आसाराम की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में कराया गया भर्ती

- आसाराम एमडीएम के सीसीयू में भर्ती
- जोधपुर के एमजीएच में देर रात लाया गया इलाज के लिए
- नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के आरोप में जोधपुर सेंट्रल जेल में काट रहा सजा

By: Abhishek Bissa

Updated: 17 Feb 2021, 08:06 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर. नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद आसाराम को मंगलवार रात को जोधपुर सेंट्रल जेल से महात्मा गांधी अस्पताल लाया गया। आसाराम ने सीने में दर्द की शिकायत बताई। अस्पताल अधीक्षक डॉ. राजश्री बेहरा ने बताया कि अस्पताल में आसाराम की इसीजी की गई और चेस्ट एक्सरे किया गया। हालांकि रिपोर्ट नॉर्मल आई। आसाराम ने यहां चिकित्सकों को प्रोस्टेट, सांस भरने व घुटने में दर्द की शिकायत भी बताई।

जिसके बाद एमडीएम अस्पताल से कार्डियोलॉजी व यूरोलॉजी के चिकित्सकों को भी कॉल किया गया। इस बीच आसाराम के समर्थक भी एमजीएच के बाहर इकट्टा हो गए, जिन्हें पुलिस ने नियंत्रण में रखा। आसाराम को यहां मीडिया ने तकलीफ के बारे में पूछा तो उन्होंने खुद को सांस में तकलीफ, प्रोस्टेट व घुटने में दर्द ही बताया। साथ ही कहा कि उन्हें सात तरह की बीमारियां हैं। रात में एक घंटे से अधिक समय तक आसाराम एमजीएच में ही थे।

आसाराम को रात में एमडीएम के सीसीयू में किया भर्ती
आसाराम के लिए रात को एमजीएच से ऑन कॉल एमडीएम से कार्डियोलॉजी से डॉ. पंकज व यूरोलॉजी से डॉ. अनुराग यादव को बुलाया गया। रात में कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. संजीव सांघवी, डॉ. रोहित माथुर व डॉ. पवन सारडा से बातचीत के बाद आसाराम को एमडीएम के सीसीयू में भर्ती कराया गया। हालांकि आसाराम की इसीजी रिपोर्ट नेगेटिव थी, लेकिन ब्लड रिपोर्ट व चेस्ट दर्द की शिकायत के कारण एमडीएम अस्पताल के सीसीयू में भर्ती कराया गया। क्योंकि एमजीएच में कार्डियोलॉजी विभाग नहीं है। आसाराम के आने की सूचना के बाद एमडीएम अस्पताल अधीक्षक डॉ. महेन्द्र आसेरी ने भी अस्पताल में व्यवस्थाएं करवाई।


सीटी स्कैन कक्ष में पुलिस वालों से आसाराम ने गप्पे लगाई, बोले- रामायण- गीता पाठ पढ़ा करो

आसाराम ने एमजीएच के सीटी स्कैन कक्ष में खासी देर तक सेंट्रल जेल की पुलिस के साथ गप्पे लगाई। सेंट्रल जेलकर्मियों को नसीहत दी कि वे रामायण-गीता का पाठ पढ़ा करें। इस बीच सेंट्रल जेल सुरक्षाकर्मियों ने आसाराम से कहा कि वे खुद रामायण-गीता का अनुसरण क्यों नहीं करते। आसाराम की बातों पर सेंट्रल जेल सुरक्षाकर्मी भी खूब ठहाके लगाते नजर आए।

अस्पताल के बाहर बड़ी संख्या में मौजूद रहे समर्थक
आसाराम को अस्पताल लाए जाने की सूचना के साथ बड़ी संख्या में एमजीएच के बाहर समर्थक इकट्टा हो गए। कई समर्थक एमडीएम ले जाने की सूचना के साथ वहां भी पहुंच गए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned