बैण्ड बाजों के साथ घोड़े पर बिठाकर डीसीपी को दी विदाई

- पुलिस लाइन में अधिकारी व जवानों ने साफ पहनाकर फूल मालाओं से लादा
- अब एसपी सिरोही की कमान संभालेंगे

By: Vikas Choudhary

Updated: 10 Jun 2021, 02:41 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
पुलिस अधीक्षक सिरोही पद पर स्थानान्तरण होने पर आइपीएस अधिकारी व पुलिस उपायुक्त (पूर्व) धर्मेन्द्र सिंह यादव को बुधवार को बैण्ड बाजों के साथ घोड़े पर बिठाकर विदाई दी गई। पुलिस लाइन में डीसीपी (पूर्व) कार्यालय में सादे कार्यक्रम में सरकारी रोक के बावजूद बैण्ड बाजे गूंजे और सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी भी की गई।
वर्ष 2014 के आइपीएस अधिकारी धर्मेन्द्रसिंह यादव पुलिस उपायुक्त (पूर्व) पद पर रहे थे। गत सात जून को राज्य सरकार ने आदेश जारी कर धर्मेन्द्रसिंह को सिरोही एसपी स्थानान्तरित किया गया था। वे बुधवार को पद मुक्त हुए। तत्पश्चात सरदार पटेल सभागार में सादा समारोह आयोजित किया गया, जहां डीसीपी (मुख्यालय व यातायात) राजेश कुमार मीना व अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (पूर्व) भागचंद मीना के नेतृत्व में अधिकारी व जवानों ने स्मृति चिह्न भेंट किया। साथ ही साफा व माला भी पहनाई गई।
इसके बाद सभागार के बाहर से आइपीएस यादव को घोड़े पर बिठाकर बैण्ड बाजों की धुनों के साथ मुख्य गेट तक विदाई दी गई, जहां से कार में बैठकर विदा हुए।
नियम ताक पर : बैण्ड बाजे गूंजे, डिस्टेंसिंग भी भूले
राज्य सरकार ने शादी समारोहों में बैण्ड बाजों पर रोक लगा रखी है। कोरोना गाइड लाइन के तहत आइपीएस की विदाई को लेकर समारोह आयोजित नहीं किया गया। हालांकि विदाई के दौरान पुलिस की बैण्ड बाजे गूंजे। अधिकारी व सिपाही डिसटेंसिंग भी भूल गए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned