script25 thousand youth of the state are waiting to go to the border | बॉर्डर पर जाने का प्रदेश के 25 हजार युवाओं को इंतजार | Patrika News

बॉर्डर पर जाने का प्रदेश के 25 हजार युवाओं को इंतजार

- उदयपुर, अलवर और अजमेर में हुई सेना भर्ती रैली की लिखित परीक्षा अब तक नहीं, उदयपुर की 3 बार स्थगित
- कोविड-19 में आईएएस से लेकर कांस्टेबल तक की हो चुकी है परीक्षा

जोधपुर

Published: December 07, 2021 07:02:13 pm

गजेन्द्र सिंह दहिया/जोधपुर. प्रदेश के 25 जिलों के करीब 25 हजार युवा देश सेवा के लिए सेना में भर्ती होने का इंतजार कर रहे हैं। उदयपुर में इस साल फरवरी में सेना भर्ती रैली हुई। तीन बार लिखित परीक्षा की तिथि घोषित हुई। तीनों ही बार कोविड-19 की वजह से परीक्षा टाल दी गई। अलवर में अप्रेल और अजमेर में जुलाई में सेना भर्ती रैली हुई। सूत्रों के मुताबिक राजस्थान सहित देश के अधिकांश हिस्सों में सेना भर्ती पर अस्थाई रोक लगी हुई है। संभवत: भर्ती प्रक्रिया और भर्ती नियमों में सरकार कुछ बदलाव की तैयारी कर रही है। हालांकि दौड़, शारीरिक परीक्षण और मेडिकल परीक्षण में सफल हुए युवा अब जल्द से जल्द लिखित परीक्षा देकर देश सेवा करना चाहते हैं लेकिन उनका इंतजार लंबा ही खिंच रहा है। जहां तक कोविड-19 का प्रश्न है प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर के बाद आईएएस से लेकर कांस्टेबल भर्ती सहित स्कूल व कॉलेजों की तमाम परीक्षाएं हुई है। यहां तक की सबसे बड़ी रीट परीक्षा भी हुई, जिसमें 16 लाख अभ्यर्थी बैठे थे।
बॉर्डर पर जाने का प्रदेश के 25 हजार युवाओं को इंतजार
बॉर्डर पर जाने का प्रदेश के 25 हजार युवाओं को इंतजार
कब-कहां हुई सेना भर्ती रैलियां
- उदयपुर में 11 जिलों नागौर, जोधपुर, बाड़मेर, पाली, जैसलमेर, उदयपुर, जालौर, सिरोही, प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, डूंगरपुर जिलों के अभ्यर्थियों की सेना भर्ती रैली का आयोजन 8 से 28 फरवरी को किया गया।
- अलवर में 20 अप्रैल से शुरू हुई सेना भर्ती रैली में अलवर, भरतपुर, सवाई माधोपुर, करौली, धौलपुर और दौसा जिले के अभ्यर्थी शामिल हुए।

- अजमेर में 11 जुलाई से 7 अगस्त तक हुई सेना भर्ती रैली में अजमेर, बारां, बूंदी, चित्तौडगढ़़, भीलवाड़ा, झालावाड़, कोटा और राजसमंद के अभ्यर्थी शामिल हुए।
- तीनों स्थानों पर सैनिक सामान्य ड्यूटी, सैनिक ट्रेड्समैन, सैनिक तकनीकी पद के लिए हुई सेना भर्ती रैली शारीरिक परीक्षण और चिकित्सकीय परीक्षण के बाद उत्तीर्ण हुए अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा देनी है। लिखित परीक्षा देने के बाद में सेना में भर्ती हो जाएंगे।

- 1.80 लाख अभ्यर्थी शामिल हुए तीनों सेना भर्ती रैलियों में
- 30 हजार से अधिक सर्वाधिक अभ्यर्थी अलवर जिले के थे
- 22 हजार अभ्यर्थी नागौर जिले से थे
- 1000 से कम अभ्यर्थी प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, बारां जिलों के थे
- 25 हजार युवाओं को अब देनी है लिखित परीक्षा
........................
‘सेना भर्ती परीक्षा के संबंध में निर्णय दिल्ली स्थित मुख्यालय करता है। जैसे ही परीक्षा की तिथि आएगी, अभ्यर्थियों को सूचित कर दिया जाएगा।’
लेफ्टिनेंट कर्नल अमिताभ शर्मा, पीआरओ, रक्षा मंत्रालय जयपुर

.................
‘परीक्षा की तिथि कभी भी घोषित हो सकती है। युवाओं को अपनी तैयारी रखनी है ताकि एनवक्त पर उन्हें दिक्कत नहीं हो।’
केप्टन अतुल सिंह, शौर्य एकेडमी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.