विदेश से और आएंगी 102 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनें

-नागौर व खींचन तक पहुंची प्रवासियों की मदद से आई प्राण वायु

 

By: Avinash Kewaliya

Published: 11 May 2021, 11:35 PM IST

जोधपुर. कोरोना की जद में आए मारवाड़ के लोगों को सात समंदर पार से मदद पहुंचाने में जुटे प्रवासियों की मुहीम का प्रतिफल अब गांव-गांव तक पहुंचने लगा है। कोरोना पीडि़तों को ऑक्सीजन उपलब्ध करवाने के लिए जयपुर फुट यूएसए के प्रयासों से आई मशीनें मंगलवार को जिले के खींचन गांव और नागौर जिले तक पहुंचाई गई। अब 102 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनें बुधवार को और आ रही है। इनमें से 50 मशीनें जयपुर में सेवा भारती के जरिए वितरित करवाई जाएगी।

जयपुर फुट यूएसए के चेयरमैन प्रेम भंडारी के अनुसार जोधपुर व आसपास के इलाकों में मशीनों का वितरण जोधपुर के वडेर चैरिटेबल ट्रस्ट के जरिए करवाया जा रहा है। अब तक पहुंची मशीनों में से मंगलवार को दो मशीनें फलोदी के पास खीचन के कलापूर्णम जनरल हॉस्पिटल को उपलब्ध करवाई गई, जबकि दो मशीनें नागौर जिला कलक्टर को सुपुर्द की गई। जोधपुर के विभिन्न संस्थानों व कोरोना मरीजों के लिए भी सात मशीनें मुहैया करवाई गई हैं।
छोटे गांव को बड़ी राहत

खीचन वैसे तो छोटा गांव है, लेकिन इसमें कलापूर्णम अस्पताल खीचन के मूल निवासी अमरीका के ख्यातनाम चिकित्सक डॉ. सुभाष जैन ने करवाया है। डॉ. जैन अमरीका स्थित विश्व प्रसिद्ध कैंसर अस्पताल स्लोन कैटैरिंग, कॉर्नल यूनिवर्सिटी तथा इंस्टीट्यूट ऑफ पैन एंड पैलविक केयर से जुड़े हैं। भंडारी के अनुसार पूर्व राष्ट्रपति डॉ. नीलम संजीव रेड्डी व शंकरदयाल शर्मा व पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टीएन शेषन के अलावा प्रख्यात अभिनेता राजकपूर व नर्गिस दत्त का इलाज कर चुके डॉ. जैन के विशेष अनुरोध पर खीचन तक भी मशीनें भेजी गई है। आने वाले दिनों में और भी छोटे-मोटे गांवों तक राहत पहुंचाने का क्रम जारी रहेगा।

COVID-19 COVID-19 virus
Show More
Avinash Kewaliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned