बिजली बिल रफा-दफा करने के बदले 11 हजार की ली रिश्वत, लाइन मैन गिरफ्तार

- एसीबी को देख पायजामे से रिश्वत राशि निकाल जमीन पर फेंकी, लेकिन हाथ कैमिकल से रंगे

By: Vikas Choudhary

Published: 05 Aug 2021, 12:57 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर.
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने बिजली मीटर को खराब बताकर बिल रफा-दफा करने की एवज में ग्यारह हजार रुपए रिश्वत लेने पर बालेसर तहसील के भाटेलाई पुरोहितान स्थित जीएसएस के तकनीकी सहायक को बुधवार को रंगे हाथों गिरफ्तार किया। एसीबी को देख आरोपी ने पायजामे से रिश्वत राशि निकालकर जमीन पर फेंकी, लेकिन फिर उसके हाथ भ्रष्टाचार के रंग में रंग गए।

ब्यूरो के उप महानिरीक्षक डॉ विष्णुकांत के अनुसार बालेसर तहसील में तुलेसर पुरोहितान निवासी भैरूसिंह पुत्र मांगूसिंह की शिकायत पर भाटेलाई पुरोहितान स्थित जीएसएस पर कार्यरत तकनीकी सहायक बीकानेर जिले के महाजन थानान्तर्गत रतनेसर निवासी राकेश कुमार पुत्र पदमाराम को 11 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया। आरोपी ने घूस के 11 हजार रुपए पायजामे में रखे थे, लेकिन एसीबी को देख उसने रुपए निकालकर फेंक दिए थे। जिन्हें एसीबी ने बरामद किए। आरोपी के हाथ धुलवाने पर रंग लगा पाया।
मीटर खराब बता बिल राशि रफा-दफा कराने को ली घूस

एएसपी भोपालसिंह लखावत ने बताया कि भैरूसिंह के घरेलू बिजली कनेक्शन का जुलाई का बिल 20713 रुपए आया था। राशि अधिक होने पर उसने लाइन मैन (तकनीकी सहायक) राकेश कुमार से सम्पर्क किया। उसने मीटर खराब बता बिल राशि रफा-दफा कराने का भरोसा दिलाया था।
दस हजार मांगे, फिर ग्यारह हजार लिए

आरोपी ने बिल रफा-दफा करने के लिए भैरूसिंह से दस हजार रुपए रिश्वत मांगी थी। जिसकी शिकायत उसने एसीबी से की। 3 अगस्त को गोपनीय सत्यापन कराया गया। परिवादी ने रिश्वत राशि कम करने का आग्रह किया, लेकिन आरोपी ने कम करने की जगह ग्यारह हजार रुपए लेने पर अड़ गया। आखिर में परिवादी ने बुधवार को उसे 11 हजार रुपए दिए। जो उसने पायजामे में रखे। इस बीच, एसीबी ने दबिश दी। जिन्हें देख उसने रुपए निकाल फेंक दिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned