LIVE: फैसले से पहले जेल के बाहर फूलमाला लेकर पहुंचा आसाराम का ये समर्थक, पुलिस-प्रशासन में हड़कंप

सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त के बावजूद एक समर्थक सेन्ट्रल जेल पहुंच गया और प्रतीक्षालय मैं आसाराम की फोटो पर फूल माला चढ़ाने लगा

By: nakul

Published: 25 Apr 2018, 08:47 AM IST

जोधपुर।

नाबालिग से यौन शोषण के मामले में आसाराम पर आने वाले फैसले के बीच जेल परिसर छावनी में तब्दील रहा। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किये गए। इस बीच उस समय हड़कंप की स्थिति बन गई जब आसाराम का एक समर्थक हाथों में माला लेकर वहां पहुंच गया। जैसे ही पुलिस को इस बारे में पता चला समर्थक को हिरासत में ले लिया गया। लेकिन इस दौरान मौके पर एकबारगी अफरा-तफरी की स्थिति बन गई।

 

जानकारी के मुताबिक़ आसाराम का एक समर्थक जेल के पास माला लेकर पहुंचा। इसकी सूचना पुलिस को लग गई। सुरक्षा में तैनात जवानों ने समर्थक की तलाशी ली तो उसके पास से फूलों की माला मिली। जिसके बाद उसे हिरासत में ले लिया गया। गौरतलब है कि पूरे जोधपुर शहर में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिहाज़ से सुरक्षा कड़ी की हुई है और हज़ारों की संख्या में पुलिस के जवान तैनात किये गए हैं। एहतियातन शहर में धारा 144 लागू की गई है। इससे पहले जोधपुर रेलवे स्टेशन के बाहर से आसाराम के 4 समर्थकों को पुलिस ने हिरासत में लिया जिसमें महिला भी शामिल है। इन सभी का गुजरात से आना बताया जा रहा है।

 


ये किये गए सुरक्षा बंदोबस्त
आसाराम पर दुष्कर्म मामले में फैसले के मद्देनजर आसाराम के समर्थकों की ओर से शांति व्यवस्था भंग करने या किसी तरह के उपद्रव की आशंका को देखते हुए पुलिस बेहद सावधान और सचेत है। जोधपुर शहर में निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है और आसाराम के आश्रम को खाली करा लिया गया है। वहीं, जयपुर से छह अतिरिक्त कंपनियां जोधपुर तैनात की गई हैं।

 

एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) एनआरके रेड्डी ने बताया कि आसाराम पर लगे आरोप में फैसला आना है। इसके लिए प्रदेश में जहां आसाराम के आश्रम हैं, उस इलाके के एसपी को जांच करने और भीड़ इकट्ठी नहीं होने देने के निर्देश दे रखे हैं। इसके अलावा छह अतिरिक्त आरएएसी समेत दूसरी कंपनियां जोधपुर में लगाई गई हैं। पूरे कमिश्नरेट में धारा 144 यानि निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। फैसला आने के बाद रिव्यू करेंगे कि सुरक्षा कब तक बरकरार रहेगी।

कराए आश्रम खाली, सभी पर निगरानी
एडीजी रेड्डी ने बताया कि जोधपुर और आसपास बने आसाराम के आश्रम खाली करा लिए गए हैं। वहीं होटल, धर्मशालाओं में सघन जांच के साथ संदिग्ध लोगों की पहचान की जा रही है। वाहनों की भी सघन जांच की जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned