scriptIdentity made on social media with food and drink videos | National Youth Day Special- मारवाड़ी भाषा में खान-पान के वीडियो से सोशल मीडिया पर बनाई पहचान | Patrika News

National Youth Day Special- मारवाड़ी भाषा में खान-पान के वीडियो से सोशल मीडिया पर बनाई पहचान

- राष्ट्रीय युवा दिवस विशेष
- गांव के सरकारी स्कूल में पढ़ी कौशल्या के यू-ट्यूब पर 10 लाख से अधिक फॉलोवर

जोधपुर

Updated: January 12, 2022 01:04:15 pm

जयकुमार भाटी/जोधपुर. सोशल मीडिया पर मारवाडी भाषा में राजस्थानी बाजरे की खिचड़ी, चूरमा, लड्डू, लापसी और कढ़ी को पूरी दुनिया पसंद कर रही हैं। इसे सीधी मारवाड़ी नाम से सोशल मीडिया पर प्रस्तुत कर रही है जोधपुर के भोपालगढ़ के कुड़ी गांव की कौशल्या चौधरी। गांव के सरकारी स्कूल में पढ़ी कौशल्या के खान-पान के वीडियो को यू-ट्यूब पर 10 लाख से अधिक लोग देख चुके हैं।
National Youth Day Special- मारवाड़ी भाषा में खान-पान के वीडियो से सोशल मीडिया पर बनाई पहचान
National Youth Day Special- मारवाड़ी भाषा में खान-पान के वीडियो से सोशल मीडिया पर बनाई पहचान
देसी अंदाज में बना रही वीडियो
देसी अंदाज में गांव के देशी खान-पान को कौशल्या ने वीडियो के जरिए क्षेत्र ही नहीं दुनिया के कई हिस्सों तक पहुंचाया। सीधी मारवाडी़ नाम का चैनल शुरू कर सोशल मीडिया के जरिए लाखों लोगों तक पहुंचाया। कौशल्या गांव के साधारण परिवार में जन्मी और सरकारी स्कूल में प्रारम्भिक पढाई की। इसके बाद गांव में रहते हुए स्वयंपाठी छात्रा के तौर पर स्नातक और राजस्थानी व लोक-प्रशासन में स्नातकोत्तर की परीक्षा के दौरान जोधपुर आना हुआ। जहां पर उन्होंने देखा कि सोशल मीडिया से भी लोग अपनी कला को प्रसारित कर रहे हैं। वापस गांव लौट कर उन्होंने मारवाड़ी में ही रेसिपी के वीडियो बनाकर यूट्यूब पर डालना शुरू किया। लोकप्रियता ऐसी बढ़ी की एक साल में ही वीडियो को देखने वालों की संख्या पांच से छह करोड़ पार कर गई।
पति के सहयोग से किया चुनौतियों से मुकाबला
कौशल्या ने बताया कि शुरुआत में सोशल मीडिया पर वीडियो बनाने को लेकर असमंजस में थी। कई लोग इसे न करने की सलाह दे रहे थे उस वक्त मेरे पति और परिवार ने ही मुझे आगे बढऩे की सलाह दी। देसी अंदाज के चलते आज देश विदेश में लाखों फैन है। दिलचस्‍प पहलू यह है कि पारंपरिक राजस्थानी ड्रेस और माथे पर सजे बोड़ले के साथ वे रेसिपी सिखाती हैं। कौशल्या जोधपुर में रहते हुए अपने पति के सहयोग से नियमित रूप से अपनी रेसिपी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर डालती रहती है। साथ ही महिलाओं को प्रेरित करने के लिए वे कार्यशाला का आयोजन भी करती आ रही हैं। उन्होंने कोविड काल में भी लोगों व महिलाओं को जागरूक करने के कार्य किए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

SSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजविराट कोहली ने किसके सिर फोड़ा हार का ठीकरा?, रहाणे-पुजारा का पत्ता कटना तयएसईसीएल ने प्रभावित गांवों को मूलभूत सुविधा देना किया बंद, कोल डस्ट मिले पानी से बर्बाद हो रहे हैं खेततीसरी लहर का खतरनाक ट्रेंड, डाक्टर्स ने बताए संक्रमण के ये खास लक्षण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.