आसाराम खुद बंदी, बंदियों को जल्द छूटने के मंत्र बताए

जोधपुर जेल में बंद आसाराम पांच साल से कैदियों से कह रहे थे, बस किसी तरह जेल से छूट जाऊं

By: M I Zahir

Published: 25 Apr 2018, 06:00 AM IST

Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर . शहर के मणाई आश्रम में एक नाबालिग से यौन दुराचार के आरोप में गिरफ्तार आसाराम पिछले पांच बरसों से केंद्रीय कारागृह के बंदियों को जेल से जल्द छूटने के मंत्र बताता रहा है। यह क्रम उसकी गिरफ्तारी के बाद से ही जारी रहा। तब से आसाराम जब किसी बंदी से मिलता तो उसे अलग-अलग अपराध के लिए अलग-अलग मंत्र का जाप करने की सलाह देता था।

कमरे से बाहर नहीं आता था

आसाराम ने सितंबर 2013 में सेट्रल जेल के कैदियों से बातचीत के दौरान बार-बार यही कहा था कि बस किसी तरह जेल से छूट जाऊं। आसाराम उन दिनों अपने कमरे में ही रहता और अगर कोई उससे मिलने आता तो मिल लेता, लेकिन कमरे से बाहर नहीं आता था। वह रोज सुबह जल्दी उठ कर पूजा पाठ करता और उसके बाद दूध दलिया का सेवन करता।

मिले थे मनन, दिया था छुड़वाने का आश्वासन
आसाराम की पैरवी करने के लिए कई जाने माने वकील आए। इनमें राम जेठमलानी भी शामिल रहे। सुप्रीम कोर्ट के वकील के के मनन और टीम से जुडे़ वकीलों ने नाबालिग लड़की से यौन दुराचार के आरोप में गिरफ्तार आसाराम से 10 सितंबर 2013 की शाम सेंट्रल जेल में मुलाकात कर उसे जेल से जल्द छुड़वाने का आश्वासन दिया था। मनन और साथी वकीलों ने जेल ऑफिस में आसाराम से मुलाकात की थी। मनन ने उससे कहा था कि निगोसिएशन कर उसे जल्द ही जेल से बाहर ले आएंगे। तब मंगलवार 10 सितंबर 2013 को बंदियों के मुलाकातियों से मिलने का दिन था।
--

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned