तस्कर का पीछा करने के दौरान पुलिस की चेतक हुइ ग्रामीण की मृत्यु पर बाजार बंद और ग्रामीणों का प्रदर्शन..

KR Mundiyar

Publish: Sep, 17 2017 05:10:18 (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India
तस्कर का पीछा करने के दौरान पुलिस की चेतक हुइ ग्रामीण की मृत्यु पर बाजार बंद और ग्रामीणों का प्रदर्शन..

- तस्कर का पीछा करने के दौरान चेतक के ट्रैक्टर थ्रेसर से टकराने के बाद ग्रामीण की मौत प्रकरण - मांगों पर आश्वासन के बाद पोस्टमार्टम कर शव गांव ले गए

 जोधपुर/धुंधाड़ा.तस्कर की बोलेरो का पीछा करने के दौरान धुंधाड़ा कस्बे में केबीएचबी थाने की चेतक (फ्लाइंग) की ट्रैक्टर थ्रेसर से टक्कर में ग्रामीण की मौत को लेकर शनिवार को धुंधाड़ा में ग्रामीणों ने पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन कर धरना दिया। आश्रित को राज्य सरकार से मुआवजा व सरकारी नौकरी दिलाने के आश्वासन पर सहमति बनने के बाद परिजन व ग्रामीणों ने अंतिम संस्कार के लिए शव उठाया। उधर, लूनी थाने में चेतक चालक के खिलाफ शुक्रवार देर रात लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाने से मृत्यु कारित करने का मामला दर्ज किया गया है।


सहायक पुलिस आयुक्त (बोरानाडा) सिमरथाराम ने बताया कि केबीएचबी थाने की चेतक की धुंधाड़ा में ट्रैक्टर थ्रेसर से टक्कर में नजदीक स्थित रामपुरा निवासी डूंगरराम पटेल की मौत हो गई थी। इसके विरोध में कस्बे में बाजार बंद रहे। ग्रामीणों ने घटनास्थल पर गांव से निकलने वाले मार्ग पर टायर जलाकर जाम लगाया।

 

एेहतियात के तौर पर सुबह से पुलिस व आरएसी तैनात कर दी गई थी। परिजन व ग्रामीण घटनास्थल के पास ही धरने पर बैठ गए। उन्होंने मृतक के आश्रित को दस लाख रुपए, सरकारी नौकरी व चालक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की।

  


लूनी विधायक जोगाराम पटेल व बाड़मेर

जिले में सिवाणा विधायक हमीर सिंह भायल ने ग्रामीणों से बात कर गतिरोध दूर करने का प्रयास किया। लूनी एसडीएम अयूब खां, तहसीलदार शैतानसिंह राजपुरोहित व एसीपी सिमरथाराम ने समझाइश की। एडीएम मानाराम पटेल ने एसडीएम से मोबाइल पर बातचीत की। प्रतिनिधिमण्डल से बातचीत के बाद रामपुरा सरपंच के प्रतिनिधि धीरेन्द्रसिंह ने ग्रामीणों को मांगों पर सहमति बनने और धरना समाप्त करने की जानकारी दी। उन्होंने मृतक के आश्रित को सरकारी योजनाओं से १३ से १५ लाख रुपए दिलाने व मृतक के बच्चों को सरकार की ओर नि:शुल्क शिक्षा दिलाने का आश्वासन दिया। पुलिस चेतक के चालक के खिलाफ मामला दर्ज होने की जानकारी भी दी। तब परिजन शव लेने को राजी हुए। बाद में मथुरादास माथुर अस्पताल की मोर्चरी में डूंगरराम के शव का पोस्टमार्टम कराया गया। धरने में व्यापारी संघ के अध्यक्ष रमेश चन्द्र, अजयसिंह, अजय चौधरी आदि मौजूद थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned