मुख्यमंत्री लोन योजना का झांसा देकर की छात्रा से ठगी

30 हजार रुपए ठगे, खुद को बताया बैंक अधिकारी

मुख्यमंत्री ऋण योजना का झांसा देकर एक छात्रा से ठगी करने का मामला सामने आया है। सदर कोतवाली थाना पुलिस ने इस सम्बंध में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ALSO READ-लेडी डॉन सा अंदाज है हाईटेक महिला तस्कर का, पुलिस के सामने भी रहती है टशन में

पुलिस के अनुसार गोल मेहरा का बास निवासी प्रमेन्द्र राजपुरोहित ने रिपोर्ट दी कि उसकी पुत्री कृतिका ने 30 जुलाई को एक अखबार में विज्ञापन पढ़ा। उसमें मुख्यमंत्री लोन योजना के तहत ऋण दिलाने का लिखा हुआ था। उसमें छपे मोबाइल नम्बर पर कॉल किया। उसने खुद को बैंक अधिकारी और अपना नाम राकेश बताया। 

ALSO READ-जोधपुर के इस मकान में देह व्यापार का भंडाफोड़, 3 युवतियों सहित 4 गिरफ्तार

उसने एक एकाउंट नम्बर दिए, जिसमें बारी-बारी से छात्रा ने 30 हजार रुपए जमा करवाए। फर्जी बैंक अधिकारी ने उसका ऋण पास होने की बात कही। जब उसने और रुपए मांगे तो छात्रा ने यह बात अपने पिता को बताई। इस पर उसी मोबाइल नम्बर पर वापस रिंग की, लेकिन वह नम्बर बंद मिला। पिता की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

Show More
Nidhi Mishra Nidhi Mishra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned