पुष्य नक्षत्र पर आज देर रात तक करें खरीदारी, सर्वार्थ सिद्धि महायोग में ये हैं श्रेष्ठ मुहूर्त

Nandkishor Sarswat

Publish: Oct, 13 2017 09:46:07 (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India
पुष्य नक्षत्र पर आज देर रात तक करें खरीदारी, सर्वार्थ सिद्धि महायोग में ये हैं श्रेष्ठ मुहूर्त

व्यापारियों ने जताई धनतेरस से पूर्व ही धनवर्षा की उम्मीद

जोधपुर . पंच पर्व दीपोत्सव के लिए खरीदारी का दौर आरंभ हो चुका है। शुक्रवार को पुष्यनक्षत्र महायोग में खरीदारी के लिए सर्वार्थसिद्धि योग ? होने से बही खाते सहित अन्य घरेलू उपयोगी सामग्री की जमकर बिक्री होने का अनुमान है। पुष्य नक्षत्र में शुभ मुहूर्त के चलते दीपोत्सव के लिए सोने-चांदी के आभूषण, फर्नीचर, इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद, मोबाइल, लेपटॉप, ड्राइफू्रट, रेडीमेड वस्त्रादि, सौन्दर्य प्रसाधन, भूमि, फ्लैट आदि की खरीदारी को लेकर उत्साह है। जोधपुर जिले के आस-पास के कस्बों से भी लोग पुष्य नक्षत्र में जमकर खरीदारी करने के मूड में है।

पुष्य नक्षत्र में सर्वार्थ सिद्धि महायोग पर व्यापारी वर्ग ने इसे खरीदारी के लिए सोने पर सुहागा साबित होने की उम्मीद जताई है। विशेष तौर पर नौकरी पेशा लोगों व कर्मचारी वर्ग भी सपरिवार जमकर खरीदारी के मूड में है। पुष्य नक्षत्र में की गई खरीदारी उत्तम, फलवद्र्धक व दीर्घकाल तक उपयोगी मानी गई है। युवाओं की पसंद और मांग अनुरूप प्रॉडक्ट की नवीनतम सीरिज का स्टॉक मंगवाया हैं।

युवा वर्ग की पंसद व आवश्यकताओं के मद्देनजर विश्व स्तरीय इलेक्ट्रॉनिक प्रॉडक्ट, लैपटाप, गैजेट्स तो दूसरी ओर दुपहिया वाहन, रेडिमेट वस्त्र की पूरी अंतरराष्ट्रीय शृंखला सूर्यनगरी के प्रमुख प्रतिष्ठानों में उपलब्ध है। शहर के नई सड़क, सरदारपुरा, त्रिपोलिया, जलजोग, सरदारपुरा प्रथम, बी व सी रोड, चौपासनी रोड, जालोरी गेट, गोलबिल्डिंग, रातानाडा, महामंदिर, बासनी व चौहाबो में व्यवसायिक प्रतिष्ठान सज चुके है। खरीददारी के लिहाज से सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त शुभ मुहूर्त में वाहन, सभी तरह की कीमती धातुएं, बहीखाते, जमीन सहित सभी घरेलू साजो-समान की खरीदारी करना उत्तम है। मंदी की मार झेल रहे रियल स्टेट से जुड़े लोगों में भी पुष्य और पंचपर्व के दौरान बूम की संभावना है।

 

आज खरीदारी करने के श्रेष्ठ मुहूर्त


पं. ओमदत्त शंकर ने बताया कि पुष्य नक्षत्र शुक्रवार सुबह 7.45 बजे सर्वार्थसिद्धि योग से शुरू होगा । सुबह 8.06 बजे से 10.55 तक लाभ अमृत एवं दोपहर 12.01 से 1247 बजे के मध्य सभी तरह की वस्तुएं खरीदाना श्रेष्ठ है। दोपहर 12.24 से 1.50 तक खरीदारी करना शुभ है। इसके बाद शाम 4.43 बजे से 6.09 बजे तक चर के चौघडि़ए में वाहन, धातु आदि खरीदना उत्तम है। रात्रि 9.17 से 10.50 के मध्य लाभ के चौघडि़ए में गृह उपयोगी सभी तरह की वस्तुएं खरीदना श्रेष्ठ है। पुष्य नक्षत्र शनिवार सुबह 6.53 बजे तक रहेगा।

 

मंगल से होगा पंचपर्व का आगाज

अंधेरे पर उजाले की जीत व शांती-समृद्धि व आरोग्य के पंचपर्व 17 अक्टूबर धनतेरस से शुरू हो जाएंगे। पंच पर्व रूप चतुर्दशी, दीपावली, गोवद्र्धन पूजन, यम द्वितीया भाईदूज की तैयारियां शुरू हो गई है। इस बार पंच पर्व में किसी भी तरह की तिथि क्षय नहीं होगी। रूपचतुर्दशी 18 अक्टूबर, दीपावली महालक्ष्मी पूजन 19 अक्टूबर, गोवद्र्धन पूजन 20 अक्टूबर तथा भाईदूज 21 अक्टूबर को पंचपर्व का समापन होगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned