फलोदी में एक साथ 19 कौवों के मिले शव, बर्ड फ्लू की आशंका

फलोदी (जोधपुर). प्रदेश में चल रही पक्षियों की महामारी की चपेट में फलोदी क्षेत्र भी आने लगा है। शहर के ब्रह्मबाग क्षेत्र में बुधवार को एकसाथ 19 कौवों के शव पाए गए। इससे प्रशासन, पशु चिकित्सा विभाग व पक्षी प्रेमियों में हड़कंप मच गया है।

By: pawan pareek

Published: 07 Jan 2021, 12:06 AM IST

फलोदी (जोधपुर). प्रदेश में चल रही पक्षियों की महामारी की चपेट में फलोदी क्षेत्र भी आने लगा है। शहर के ब्रह्मबाग क्षेत्र में बुधवार को एकसाथ 19 कौवों के शव पाए गए। इससे प्रशासन, पशु चिकित्सा विभाग व पक्षी प्रेमियों में हड़कंप मच गया है।

शहर के ब्रह्मबाग क्षेत्र में आज गुचियों की बगीची व जोशियों की बगीची के आस-पास पेड़-पौधों के नीचे बड़ी संख्या में कौवे मृत हालत में पाए गए। लोगों ने इसकी सूचना प्रशासन व पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारी को दी।

जांच के लिए भेजा सैम्पल

वरिष्ठ पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. भागीरथ सोनी ने बताया कि लोगों की सूचना पर पशु चिकित्सा विभाग की टीम मौके पर पहुंची। वहां पेड़-पौधों के नीचे 19 कौवों के शव पाए गए। पशुपालन विभाग की टीम ने मेडिकल प्रोटोकॉल अनुसार पीपीई किट पहनकर मृत कौवों में से एक कौवे का सम्पूर्ण शव जांच के लिए भेजा है तथा शेष कौवों के शव पालिका कर्मचारियों व वन विभाग के कर्मचारियों की के सहयोग से जमीन में दफना दिए गए।

प्रवासी परिन्दों पर मंडराने लगा बर्ड फ्लू का खतरा

फलोदी के खीचन गांव में इन दिनों 25 हजार से अधिक कुरजां पक्षियों ने डेरा डाल रखा है। खीचन के निकट आमला फांटा पर एक दिन पूर्व तीन कौवे मृत मिले इसके बाद आज फलोदी में एकसाथ 19 कौवों की शव मिलने से बर्ड फ्लू फैलाने की आशंका को लेकर चिंताजनक स्थिति बनने लगी है।

इसी बीच वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉ. भागीरथ सोनी ने बताया कि वे खीचन गांव के दौरा करके प्रवासी पक्षी कुरजां पर पूरी तरह से चौकसी रख रहे हैं। उन्होंने बताया कि यहां फिलहाल खतरे जैसे कोई संकेत नजर नहीं आए है। लगातार कुरजां पर नजर रखी जा रही है।

pawan pareek Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned