scriptCRPF center suicide case: 3 suicides in CRPF center started 3 years ag | CRPF center suicide case: 3 साल पहले शुरू हुए सीआरपीएफ सेंटर में 3 सुसाइड, जाने वजह | Patrika News

CRPF center suicide case: 3 साल पहले शुरू हुए सीआरपीएफ सेंटर में 3 सुसाइड, जाने वजह

CRPF center suicide case: 2019 में इंस्पेक्टर, 2021 में सब इंस्पेक्टर और 2022 में कांस्टेबल ने खत्म की जीवन लीला

जोधपुर

Published: July 12, 2022 01:55:29 pm

CRPF jawan suicide case: गजेंद्र सिंह दहिया/जोधपुर. पालड़ी खिचियां स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के रिक्रूट ट्रेनिंग सेंटर (आरटीसी) को शुरू सिर्फ 3 साल ही हुए हैं और इन 3 साल में तीन जवानों ने आत्महत्या कर ली है। तीनों ही जवान भारी मानसिक दबाव में थे। लगातार आत्महत्या के बाद जोधपुर आरटीसी पर उंगलियां उठने लगी है। सोमवार सुबह जब नरेश जाट ने गोली मारकर आत्महत्या की तब दिसंबर 2021 में आत्महत्या करने वाले विकास कुमार की पत्नी आरटीसी के बाहर पहुंची और मीडिया से बात करते हुए आरटीसी के अंदर भारी भ्रष्टाचार और मानसिक दबाव की बात कही। विकास की पत्नी कविता बोली कि उसे अपने पति के लिए इंसाफ चाहिए।
CRPF center suicide case: 3 साल पहले शुरू हुए सीआरपीएफ सेंटर में 3 सुसाइड, जाने वजह
CRPF center suicide case: 3 साल पहले शुरू हुए सीआरपीएफ सेंटर में 3 सुसाइड, जाने वजह
केंद्र सरकार ने वर्ष 2014 में जोधपुर में सीआरपीएफ के रिक्रूट ट्रेनिंग सेंटर को मंजूरी दी थी जिससे पश्चिमी राजस्थान के युवाओं को भी अपने घर के पास ही सीआरपीएफ में प्रशिक्षण का मौका मिल सके। शुरुआत में इसे श्रीगंगानगर स्थित सूरतगढ़ में संचालित किया गया। पालडी खिचियां में खुद का भवन बनने के बाद जुलाई 2019 में सूरतगढ़ से यहां शिफ्ट कर दिया गया। वर्ष 2019 में ही यहां सबसे पहले आत्महत्या की वारदात हुई।

बिल्डिंग का ले-आउट बनाने में शामिल थे संदीप
मेरठ निवासी संदीप गिरी इंस्पेक्टर पद पर थे। वे इंजीनियर थे और आरटीसी के भवन निर्माण की प्रक्रिया से जुड़े थे। भवन तो सीपीडब्ल्यूडी बना रही थी लेकिन संदीप के सीनियर्स ने उन्हें भवन निर्माण में भ्रष्टाचार में धकेलना चाहा। भारी दबाव में संदीप टूट गए और उन्होंने 2019 में आत्महत्या कर ली।

खराब पपीते को लेकर विकास को जमकर कोसा
चूरू निवासी सब इंस्पेक्टर विकास ने दिसम्बर 2021 में आत्महत्या की। विकास की पत्नी कविता ने बताया कि उसे महज एक खराब पपीता लाने पर अधिकारियों ने जमकर कोसा। सीनियर्स व जूनियर्स के सामने काफी बेइज्जती की और नौकरी छीन लेने की धमकी देते रहे। एक महीना तक विकास तनाव में रहे और आखिर मौत को गले लगा दिया।
पांच दिन तक जूझता रहा नरेश
पाली निवासी कांस्टेबल नरेश जाट का सीनियर अधिकारियों के साथ विवाद हो गया। उस पर राइफल लेकर भागने व राइफल कॉक करने का आरोप लगाया गया। पांच दिन से ड्यूटी से दूर था। आखिर उसके सब्र का बांध टूटा और खुद पर ही गोली चला दी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

कैबिनेट विस्तार के बाद पहली बार नीतीश कैबिनेट की बैठक, इन एजेंडों पर लगी मुहरभाजपा विधायक केपी त्रिपाठी के समर्थकों की गुंडागर्दी, सीईओ को पीटकर कचरे के ढेर में फेंकाDelhi: भारत को अमीर देश बनाने के लिए हर भारतवासी को अमीर बनाना पड़ेगा - अरविंद केजरीवालमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें Listजिम्बाब्वे दौरे के लिए केएल राहुल को कप्तान बनाए जाने पर पहली बार शिखर धवन ने दी अपनी प्रतिक्रियाVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकाला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.