मुख्यमंत्री लोन योजना का झांसा देकर की छात्रा से ठगी

मुख्यमंत्री लोन योजना का झांसा देकर की छात्रा से ठगी
fraudulence

30 हजार रुपए ठगे, खुद को बताया बैंक अधिकारी

मुख्यमंत्री ऋण योजना का झांसा देकर एक छात्रा से ठगी करने का मामला सामने आया है। सदर कोतवाली थाना पुलिस ने इस सम्बंध में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ALSO READ-लेडी डॉन सा अंदाज है हाईटेक महिला तस्कर का, पुलिस के सामने भी रहती है टशन में

पुलिस के अनुसार गोल मेहरा का बास निवासी प्रमेन्द्र राजपुरोहित ने रिपोर्ट दी कि उसकी पुत्री कृतिका ने 30 जुलाई को एक अखबार में विज्ञापन पढ़ा। उसमें मुख्यमंत्री लोन योजना के तहत ऋण दिलाने का लिखा हुआ था। उसमें छपे मोबाइल नम्बर पर कॉल किया। उसने खुद को बैंक अधिकारी और अपना नाम राकेश बताया। 

ALSO READ-जोधपुर के इस मकान में देह व्यापार का भंडाफोड़, 3 युवतियों सहित 4 गिरफ्तार

उसने एक एकाउंट नम्बर दिए, जिसमें बारी-बारी से छात्रा ने 30 हजार रुपए जमा करवाए। फर्जी बैंक अधिकारी ने उसका ऋण पास होने की बात कही। जब उसने और रुपए मांगे तो छात्रा ने यह बात अपने पिता को बताई। इस पर उसी मोबाइल नम्बर पर वापस रिंग की, लेकिन वह नम्बर बंद मिला। पिता की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned