स्मार्ट क्लासेज से हाईटेक होगी जेएनवीयू यूनिवर्सिटी

jay kumar bhati

Publish: Sep, 17 2019 11:20:40 PM (IST)

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

जेके भाटी/जोधपुर. हाईटेक जमाने में पढ़ाई का अंदाज बदलने लगा है। जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय ने भी पुराने तरीकों से की जाने वाली पढ़ाई को अलविदा कहने की तैयारी कर ली है। विवि स्मार्ट क्लास की तर्ज पर विद्यार्थियों की शिक्षा हाईटेक करने के प्रयास में जुटा है। अब शिक्षक किताबों से लेक्चर न देकर प्रोजेक्टर के माध्यम से विद्यार्थियों से रू-ब-रू होंगे।

राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) की ओर से विवि के अलग-अलग संकायों में 25 डिजिटल स्मार्ट क्लास रूम तैयार करवाएं जा रहे है। रूसा के तहत विवि को करोड़ों रुपए का फंड मिला है। इसी फंड के तहत उच्चतर शिक्षा की सुविधाओं में बढ़ोतरी की जानी है। विवि के केएन कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, साइंस, कॉमर्स, लॉ व आट्र्स फैकल्टी में भी स्मार्ट क्लासेज बनाई जाएंगी। इसके लिए विवि की बिल्डिंग शाखा ने टेंडर जारी कर दिए हैं। बिल्डिंग सेल की ओर से फ्लोरिंग, सीलिंग, एसी, लाइट फिटिंग, नेटवर्किंग आदि का काम करवाया जाएगा।

यहां बनेंगे स्मार्ट क्लास रूम
विकास विभाग के अधीन संचालित रूसा के नोडल अधिकारी ने केएन वूमन कॉलेज, इंजीनियरिंग फैकल्टी व साइंस फैकल्टी के ओडिटोरियम में एक-एक तथा केन्द्रीय कार्यालय के बृहस्पति भवन व विधि संकाय में एक-एक स्मार्ट क्लास रूम बनाने की स्वीकृति दी है। इसी तरह कला संकाय में 7, विज्ञान संकाय में 6, इंजीनियरिंग संकाय में 5 तथा वाणिज्य संकाय में 2 स्मार्ट क्लास रूम बनाने की स्वीकृति जारी कर अधिकारियों से स्थान चिन्हित करने के निर्देश दिए है।

स्मार्ट क्लास में ये होगी सुविधाएं
स्मार्ट क्लास के डिजाइन को ध्यान में रखते हुए क्लास के इंटीरियर डिजाइन में भी बदलाव किया जाएगा। स्मार्ट क्लास के तहत क्लास में एलसीडी प्रोजेक्टर, हाई-स्पीड इंटरनेट, विशेष लाइटिंग, एसी और डिजिटल कॉन्फ्रेंस जैसी सुविधाएं उपलब्ध होंगी। शिक्षक टीवी, प्रोजेक्टर के माध्यम से अपने लेक्चर देंगे। वे अपना लेक्चर तैयार कर अपनी-अपनी मेल पर भेज देंगे और क्लास में बिना किताब के सिर्फ आवश्यक लेक्चर ही पढ़ाएंगे। साथ ही बाहर के प्रोफेसर्स और विशेषज्ञों से आसानी से सम्पर्क कर संबंधित विषय की जानकारी प्राप्त की जा सकेगी। इससे विद्यार्थियों की पढ़ाई में रूचि बढ़ेगी और शिक्षा का स्तर भी सुधरेगा।

इनका कहना है-
केएन वुमन कॉलेज में तीनों फेकल्टी आटर्स, कॉमर्स व साइंस है। जिसके लिए तीन स्मार्ट क्लास रूम तो होने ही चाहिए। अभी एक क्लास रूम के आदेश आए है, जिसे लेक्चर थियेटर में बनवाने के लिए विवि को भेजा जाएगा। -निदेशक प्रो. कैलाश कौशल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned