पानी बचाने के लिए कटिंग पानी पत्रिका अभियान- घर-घर जाकर समझाया महत्व, बच्चों ने ली शपथ यूज करेंगे कटिंग वॉटर

पानी बचाने के लिए कटिंग पानी पत्रिका अभियान- घर-घर जाकर समझाया महत्व, बच्चों ने ली शपथ यूज करेंगे कटिंग वॉटर

jay kumar bhati | Publish: Jul, 26 2019 08:41:38 PM (IST) Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

- स्कूली बच्चों के साथ सामाजिक संगठन भी आ रहे हैं आगे
- यूथ ने उठाया घर-घर अवेयरनेस का बीड़ा

जोधपुर. सेव वॉटर के लिए राजस्थान पत्रिका की कटिंग पानी की मुहिम (Cutting Water Patrika Campaign for save water ) से लगातार शहरवासी जुड़ रहे हैं। इस क्रम में यूथ (Youth) ने शुक्रवार को जहां घर-घर जाकर लोगों को अवेयर किया तो स्कूलों में भी विद्यार्थियों ने पानी बचाने का संकल्प किया। इस दरम्यिान शिक्षकों ने उन्हें कटिंग पानी का कान्सेप्ट समझाया। कई सामाजिक संस्थाओं ने भी इस तरफ कदम बढ़ाए हैं। घरों में भी लोग कटिंग पानी (Cutting Water) का इस्तेमाल कर फोटो शेयर कर रहे हैं।

 

जल है तो कल है (Water is tomorrow), महत्व समझें
यहां पावटा बी रोड स्थित होली स्पिरिट सीनियर सैकण्डरी स्कूल में बच्चों को पत्रिका की मुहिम के जरिए चल रहे कटिंग पानी का कान्सेप्ट समझाया गया। शिक्षक डॉ. संजीत कुमार ने हाफ ग्लास वाटर लेकर समझाया कि किस तरह हम घरों में पूरा ग्लास भरकर पानी वेस्ट कर रहे हैं। अगर थोड़ा पानी पिया तो पूरा ग्लास बेकार जाएगा। ऐसे में उतना ही जल लें, जितनी प्यास है। यहां स्कूल निदेशक डॉ. राजेश शेखावत व अन्य शिक्षकों ने बच्चों को संकल्प करवाया कि वे अब कटिंग पानी का यूज करेंगे।

 

हाफ वाटर ग्लास देकर समझाया महत्व (Half Water Glass Explained The Importance)
एपेक्स सीनियर सैकण्डरी स्कूल अंग्रेजी माध्यम कुड़ी ब्रांच में शुक्रवार को स्कूल निदेशक डॉ. रामनिवास चौधरी ने बच्चों को शपथ दिलाई कि वे अब कटिंग वॉटर का उपयोग करें। उन्होंने कहा कि इसकी शुरुआत बच्चे स्कूल बॉटल से करें। उन्होंने जल के महत्व और कटिंग वॉटर कान्सेप्ट समझाया। प्रधानाध्यापिका डॉ. कीर्ति रजत के साथ सभी शिक्षकों ने भी शपथ ली।

 

टीवी कलाकार (TV artist )ने लिया जागरुकता का संकल्प
कटिंग पानी अभियान से प्रेरित होकर जोधपुर मूल की टीवी कलाकार जीनल ने भी कटिंग पानी का संकल्प किया है। बकौल जीनल सेट पर जरुरत जितना पानी ही यूज लेगी। साथ ही अपनी टीम मेम्बर्स को भी जागरुक करने का संकल्प लिया। पंचायत समिति लूणी के लेखाधिकारी देवेंद्र मेहता और उनकी पत्नी चंद्रकला मेहता ने भी सेव वाटर के तहत कटिंग पानी यूज करने की शपथ ली।

 

घर-घर जाकर समझाया महत्व (Home-made importance)
यूथ भी लोगों को इस संबंध में अवेयर कर रहा है। घर-घर जाकर हस्तलिखित पेम्पलेट वितरण से लोगों को जागरूक करने का प्रयास कर रहे हैं। रातानाडा हाईकोर्ट कॉलोनी क्षेत्र में रिसर्च स्कोलर सवाईसिंह सारूंडा के नेतृत्व में छात्रों ने दो टीम बना घर-घर जाकर पानी के महत्व के बारे में जानकारी देते हुए इसे बचाने के लिए जागरूक किया। वहीं राइकाबाग क्षेत्र के घरों में केएन कॉलेज की छात्राओं ने इसका प्रचार प्रसार किया। दीपिका कंवर के नेतृत्व में छात्राओं ने पानी है अनमोल, इसका समझे मोल... जल है तो कल है... उज्जवल भविष्य को पाना है तो पानी को बचाना है... जैसे स्लोगन लिखे पेम्पलेट का वितरण कर लोगों को कटिंग पानी का महत्व समझाया।

 

कट पानी का करेंगे यूज (Cut water will use)
श्री विश्वकर्मा सुथार समाज सेवा समिति के सभी सदस्यों ने कटिंग पानी का संकल्प किया। संस्था के अध्यक्ष मानाराम ओढाणा ने बताया कि राजस्थान पत्रिका की इस मुहिम से हम हर व्यक्ति को जोडक़र कट पानी यूज करने के लिए कहेंगे। संस्था के कोषाध्यक्ष राजेश धीर व सह कोषाध्यक्ष लेखराज नागल ने संस्था के सभी 600 सदस्यों को इसकी शपथ दिलाने की बात कही।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned