चौथी मंजिल से सीढिय़ों के बीच से गिरे मरीज की मृत्यु

- मथुरादास माथुर अस्पताल का मामला
- श्वास में तकलीफ के चलते डायलिसिस के लिए भर्ती था

By: Vikas Choudhary

Published: 03 Apr 2021, 02:15 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
मथुरादास माथुर अस्पताल के मेडिकल वार्ड में भर्ती एक युवक शुक्रवार को चौथी मंजिल से सीढिय़ों के बीच से नीचे आग गिरा और उसकी मृत्यु हो गई। शास्त्रीनगर थाना पुलिस को अंदेशा है कि चक्कर आने की वजह से हादसा हुआ है।

थानाधिकारी पंकजराज माथुर ने बताया कि शेरगढ़ में पन्नेसिंह नगर निवासी मगसिंह (25) पुत्र जोरसिंह का श्वास की बीमारी के कारण दो महीने से इलाज चल रहा है। तबीयत अधिक खराब होने पर परिजन 31 मार्च को एमडीएम अस्पताल लेकर आए थे, जहां उसे चौथी मंजिल पर मेडिकल वार्ड में भर्ती किया गया था। वह डायलिसिस पर था और ऑक्सीजन चढ़ रही थी।

इस बीच, शुक्रवार सुबह पिता पानी लेने के लिए वार्ड से बाहर गए। भाई थानसिंह भी शौच के लिए चला गया था। सुबह करीब साढ़े छह बजे मगसिंह पलंग से उठा और सीढिय़ां उतरकर नीचे जाने का प्रयास करने लगा। इस दौरान सीढिय़ों की रैलिंग के बीच बने स्थान में से वह चौथी मंजिल से नीचे आ गिरा। सिर के बल गिरने से गंभीर चोट आई और उसकी मौके पर ही मृत्यु हो गई। उधर, भाई वार्ड में लौटा तो मगसिंह को गायब पाकर तलाश शुरू की। तब वह नीचे फर्श पर लहुलूहान हालत में मिला। चिकित्सकों के साथ ही चौकी से पुलिसकर्मी मौके पर आए। ट्रोमा सेंटर ले जाकर जांच करने पर उसे मृत घोषित कर दिया गया। बाद में एसीपी (पश्चिम) नूर मोहम्मद व थानाधिकारी माथुर मौके पर पहुंचे और जांच शुरू की। पुलिस का कहना है कि चक्कर आने से दुर्घटनावश गिरने से उसकी मृत्यु हुई है। मर्ग दर्ज कर जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम कर शव परिजन को सौंपा गया।

दो महीने से था बीमार, आठ-दस बार डायलिसिस हुआ

पुलिस का कहना है कि मृतक करीब दो महीने से बीमार था। उसका आठ-दस मर्तबा डायलिसिस हो चुका था। वह गत माह से भर्ती था। होली के चलते परिजन उसे छुट्टी दिलाकर गांव ले गए थे, लेकिन तबीयत अधिक खराब होने पर 31 मार्च को ही वापस अस्पताल लेकर आए थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned