1 लाख से अधिक की प्रोत्साहन राशि ने चौंकाया

 

 

आशा सहयोगिनियों को 1 लाख से अधिक प्रोत्साहन राशि मिली है

By: Abhishek Bissa

Published: 26 Feb 2021, 11:58 PM IST

जोधपुर. जोधपुर समेत प्रदेश के नौ जिलों में आशा सहयोगिनियों को 1 लाख से अधिक प्रोत्साहन राशि मिली है। ये प्रोत्साहन राशि आशाओं ने महज 9 माह में हासिल की। एक साथ इतना बढ़ा प्रोत्साहन ग्राफ देख चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग चौंक गया है। विभाग ने पूरे मामले की नौ जिलों के सीएमएचओ को भौतिक सत्यापन करवा रिपोर्ट देने के लिए कहा है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य व परिवार कल्याण के निदेशक आरसीएच एलएस ओला ने निर्देश देकर कहा कि आशा सॉफ्ट के अनुसार माह अप्रेल से दिसंबर 2020 की अवधि में आशाओं की प्राप्त राशि का विश्लेषण करने पर सामने आया कि विभिन्न जिलों में कुल 19 आशाओं ने औसत 1 लाख से अधिक प्रोत्साहन राशि प्राप्त की है। अब डीएसी, बीपीएम व एलएचवी के माध्यम से भौतिक सत्यापन करवा प्रपत्र रिपोर्ट भेजी जाए।

इन जिलों में प्रकरण
भरतपुर, बीकानेर, धौलपुर, हनुमानगढ़, जयपुर प्रथम, जोधपुर, कोटा, पाली व सवाई माधोपुर में आशाओं ने एक लाख से अधिक प्रोत्साहन राशि प्राप्त की है। भरतपुर में एक आशा सहयोगिनी ने 9 माह में 1010675, बीकानेर में 101525, 116475, 116680, धौलपुर में 151480, 122930, हनुमानगढ़ में 102130, जयपुर प्रथम में 100780, 100610, जोधपुर में 103450 जैसे सहित अन्य जिलों में 19 आशाओं ने 1 लाख से अधिक का प्रोत्साहन भुगतान लिया है।

कहां गलती हो सकती है और क्या हो सकता है...

स्वास्थ्य विभाग के विशेषज्ञों के अनुसार कई क्षेत्र में यदि आशा अपनी बेस्ट सेवाएं देती हैं और क्षेत्र अनुसार जनसंख्या अच्छी है तो टारगेट अचीव किया जा सकता है। आशा अपना क्लेम फार्म एएनएम के माध्यम से सबमिट करती हैं। एलएचवी से वेरिफकेशन होने के बाद पीसीटीएस से मिलान किया जाता है। इसमें करीब दो दर्जन गतिविधियों में प्रोत्साहन राशि देय है। आशाओं की ढाई से तीन हजार के बीच सैलेरी है। बाकी शेष प्रोत्साहन राशि होती है, जिसमें एएनसी रजिस्ट्रेशन, प्रसव व टीकाकरण जैसी गतिविधियां शामिल हैं। अब ऐसा भी सकता है कि आशा ने क्लेम दिया और उसको जांचा नहीं गया और बाद में उसको भुगतान हो गया हो, इन सभी बातों पर जांच करने पर ही पता चलेगा।

Abhishek Bissa Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned