script70 Girls-Women colored a field in 6 hours | सत्तर महिलाओ की छह घंटे मेहनत से खिलने लगा खेत | Patrika News

सत्तर महिलाओ की छह घंटे मेहनत से खिलने लगा खेत

लगभग सत्तर महिलाओं और छात्राएं रंग लेकर उतरी तो मात्र छह घंटे की मेहनत में एक सूना खेत भी राजस्थान के अनूठे रंगों से खिलखिलाने लगा। खेत में बने आकर्षक मांडणों और रंगोली के रंग ऐसे बिखरे की इसकी खुश्बू कुछ ही पलों में पूरे गांव में फैल गई। महिलाओं ने आजादी का अमृत महोत्सव पर आयोजित एक कार्यक्रम में यह कारनामा कर दिखाया जोधपुर की धवा पंचायत समिति के एक गांव में । इसकी पूरे इलाके में चर्चा हो रही है। ग्रामीण क्षेत्र के एक खेत में अद्भुत रंगोली का नजारा सोशल मीडिया पर जमकर ट्रेंड हो रहा है।

जोधपुर

Published: January 15, 2022 09:01:37 pm

जोधपुर। आजादी के 75 साल पूरे होने पर मनाए जा रहे अमृत महोत्सव में जोधपुर की धवा पंचायत समिति के बड़लानगर गांव में शनिवार को अनोखा नजारा देखने को मिला।गांव की 70 महिलाओं व छात्राओं ने रंगोली से खेतों में ऐसे रंग भरे कि देखते ही देखते सूना खेत राजस्थान के अनूठे रंगों से सराबोर हो गया। इन महिलाओं ने करीब छह घंटे तक मेहनत कर खेत में 70 मांडणे और रंगोलियां बनाकर इसमें राजस्थानी संस्कृति के रंग भर दिए। ग्रामीण महिलाओं की मेहनत को देखने आसपास के सैकड़ों ग्रामीण भी पहुंचे।
दरअसल बड़लानगर गांव में आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने पर चल रहे अमृत महोत्सव कार्यक्रम में प्रशासनिक अधिकारियों ने ऑन द स्पॉट रंगोली प्रतियोगिता करवा दी। एक खेत में रंगोली बनाने को कहा गया। इसमें एकाएक गांव की 70 महिलाएं जुट गई और खेत की जमीन पर साकार कर दिखाई राजस्थान की संस्कृति। इस दौरान गांव में मेले जैसा माहौल बन गया। महिलाओं ने छह घंटे में एक के बाद एक 70 रंगोली व मांडणे बनाकर राजस्थान की विरासत को जमीन पर उतार दिया आईटीआरएसडी बाड़मेर अध्याय के यशोवर्धन शांडिल्य ने इस मौके कहा कि खत्म होती जा रही राजस्थान की मांडणा कला के संरक्षण के लिए यह प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमें महिलाओं ने उत्साह के साथ भाग लिया।
सत्तर महिलाओ की छह घंटे मेहनत से खिलने लगा खेत
जोधपुर जिले की धवा पंचायत के बड़लानगर गांव में रंगोली सजाती महिलाएं
गोबर से जमीन लीपकर बनाई रंगोली
प्रतियोगिता के दौरान महिलाओं ने पहले आसपास से गोबर इकट्ठा कर खेत में गोलाकार विशाल आंगन तैयार किया। फिर उसमें रंगोली से रंग भरे। देखते ही देखते खेत में राजस्थान की संस्कृति व विरासत की झलक खिलखिला उठी।
सांस्कृतिक मंत्रालय ने किया पुरस्कृत
गांव में अमृत महोत्सव का आयोजन सांस्कृतिक मंत्रालय व पश्चिमी क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र, उदयपुर के संयुक्त तत्वावधान में किया गया था। इस अनोखी प्रतियोगिता में रंगोली बनाने पर प्रथम पुरस्कार रेखा पटेल को मिला तो दूसरा पुरस्कार मोहनी देवी ने हासिल किया।
बुजुर्गों में भी दिखा क्रेज

प्रतियोगिता में गांव के पंच कहे जाने वाले सफेद साफे वाले बुजुर्गों में भी महिलाओं के साथ साथ रंगोली-मांडणा बनाने के प्रति उत्साह नजर आया। प्रतियोगिता में सरपंच शांति देवी, जगदीश पूनिया, नरेश पटेल ,तेजाराम, शिवराज पटेल, अनिल पटेल, बाबु पटेल ,विमला देवी , सुआ देवी ने सहयोग किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

विराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावPunjab Assembly Election: कांग्रेस ने जारी की 86 उम्मीदवारों की पहली सूची, चमकोर से चन्नी, अमृतसर पूर्व से सिद्धू मैदान मेंबेमिसाल करियर, हैरान कर देने वाला है विराट कोहली का टेस्ट कप्तानी रिकॉर्डYouTube ला रहा नया फीचर: अब बिना बिना डाटा के हर सप्ताह खुद डाउनलोड होंगे 20 वीडियोSBI ने बढ़ाई फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दर, जानिए क्या है नई दरें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.