scriptCulture and promotion Award to Dr. Rajendra Barath | Rajasthani award राजस्थानी भाषा मान्यता आंदोलन से जुड़े डॉ. राजेंद्र बारहठ को संस्कृति व संवर्द्धन सम्मान | Patrika News

Rajasthani award राजस्थानी भाषा मान्यता आंदोलन से जुड़े डॉ. राजेंद्र बारहठ को संस्कृति व संवर्द्धन सम्मान

जोधपुर. राजस्थानी भाषा मान्यता आंदोलन से जुड़े राजस्थानी भाषा के साहित्यकार डॉ. राजेंद्र बारहठ को राजस्थानी भाषा, साहित्य व संस्कृति अकादमी बीकानेर की ओर से राज्य की कला, साहित्य, संस्कृति तथा भाषायी संरक्षण-संवर्द्धन, प्रोत्साहन व प्रोन्नयन के क्रम में संस्कृति संवर्द्धन सम्मान’ प्रदान किया जाएगा।

 

जोधपुर

Published: March 31, 2022 06:17:56 pm

जोधपुर .राजस्थानी भाषा मान्यता आंदोलन में पिछले तीस सालों से संघर्षरत साहित्यकार डॉ. राजेंद्र बारहठ को राजस्थानी भाषा, साहित्य व संस्कृति अकादमी बीकानेर की ओर से गुरुवार शाम 4.30 बजे जयपुर के झालाना सांस्कृतिक क्षेत्र में अकादमी संकुल सभागार में आयोज्य कार्यक्रम में संस्कृति संवर्द्धन सम्मान’ प्रदान किया जाएगा।
अकादमी सचिव शरद केवलिया ने बताया कि आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर कला, साहित्य व संस्कृति विभाग राजस्थान के माध्यम से अकादमी की ओर से संस्कृति संवर्द्धन सम्मान’ के लिए उनका चयन किया गया है। डाॅ राजेंद्र बारहठ राजस्थानी भाषा के कवि,संपादक,शोध विद्वान,अनुवादक,शिक्षक व शोध निर्देशक हैं।
Dr. Rajendra Barath
जोधपुर. राजस्थानी भाषा मान्यता आंदोलन से जुड़े राजस्थानी भाषा के साहित्यकार डॉ. राजेंद्र बारहठ ।,जोधपुर. राजस्थानी भाषा मान्यता आंदोलन से जुड़े राजस्थानी भाषा के साहित्यकार डॉ. राजेंद्र बारहठ ।
डाॅ राजेंद्र बारहठ : एक नजर
उनका जन्म 20 जून 1969 को हुआ। डाॅ राजेंद्र बारहठ एक हजार के करीब व्याख्यान दे चुके हैं। वे राजस्थानी भाषा के टीवी चैनल्स में खबर बुलेटिन शुरू करने के प्रेरक व सक्रिय मार्गदर्शक रहे। डाॅ राजेंद्र बारहठ राजस्थानी भाषा साहित्य संस्कृति की सेवा के लिए 22 पुरस्कार से सम्मानित किए जा चुके हैं। उन्होंने राजस्थानी फिल्म उद्योग एक चिंतन"विषयक गोलमेज ज्ञान गोठ की परिकल्पना को मूर्त रूप देकर राजस्थानी फिल्म उद्योग की मजबूती के लिए प्रयत्न किए। वे केंद्रीय साहित्य अकादमी राजस्थानी राजस्थानी भाषा परामर्शदात्री समिति के सदस्य व जनार्दनराय नागर राजस्थान विद्यापीठ विश्वविद्यालय उदयपुर में 2003 से 2013 तक राजस्थानी संस्थापक विभागाध्यक्ष रहे। वहीं राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर की ग्यारहवीं बारहवी राजस्थानी साहित्य की पुस्तकों के कई बार परीक्षक रहे। वे 24 राज्य राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर की संस्थाओं के सदस्य रहे हैं ,जिनमें जनार्दनराय नागर राजस्थान विद्यापीठ विश्वविद्यालय उदयपुर,, राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर, कोटा विश्वविद्यालय कोटा, वर्धमान महावीर कोटा खुला विश्वविद्यालय कोटा, महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय बीकानेर इत्यादि की पाठ्यक्रम निर्धारण समिति में सदस्य रहे। डाॅ बारहठ 2005 में श्रीगंगानगर से दिल्ली व 2015 में मुंबई से "मायड़ भाषा राजस्थानी सम्मान जातरा"नाम से रथयात्रा के अगुवा व आयोजक रहे। बारहठ राजस्थानी मोट्यार परिषद, राजस्थानी चिंतन परिषद, राजस्थानी महिला परिषद ,राजस्थानी खेल परिषद व राजस्थानी फिलम परिषद के संस्थापक हैं। वहीं वे 30 संगोिष्ठयों के आयोजक रहे हैं। वे राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी में वाचन कर चुके हैं। इसके अलावा 13 कार्यशालाओं में भागीदारी निभाई है। उन्होंने 25 पुस्तकों की समीक्षा की है।
उनकी पुस्तकें हैं-- राजस्थानी भाषा साहित्त री ख्यात, पत्रप्रकाश, पातल अर पीथल वचित्तौड़ गाइड।
पत्रिका संपादन - 1997 माणक जोधपुर, 1998 कैवाय संदेश जोधपुर, 2008 शोध पत्रिका उदयपुर, 2008 शिक्षक संवाद उदयपुर और अवतार चरित्त महाकाव्य पर पहली पीएचडी।
पुस्तकेंं प्रकाशनाधीन - राजस्थानी कैवती वातां,जगद्गुरु शंकराचार्य समीक्षा भाग दो,प्राचीन राजस्थानी गीत अनुक्रमणिका व राजस्थानी आडियां।
प्रकाशन के लिए तैयार -राजस्थानी नई कविता की तीन पुस्तकें, राजस्थानी चितार, मोदी अबतौ मानजा शतक ,6 राजस्थानी बाळ कथावां ,शोध पत्र 50 विभिन्न शोध पत्रिका।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र विधानसभा में कल फ्लोर टेस्ट, सुप्रीम कोर्ट जा सकती है उद्धव सरकारMaharashtra Political Crisis: 30 जून को फ्लोर टेस्ट के लिए मुंबई वापस पहुंचेगा शिंदे गुट, आज किए कामाख्या देवी के दर्शनMumbai News Live Updates: राज्यपाल के फैसले के बाद संजय राउत बोले-विशेष सत्र बुलाना कानून के मुताबिक नहीं, हम सुप्रीम कोर्ट जाएंगेनवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतUdaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंअमरनाथ यात्रा 2022 : जम्मू से कड़ी सुरक्षा के बीच श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवानानुपुर शर्मा के सपोर्टर की उदयपुर में हत्या के बाद हाई अलर्ट पर UP, अफसरों को सतर्क रहने के निर्देशदिल्ली के मंगोलपुरी में फैक्ट्री में लगी आग, दमकल की 26 गाड़ियां मौके पर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.