scriptBritain's Prince Charles' favorite Khandia Pond | अब रीतने लगा है ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स का पसंदीदा खांडिया तालाब | Patrika News

अब रीतने लगा है ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स का पसंदीदा खांडिया तालाब

ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स मरूस्थलीय क्षेत्रों के गांवों में जल संरक्षण व संरचना की तकनीकों को देखने के लिए 2010 में तोलेसर चारणान गांव के खांडिया तालाब आए थे।

जोधपुर

Published: April 22, 2022 11:28:34 am

सूखने के कगार पर ऐतिहासिक खांडिया तालाब, तोलेसर में गहराया पेयजल संकट

बेलवा (जोधपुर) . कभी ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स को अभिभूत करने एवं तोलेसर चारणान गांव की प्यास बुझाने वाला खांडिया तालाब अब सूखने के कगार पर है। कम बरसात होने के कारण अब तालाब में कुछ ही समय के लिए पानी बचा है। तालाब का पानी सूखने के साथ ही हिमालय पेयजल योजना का पानी भी नियमित रूप से आपूर्ति नहीं होने के कारण ग्रामीण 800 से 1000 रुपए देकर पानी के टैंकर मंगवाने काे मजबूर हैं।
अब रीतने लगा है ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स का पसंदीदा खांडिया तालाब
बेलवा. तोलेसर का खांडिया तालाब एवं वर्ष 2010 में तालाब का अवलोकन करते ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स. (इनसेट)
ग्रामीण बताते हैं कि हनवंतसिंह चेरिटेबल ट्स्ट के साथ जल भागीरथी फांउडेशन व एसएसबीसी के सहयोग से तोलेसर के खांडिया तालाब की खुदाई, पाल निर्माण सहित कई अन्य निर्माण कार्य करने से मॉडल के रूप में विकसित किया था।
ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स 2010 में आए थे खांडिया तालाब

ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स मरूस्थलीय क्षेत्रों के गांवों में जल संरक्षण व संरचना की तकनीकों को देखने के लिए 2010 में तोलेसर चारणान गांव के खांडिया तालाब आए थे। ग्रामीण तालाब से सालभर अपनी आवश्यकता के पानी का उपयोग करते रहे हैं। इस बार बारिश कम होने के कारण तालाब में पानी बहुत कम बचा है।

दस दिन में आता है हिमालय का पानी

ग्रामीणाें ने बताया कि गांव को हिमालय के पानी से जोड़ने वाली पाइपलाइन में दस से पन्द्रह दिनों में एक बार पानी की आपूर्ति होती है। ऐसे में गर्मी बढ़ने के साथ ही पानी की किल्लत और अधिक बढ़ गई है। ग्रामीणों के अनुसार गांव में बनी छह सार्वजनिक जीएलआर पिछले लंबे समय से सूखी पड़ी है। नाकारा जीएलआर से हौज में पानी नहीं पहुंचने से मवेशियों के लिए पेयजल का गंभीर संकट पैदा हो गया है।
800 रुपए में डलवा रहे टैंकर

गांव में पेयजल संकट के चलते ग्रामीण महंगे दामों पर टैंकरों से पेयजलापूर्ति करवाने को मजबूर है। गांव में 800 रुपए तक में टैंकर से पानी की सप्लाई होती है। वहीं लोग अपने निजी वाहनों से भी दूर के जलस्त्रोतों से पानी का परिवहन कर रहे हैं। ग्रामीण बताते है कि विभाग द्वारा टैंकर जलापूर्ति के लिए लगाया है लेकिन सुचारू पेयजल नहीं पहुंच पा रहा है।
इनका कहना है

तोलेसर गांव में पांच -छह दिन में हिमालय का पानी सप्लाई हो रहा है। वहीं विभाग द्वारा पांच केएल के टैंकर द्वारा भी जलापूर्ति के प्रयास किए जा रहे हैं। अवैध कनेक्शन हटाकर गांव की ढाणियों में सुगमता से पानी आपूर्ति के प्रयास किए जाएंगे।

मनोज व्यास, कनिष्ठ अभियंता,

पीएचईडी बालेसर.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

ममता बनर्जी का बड़ा फैसला, अब राज्यपाल की जगह सीएम होंगी विश्वविद्यालयों की चांसलरयासीन मलिक के समर्थन में खालिस्तानी आतंकी ने अमरनाथ यात्रा को रोकने की दी धमकीलगातार दूसरी बार हैदराबाद पहुंचे PM मोदी से नहीं मिले तेलंगाना CM केसीआरUP Budget 2022 : देश में पांच इंटरनेशनल एयरपोर्ट और पांच एटीएस वाला यूपी पहला राज्य, होंगी ये बड़ी सुविधाएंराष्ट्रीय खेल घोटाला: CBI ने झारखंड के पूर्व खेल मंत्री के आवास पर मारा छापाIRCTC 21 जून से शुरू करेगी श्री रामायण यात्रा स्पेशल ट्रेन, जानिए इस यात्रा से जुड़ी सभी जानकारीIPL में MS Dhoni, Rohit Sharma, Virat Kohli हुए 150 करोड़ के पार, कमाई जानकर आप हो जाएंगे हैरानइधर भी महंगाई: परिवहन मंत्रालय ने की थर्ड पार्टी बीमा दरों में बढ़ोतरी, नई दरें जारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.