डिस्कॉम का एक्सइएन 25 हजार रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार

- घरेलू कनेक्शन के लिए डिमाण्ड नोटिस जारी करने की एवज में ली रिश्वत
- एसीबी को देख खुद को घर में बंद किया, समझाइश कर दरवाजा खुलवाया

By: Vikas Choudhary

Updated: 11 Sep 2021, 12:23 AM IST

जोधपुर.
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने घरेलू बिजली कनेक्शन के लिए डिमाण्ड नोटिस जारी करने की एवज में 25 हजार रुपए रिश्वत लेने पर पाली जिले के जैतारण में जोधपुर डिस्कॉम के अधिशाषी अभियंता (एक्सइएन) को शुक्रवार को गिरफ्तार किया। एसीबी को देख एक्सइएन ने खुद को घर में बंद कर लिया। काफी समझाइश के बाद उन्होंने दरवाजे खोले।

एसीबी के उप महानिरीक्षक डॉ विष्णुकांत ने बताया कि पाली जिले की जैतारण तहसील में पातसू रोड निवासी हेमंत पुत्र बंशीलाल की शिकायत पर कोट में बोरखेड़ा के आकाश नगर निवासी जैतारण में जोधपुर डिस्कॉम के अधिशाषी अभियंता (एक्सइएन) महेन्द्र कुमार पुत्र पांचुलाल मीणा को 25 हजार रुपए रिश्वत लेने पर गिरफ्तार किया गया। रसोई में फ्रिज के ऊपर कागज के बॉक्स में रखी रिश्वत राशि बरामद की गई।
15 हजार मांगे, सत्यापन में 25 हजार की पुष्टि

परिवादी ने हेमंत ने नवनिर्मित मकान में घरेलू बिजली कनेक्शन के लिए जैतारण स्थित डिस्कॉम कार्यालय में आवेदन कर रखा है। इस संबंध में गत वर्ष 5 नवम्बर और गत 24 जून को रसीदें कटवाईं थी। नए कनेक्शन से पहले बिजली के पोल लगाए जाने हैं। जिसके लिए डिमाण्ड नोटिस जारी करना होता है। यह नोटिस जारी करने की एवज में एक्सइएन ने 15 हजार रुपए रिश्वत मांगे थे। जिसकी शिकायत एसीबी जोधपुर ग्रामीण चौकी में की गई। 8 सितम्बर को सत्यापन कराने पर एक्सइएन के 25 हजार रुपए रिश्वत मांगने की पुष्टि हुई।

एसीबी को देख होश उड़े, दरवाजे बंद किए
परिवादी शुक्रवार को जैतारण में एक्सइएन के घर गया और रिश्वत के 25 हजार रुपए दिए। जो उसने रसोई में फ्रिज पर कागज के बॉक्स में रखे। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भोपालसिंह लखावत के निर्देशन में निरीक्षक अमराराम खोखर वहां पहुंचे। यह देख एक्सइएन ने मकान के दरवाजे बंद कर दिए। चारों तरफ लोहे की जाली से पैक होने से वो घर में बंद हो गए। तब एसीबी ने काफी समझाइश कर दरवाजा खुलवाया और एक्सइएन को गिरफ्तार किया।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned