स्कूलों में लौटेगी रौनक: 18 को खुलेंगे जोधपुर के 14 सौ स्कूल, पढऩे आएंगे 4 लाख से अधिक विद्यार्थी

 

 

कक्षा 9वीं से 12वीं तक के लिए खुलेगा स्कूल

जोधपुर में कुल राजकीय माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूल 690

कुल निजी माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूुल 719

कुल कोचिंग सेंटर 250

कुल अध्ययनत चार लाख से अधिक विद्यार्थी

By: Abhishek Bissa

Published: 09 Jan 2021, 09:26 PM IST

जोधपुर. कोरोनाकाल के 10 माह बाद जोधपुर के विद्यालयों में 18 जनवरी को फिर से रौनक लौटेगी। कोरोना गाइडलाइन के तहत ही स्कूलों को खोला जाएगा। जोधपुर में कुल निजी व सरकारी मिलाकर 1409 स्कूलों में 4 लाख से अधिक विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्थाओं को लेकर शहर के कई शिक्षण संस्थाओं ने तैयारियां भी शुरू कर दी है।

डीईओ माध्यमिक मुख्यालय डॉ. भल्लूराम खिचड़ ने बताया कि सरकारी माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों की संख्या जोधपुर में 690 हैं। कुल निजी माध्यमिक सेटअप के विद्यालय 719 हैं। इसके अलावा कई नई स्कूलों ने भी मान्यता ली है। जो भी अब संचालित होगी। जबकि सरकारी स्कूलों में 2 लाख 37 हजार 9 सौ 54 विद्यार्थी है। करीब इतने ही विद्यार्थी निजी विद्यालयों में अध्ययनरत हैं।

मास्क होगा अनिवार्य और रखी जाएगी सोशल डिस्टेंसिंग

शिक्षा विभाग फिलहाल कक्षा 9 से 12वीं तक के विद्यार्थियों को बुलाएगा। ऐसे में विभिन्न कक्षओं में बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही बैठाया जाएगा। सभी विद्यार्थियों, शिक्षकों व अन्य स्टाफ के लिए मास्क अनिवार्य रहेगा। कक्षा दसवीं-बारहवीं के विद्यार्थियों का समय सुबह 9.़30 से दोपहर 3:30 तक रहेगा। वहीं कक्षा 9वीं व 11वीं के बच्चों का समय सुबह 10 से दोपहर 4 बजे तक रहेगा। समय का अंतर भी शिक्षा विभाग ने सोशल डिस्टेंसिंग को बरकरार रखने के लिहाज से किया है। शिक्षाधिकारियों को लगातार स्कूल खोलने को लेकर राज्य सरकार से दिशा-निर्देश भी मिल रहे हैं।

सेनिटाइजेशन के रहेंगे इंतजाम, कुल 15 हजार शिक्षक करवाएंगे पढ़ाई
स्कूलों में शिक्षा विभाग सेनिटाइजेशन के इंतजाम भी रखेगा। स्कूल आते ही विद्यार्थियों के हाथ भी सेनिटाइज करवाए जाएंगे। निजी व सरकारी दोनों में कुल 15 हजार शिक्षक भी बच्चों को पढ़ाते नजर आएंगे। शिक्षा विभाग ने इसको लेकर संपूर्ण तैयारियां भी पूरी कर ली है।

250 कोचिंग सेंटर भी खुलेंगे

जोधपुर में कुल 250 कोचिंग सेंटर भी कोरोनाकाल के बाद अब खुलेंगे। जोधपुर शहर में लगभग 50 बड़े स्तर के कोचिंग सेंटर है। इसके अलावा छोटे-बड़े अन्य दो सौ कोचिंग सेंटर है, जो विभिन्न इलाकों में संचालित है।

Abhishek Bissa Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned