रीढ़ की हड्डी में दर्द के चलते हार्डकोर कैलाश की फिर अस्पताल में स्वास्थ्य जांच, बगैर एमआरआई करवाए भेजा जेल

रीढ़ की हड्डी में दर्द और सर्जरी की आवश्यकता के संबंध में जांच कराने के लिए जिले के हार्डकोर कैलाश मांजू को एक बार फिर गुरुवार को कड़ी सुरक्षा में मथुरादास माथुर अस्पताल लाया गया। चिकित्सकों के बोर्ड ने एमआरआइ कराने की सलाह दी, लेकिन बगैर एमआरआइ उसे वापस जेल ले जाया गया।

By: Harshwardhan bhati

Published: 22 May 2020, 11:45 AM IST

वीडियो : मनोज सैन/जोधपुर. रीढ़ की हड्डी में दर्द और सर्जरी की आवश्यकता के संबंध में जांच कराने के लिए जिले के हार्डकोर कैलाश मांजू को एक बार फिर गुरुवार को कड़ी सुरक्षा में मथुरादास माथुर अस्पताल लाया गया। चिकित्सकों के बोर्ड ने एमआरआइ कराने की सलाह दी, लेकिन बगैर एमआरआइ उसे वापस जेल ले जाया गया।

पुलिस व सूत्रों के अनुसार बालेसर थानान्तर्गत भाटेलाई पुरोहितान निवासी हार्डकोर कैलाश मांजू कई समय से जोधपुर जेल में बंद हैं। उसे रीढ़ की हड्डी में दर्द है। सर्जरी कराने के लिए पैरोल स्वीकृति के लिए हाईकोर्ट में आवेदन करने पर एमडीएम अस्पताल में चिकित्सकीय बोर्ड से जांच कराने के आदेश दिए गए थे। इसी के चलते हार्डकोर को कड़ी सुरक्षा और हथकड़ी लगाकर चालानी गार्ड अस्पताल लेकर पहुंचे।

जहां चिकित्सकीय बोर्ड ने जांच की और एमआरआइ कराने पर सात दिन बाद रिपोर्ट देने की सलाह दी। बाद में हार्डकोर को महात्मा गांधी अस्पताल ले जाया गया, जहां कोरोना संबंधी थर्मल जांच की गई। एमआरआइ न होने पर उसे कड़ी सुरक्षा में वापस जेल ले जाया गया। गौरतलब है कि गत नौ मई को भी हार्डकोर कैलाश को अस्पताल लाया गया था।

Harshwardhan bhati
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned