जयपुर से आकर पुलिसकर्मी बन ठगी करते और लौट जाते

Vikas Choudhary

Updated: 13 Nov 2019, 12:37:07 AM (IST)

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
पुलिस अधिकारी बन नकली नोट होने का डर दिखाकर भोले-भाले लोगों से ठगी कर रुपए एेंठने वाली गैंग के दो युवकों को उदयमंदिर थाना पुलिस ने मंगलवार को अजमेर जेल से बापर्दा गिरफ्तार किया। ठगी के दोनों आरोपी सात साल से जयपुर से जोधपुर आ रहे थे और दोनों ने जोधपुर में दस वारदातें कबूल कर चुके हैं।

थानाधिकारी प्रदीप शर्मा के अनुसार गत २५ अक्टूबर को हाईकोर्ट मुख्य गेट के सामने गोदावास गांव निवासी श्रवणराम से २५ हजार पांच सौ रुपए एेंठने के मामले में मूलत: जयपुर में चारसा हाल ब्रह्मपुरी थानान्तर्गत जयसिंहपुरा अविनाश (३५) पुत्र धन्नालाल मीणा और जयपुर में विराट नगर थानान्तर्गत श्यामपुरा निवासी मामराज (२५) पुत्र राधेश्याम धानका को अजमेर जेल से प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों से ठगी के रुपए बरामद करने के प्रयास किए जा रहे हैं।
उप निरीक्षक हरीश सोलंकी ने बताया कि आरोपी सात साल से हर तीन महीने के अंतराल में जोधपुर आ रहे थे। दो-तीन लोगों को शिकार बनाकर तुरंत जयपुर लौट जाते थे। दोनों ने विभिन्न थाना क्षेत्रों में दस वारदातें की।

बाइक पर आए थे जोधपुर, वारदात कर लौटे थे
पुलिस का कहना है कि दीपावली से तीन-चार दिन पहले आरोपी मोटरसाइकिल पर जोधपुर आए थे। हाईकोर्ट मुख्य गेट के पास पैदल पावटा चौराहे की तरफ जा रहे श्रवणराम को एक ठग ने रोककर खुद को पुलिसकर्मी बताया। शहर में ३५ लाख रुपए की चोरी होने की जानकारी देकर डराया धमकाया था। उसे एटीएम से जाली मुद्रा निकलने की जानकारी भी दी थी। फिर श्रवण ने जेब से २५५०० रुपए निकाले और जांच करने के लिए उन्हें सौंप दिए थे। ठगों ने रुपए लिफाफे में डाले व उसे सौंपकर चलते बने थे। कुछ आगे जाकर लिफाफा चेक करने पर उसमें कागज के टुकड़े निकले थे। श्रवण से रुपए एेंठकर आरोपी अजमेर चले गए थे, जहां वारदात के बाद दोनों जयपुर भाग गए थे। अजमेर पुलिस ने दोनों को जयपुर में पकड़ा था और फिर जेल भिजवाया था।

दो लिफाफे रखते, नीचे गिरा पेन उठाने के दौरान बदल देते
पुलिस का कहना है कि भोले-भाले व्यक्ति को ठगने के लिए आरोपी अपने पास दो लिफाफे रखते हैं। एक लिफाफा खाली व दूसरे में कागज के टुकड़े भरे होते हैं। एक लिफाफा अखबार में लिपटा होता है। आमजन से रुपए लेकर एक लिफाफे में रख दिए। फिर पेन नीचे गिराया था। श्रवण पेन लेने नीचे झुका तो आरोपियों ने लिफाफा बदलकर कागज से भरा लिफाफा थमा दिया था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned