script10101 | कोविड के बाद बदला आयुर्वेद, वैश्विक स्तर पर धमक, लंदन-जर्मनी में भारतीय औषधी का परीक्षण | Patrika News

कोविड के बाद बदला आयुर्वेद, वैश्विक स्तर पर धमक, लंदन-जर्मनी में भारतीय औषधी का परीक्षण

जोधपुर. कोरोना के बाद जहां काढ़ा घर-घर पहुंचा, वहीं भारतीय आयुर्वेद पद्धति की धमक वैश्विक स्तर तक पहुंच गई है। ब्रिटेन और जर्मनी में अश्वगंधा और गिलाय से बनी औषधियों का परीक्षण कोविड मरीजों पर किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण से लडऩे में आयुर्वेद औषधियों व वनस्पतियों से उपचार को लेकर गठित उच्च स्तरीय समिति की सिफारिशों के बाद देश में 138 अनुसंधान अध्ययन शुरू कर दिए गए हैं।

जोधपुर

Published: January 10, 2022 09:54:10 am

- देश में आयुर्वेद पर शुरू 138 शोध परियोजनाएं
- विभिन्न देशों के साथ 33 समझौते
- एक वर्ष में आयुर्वेद दवा निर्माण की 593 नई कम्पनियों को लाइसेंस

सिकन्दर पारीक
जोधपुर. कोरोना के बाद जहां काढ़ा घर-घर पहुंचा, वहीं भारतीय आयुर्वेद पद्धति की धमक वैश्विक स्तर तक पहुंच गई है। ब्रिटेन और जर्मनी में अश्वगंधा और गिलाय से बनी औषधियों का परीक्षण कोविड मरीजों पर किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण से लडऩे में आयुर्वेद औषधियों व वनस्पतियों से उपचार को लेकर गठित उच्च स्तरीय समिति की सिफारिशों के बाद देश में 138 अनुसंधान अध्ययन शुरू कर दिए गए हैं। कोरोना से बचाव को लेकर आमजन व चिकित्सकों के लिए अलग-अलग एडवाइजरी जारी की गई है।
कोविड के बाद बदला आयुर्वेद, वैश्विक स्तर पर धमक, लंदन-जर्मनी में भारतीय औषधी का परीक्षण
कोविड के बाद बदला आयुर्वेद, वैश्विक स्तर पर धमक, लंदन-जर्मनी में भारतीय औषधी का परीक्षण
हल्के से मध्यम लक्षण वाले कोविड मरीजों पर आयुर्वेदीय विज्ञान अनुसंधान की ओर से विकसित औषधियों का प्रयोग सफल माना गया है। इससे 63265 रोगी लाभान्वित हुए। केन्द्र के आयुष संजीवनी मोबाइल एप पर 1.35 करोड़ प्रतिभागियों में से 89.8 प्रतिशत ने कोविड से लडऩे में आयुर्वेद से लाभ पर सहमति जताई।

ब्रिटेन में अश्वगंधा का परीक्षण
अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान दिल्ली की ओर से लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन के साथ ब्रिटेन के तीन शहरों लीसेस्टर, बर्मिघम और लंदन में कोराना प्रभावित 2000 लोगों पर अश्वगंधा का प्रभाव जानने के लिए परीक्षण किया जा रहा है। इसी तरह कोविड संक्रमण से लडऩे में गिलोय से बनी गोलियों के अनुसंधान को लेकर जर्मनी के साथ करार किया गया है।

देश से लेकर विदेश में शोध शुरू
कोविड के बाद देश में आयुष अनुसंधाान एवं विकास कार्यदल का गठन किया गया। इसमें एम्स, आइसीएमआर, सीएसआइआर और आयुष संस्थाओं के वैज्ञानिक प्रतिनिधियों को शामिल कर कोरोना पॉजीटिव मामलों में अश्वगंधा, यष्टिमधु, गुडुची, पिप्पली, पॉली हर्बल औषध योग का अध्ययन किया। कार्यदल की सिफारिश के बाद आयुष उपचारों पर देश में 138 अनुसंधान अध्ययन शुरू किए गए। पारम्परिक चिकित्सा के अनुसंधान को लेकर संयुक्त राज्य अमरीका, जर्मनी, मलेशिया, बा्रजील और ब्रिटेन सहित विभिन्न देशों के 33 विवि व संस्थानों के साथ करार किया गया।
एक वर्ष में आश्चर्यजनक बदलाव
- वर्ष 2020-21 में आयुर्वेद दवा निर्माण की 593 नई कम्पनियों को लाइसेंस दिए गए।
- आयुष कारोबार में 5 से 6 प्रतिशत की सालान वृद्धि दर्ज की गई है।
- आयुष उपचारों पर शोध के लिए वर्ष 2020-21 में 264.16 करोड़ खर्च
- कोविड से लडऩे देश में 66045 कार्मिक और 33 हजार आयुष मास्टर प्रशिक्षित
- आयुष पाठ्यक्रमों की पढ़ाई के लिए 101 देशों के पात्र विदेशियों को छात्रवृत्ति
- आयुष और हर्बल औषधियों का निर्यात बढकऱ 1.54 बिलयन अमरीकी डॉलर
- देश में 932301 वृद्धों को निशुल्क आयुर्वेद औषधी वितरित, इसमें राजस्थान के 52998 वृद्ध शामिल
- 2021-22 से वर्ष 25-26 तक के लिए आयुष औषधी गुणवत्ता योजना शुरू
- नर्सरी से लेकर 12वीं तक आयुर्वेद व योग आधारित पाठ्यक्रम का खाका तैयार

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

विश्व के सबसे लोकप्रिय नेता बने PM Modi, ग्लोबल सर्वे में बाइडेन और ट्रूडो जैसे दिग्गजों को पछाड़ाCorona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरदिल्ली में घटते कोरोना मामलों के बीच वीकेंड कर्फ्यू हटाने का फैसला, CM अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल को भेजा पत्र50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्करPariksha Pe Charcha 2022: छात्र, शिक्षक अब 27 जनवरी तक कर सकते हैं आवेदनबोर्ड का नया कदम, परीक्षा के पहले भी होगा परीक्षार्थियों का टेस्टआज जारी होगा कांग्रेस का घोषणा पत्र, युवाओं के लिए होंगे कई वादे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.