जेएनवीयू में पेंशनर्स का 4 घंटे तक प्रदर्शन

jnvu news

- ढाई महीने से पेंशन नहीं मिलने से सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने कुलपति से इस्तीफा मांगा

By: Gajendrasingh Dahiya

Updated: 15 Jul 2020, 07:15 PM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जोधपुर. जय नारायण व्यास विश्वविद्यालय के करीब 1500 सेवानिवृत्त कर्मचारियों व शिक्षकों को पिछले ढाई महीने से पेंशन नहीं मिलने के कारण बुधवार को पेंशनर्स ने विवि की केंद्रीय कार्यालय में भारी विरोध प्रदर्शन किया। 100 से अधिक कर्मचारियों द्वारा करीब 4 घंटे तक प्रदर्शन किया गया। इस दौरान कुलपति का घेराव भी किया गया। कर्मचारियों ने 20 साल में पहली बार किसी कुलपति के कार्यकाल में पेंशन नहीं मिलने पर वर्तमान कुलपति प्रो प्रवीण त्रिवेदी को अपना पद छोडऩे तक की सलाह दे डाली। उधर कुलपति ने सेवानिवृत्त कर्मचारियों की खरी-खोटी सुनने के बाद उनको आश्वासन दिया कि वे बजट लेने के लिए एक-दो दिन में जयपुर जा रहे हैं। वहां राज्य सरकार से बात होने के बाद शीघ्र ही पेंशन जारी कर दी जाएगी।

विवि के केंद्रीय कार्यालय में सुबह 11 बजे दो पूर्व कुलपति प्रो गुलाब सिंह चौहान और प्रो भंवर सिंह राजपुरोहित के नेतृत्व में सेवानिवृत्त शिक्षक और मोहन सिंह भाटी के नेतृत्व में सेवानिवृत्त कर्मचारी प्रदर्शन करने पहुंचे। उस दौरान कुलपति संकाय के दौरे पर थे। पेंशनर्स के भारी प्रदर्शन के बाद कुलपति को आकर उनसे वार्ता करनी पड़ी। पेंशनर अब तक आधा दर्जन बार पेंशन को लेकर प्रदर्शन कर चुके हैं लेकिन अभी तक उनकी समस्या का समाधान नहीं हुआ है।

जेएनवीयू में 1990 से पेंशन लागू है। वर्तमान में करीब 1500 कर्मचारी पेंशन लेते हैं। हर महीने में लगभग 5 करोड़ 40 लाख रुपए पेंशन बनती है। हर साल मई-जून के महीने में विवि की आय कम होने की वजह से पेंशन देने में दिक्कत आती है लेकिन आज तक कभी पेंशन बंद नहीं करनी पड़ी। इस बार कोरोना के कारण विवि की आर्थिक हालत खराब है। साथ ही विवि को राज्य सरकार ने भी ग्रांट देने से मना कर दिया है। हालांकि जेएनवीयू के पास बैंक से ओवरड्राफ्ट लेने का विकल्प अब भी खुला हुआ है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned