प्रहरियों ने जेल में कैदी तक पहुंचाए थे चार मोबाइल, दो प्रहरी गिरफ्तार

- कैदी के शरीर से चार मोबाइल निकलने का मामला
- सजा पूरी कर छूटे कैदी से मंगवाए थे चारों मोबाइल

By: Vikas Choudhary

Published: 01 Oct 2020, 06:16 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
रातानाडा थाना पुलिस ने जोधपुर सेन्ट्रल जेल में कैदी के शरीर से चार मोबाइल मिलने की गुत्थी सुलझाते हुए बुधवार को दो जेल प्रहरियों को गिरफ्तार किया। दोनों प्रहरियों ने जेल के अंदर कैदी तक चारों मोबाइल पहुंचाए थे।
सहायक पुलिस आयुक्त (पूर्व) दरजाराम बोस के अनुसार बाड़मेर जिले में सदर थानान्तर्गत जूना पतरासर गांव निवासी देवाराम पुत्र भीखाराम भील के शरीर से चार मोबाइल मिलने के मामले में जेल प्रहरियों की भूमिका सामने आई। इस पर रोहट (पाली) थानान्तर्गत वायद गांव में बिश्नोइयों की ढाणियां निवासी कैलाश साहू (30) पुत्र हरिकिशन बिश्नोई और जालोर जिले में भीनमाल तहसील के पुनासा गांव में मालियों की नाडी निवासी अशोक कुमार (30) पुत्र सुखराम बिश्नोई को गिरफ्तार किया गया।

कैदी से पूछताछ में हुआ खुलासा
थानाधिकारी रमेश शर्मा ने बताया कि नाबालिग से कुकर्म करने पर देवाराम भील दस साल की सजा काट रहा है। उसने गत 18 सितम्बर को जेल के कारखाने से मुख्य जेल में जाते समय गुदा में चार मोबाइल छुपाए थे। इससे 19 सितम्बर को तबीयत बिगडऩे पर उसे पहले जेल डिस्पेंसरी और फिर मथुरादास माथुर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ऑपरेशन में उसके शरीर से दो पॉलिथीन थैली में बंधे चार मोबाइल बाहर निकले थे। अस्पताल से छुट्टी मिलने पर देवाराम को जेल से प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार कर एक दिन का रिमाण्ड लिया गया। पूछताछ में उसने दोनों प्रहरियों के नाम बताए। दोनों प्रहरियों को पूछताछ के लिए थाने बुलाया गया। फिर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

बड़े लेन-देन का अंदेशा, लेकिन बताए 5 हजार
दोनों जेल प्रहरियों ने जेल में बंदियों के लिए चारों मोबाइल मंगवाए थे। दोनों से पूछताछ में बंदियों के नाम सामने आए हैं। जिनके बारे में तस्दीक की जा रही है। एनआइ एक्ट में छह माह की सजा काटने के बाद एक कैदी गत 19 सितम्बर को जेल से छूटा था। प्रहरी अशोक ने उसके मार्फत मोबाइल मंगवाए थे। फिर दोनों प्रहरी जेल में मोबाइल ले गए थे और कारखाने में कैदी देवाराम को दिए थे। उसे मुख्य जेल में चारों मोबाइल ले जाने थे, लेकिन जांच में पकड़े जाने के डर से उसने गुदा में चारों मोबाइल छुपा लिए थे। पुलिस को अंदेशा है कि जेल में मोबाइल ले जाने के बदले बड़ी राशि को लेन देन हुआ होगा। फिलहाल दोनों प्रहरियों ने पांच-पांच हजार रुपए के बदले मोबाइल ले जाने की जानकारी दी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned