scriptEmotional moment: Where he studied, the doctor got his wife's body don | Body Donation India - भावुक क्षण: जहां की पढ़ाई, वहां कराया डॉक्टर ने पत्नी का देहदान | Patrika News

Body Donation India - भावुक क्षण: जहां की पढ़ाई, वहां कराया डॉक्टर ने पत्नी का देहदान

 

 

 


साल 1972-73 में डॉ एसएन मेडिकल कॉलेज से की डॉक्टरी

जोधपुर

Published: February 24, 2022 10:58:56 pm

जोधपुर. साल 1972-73 में डॉ एसएन मेडिकल कॉलेज से डॉक्टरी की पढ़ाई करने वाले डॉ. महावीर मेहता देहदान का महत्व बखूबी समझे। वे भलिभांति जान गए कि मरने के बाद मानव शरीर की देह तो नश्वर है। बेंगलूरु निवासी डॉ. मेहता जोधपुर में किसी पारिवारिक मिलन समारोह में आए हुए थे। यहां पत्नी का निधन होने पर डॉ. मेहता ने उनका देहदान व नेत्रदान कराया।

बेंगलूरु निवासी 67 वर्षीय मधुलिका मेहता पत्नी डॉ महावीर मेहता का प्रात: 2.40 बजे अचानक घर पर निधन हो गया। इसके पश्चात डॉक्टर महावीर मेहता व अजीत राज मेहता ने देहदान काउन्सलर मनोज मेहता से संपर्क कर देहदान की सम्पूर्ण प्रक्रिया को समझा, बेंगलूरु, मुंबई कलकत्ता व जयपुर से परिजनों के जोधपुर पहुंचने तथा कोविड रिपोर्ट निगेटिव आने के पश्चात शाम छह बजे मधुलिका मेहता की पार्थिव देह मेडिकल छात्रों के अध्ययन व अनुसंधान के लिए परिजनों व प्रबुद्धजनों व विभिन्न डॉक्टरों की उपस्थिति में डॉ एसएन मेडिकल कॉलेज को समर्पित की। दिवंगत मधुलिका के पति डॉ महावीर मेहता ने बताया कि वो स्वयं इसी मेडिकल कॉलेज के तीसरे बैच से 1972-73 में डॉक्टर बने थे उन्होंने बताया कि मेडिकल छात्रों को पढ़ाई के लिए मुश्किल से मानव देह मिलती है। ऐसे में उसको जलाकर ख़त्म कर देना उचित नहीं है जिस प्रकार मेडिकल साइंस ने प्रगति की है - जहां एक व्यक्ति के अंगदान से अनेकों जिंदगियां बचायी जा सकती है ऐसे में मरणोपरांत देहदान ही सर्वोत्तम है ।
इससे पूर्व प्रात: 7 बजे मनोज मेहता ने आई बैंक सोसायटी के राजेंद्र जैन, तकनीशियन कुणाल व पुखराज अग्रवाल के साथ देव नगर स्थित मृतक के निवास पर पहुंचे। मधुलिका मेहता के दोनो कॉर्निया प्राप्त किए। इन्हें जांच के पश्चात दो नेत्रहीन व्यक्तियों को प्रत्यारोपित कर नेत्र ज्योति प्रदान की जाएगी। एसएन मेडिकल कॉलेज शरीर रचना विभागाध्यक्ष डॉ सुषमा कटारिया ने देहदान प्रमाण पत्र जारी करते हुए बताया कि यह इस वर्ष का पांचवां व अब तक का 163वां देहदान है। उन्होंने इस पुनीत कार्य के लिए समस्त मेहता परिवार का आभार जताया।
Body Donation India - भावुक क्षण: जहां की पढ़ाई, वहां कराया डॉक्टर ने पत्नी का देहदान
Body Donation India - भावुक क्षण: जहां की पढ़ाई, वहां कराया डॉक्टर ने पत्नी का देहदान

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

DGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थाकर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मMenstrual Hygiene Day 2022: दुनिया के वो देश जिन्होंने पेड पीरियड लीव को दी मंजूरी'साउथ फिल्मों ने मुझे बुरी हिंदी फिल्मों से बचाया' ये क्या बोल गए सोनू सूदभाजपा प्रदेश अध्यक्ष का हेमंत सरकार पर बड़ा हमला, कहा - 'जब तक सत्ता से बाहर नहीं करेंगे, तब तक चैन से नहीं सोएंगे'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.