़ाया गया तो बड़ा जल संकट खड़ा हो जाएगा।

अतिरिक्त मुख्य अभियंता ने किया निरीक्षण-

इंदिरा गांधी मुख्य नहर में २९ मार्च से शुरू हुए क्लोजर के बाद नहरी जलापूर्ति तंत्र से जुड़े शहरों व गांवों में व्यवस्थाओं को सुचारू रखने के लिए पीएचईडी नहरी पानी पर पूरी चौकसी रखे हुए है। इसको लेकर जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, जोधपुर के अतिरिक्त मुख्य अभियंता जयसिंह चौधरी व परियोजना खण्ड, फलोदी के अधिशासी अभियंता रविन्द्र चौधरी ने शनिवार को इंदिरा गांधी मुख्य नहर के ११२१ आरडी से ६२० आरडी तक क्षेत्र का निरीक्षण किया तथा वहां अलग-अलग क्रॉस रेग्यूलेटर के बीच पॉन्डिंग में शेष पानी की जानकारी ली।

डिग्गियों में उपलब्ध है पानी-
पीएचईडी परियोजना खण्ड, फलोदी द्वारा बताया गया है कि जोधपुर लिफ्ट केनाल से जुड़ी पेयजल योजनाओं में अब तक सामान्य हालात है तथा नहर से सुचारू जलापूर्ति हो रही है। साथ ही फलोदी, घटोर, लुम्बानिया, आरडी ६७, आरडी १११ पर बनी डिग्गियों में पानी संग्रहित किया गया है। वहीं फलोदी शहर में जलापूर्ति के लिए शिवसर तालाब का पानी रिजर्वायर के रूप में उपलब्ध है।

क्या है पॉन्डिंग-

मुख्य नहर में पानी के स्तर पर नियंत्रण के लिए अलग-अलग जगहों पर क्रॉस रेग्युलेटर (गेट) लगा रखे हैं। मुख्य नहर में ९६१, ८६०, ७५०, ६२०, ५६० व ४१५ के बीच क्रॉस रेग्यूलेटर है। किसी भी दो क्रॉस रेग्युलेटर के बीच का क्षेत्र पॉन्ड व यहां संग्रहित किए गए पानी को ही पॉन्डिंग कहा जाता है। (निसं)
क्लोजर बढ़ाने को लेकर अभी कुछ साफ नहीं-

मुख्य नहर का निरीक्षण किया गया है तथा क्लोजर के निर्धारित समय तक के लिए पॉन्डिंग में पर्याप्त पानी है। मुख्य नहर में क्लोजर का समय बढ़ाने को लेकर बात हुई थी, जिसमें पीएचईडी की ओर से क्लोजर बढ़ाने के लिए कोई भी गुजांइश नहीं बताई गई है। मुख्य नहर में क्लोजर बढ़ाने के लिए अभी स्थिति साफ नहीं है और इसकी अधिकारिक घोषणा आईजीएनपी द्वारा ही की जाएगी।
जयङ्क्षसह चौधरी, अतिरिक्त मुख्य अभियंता, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, जोधपुर

नहरी पानी सप्लाई की फैक्ट फाइल-
* २९ मार्च को मुख्य नहर में था ५६३ एमसीएफटी पानी

* २१ मार्च तक मुख्य नहर की पॉन्डिंग में था २६४ एमसीएफटी पानी

* मुख्य नहर से प्रतिदिन जोधपुर लिफ्ट केनाल को मिल रहा है करीब २५० क्यूसेक पानी
* जोधपुर लिफ्ट केनाल को प्रतिदिन आवश्यकता होती है २० एमसीएफटी पानी की

* मुख्य नहर करीब १० दिन तक दे सकती है पानी
* फिलहाल २ मई तक निर्धारित है क्लोजर

* जोधपुर लिफ्ट केनाल से जुड़े है कई बड़े कस्बे व एक हजार से ज्यादा गांव

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned