क्राइम फाइल : जोधपुर की इस पहाड़ी से उतरी मुसीबत ने मचाई दहशत, अपराध के चले खेल

धमाके के साथ वजनी पत्थर गिरने से अफरातफरी मच गई।

By: Chainraj Bhati

Published: 09 Dec 2017, 10:33 AM IST

किले की पहाड़ी से बड़ा पत्थर मकान पर गिरा, मकान क्षतिग्रस्त


जोधपुर . शहर के उदय मंदिर आसन क्षेत्र में शुक्रवार देर रात किले की पहाड़ी से बड़ा पत्थर मकान पर आ गिरा। इससे मकान की छीने नीचे गिर गई। हालांकि हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ। इस दौरान पास के एक मकान भी छीने क्षति ग्रस्त हो गई। मकान में सोने वाले सभी सदस्य सुरक्षित हैं। उन्हें मदरसे में ठहराया गया है। देर रात तक पुलिस प्रशासन मौके पर था। पुलिस के अनुसार रात करीब 12.30 बजे पहाड़ी से एक बड़ा पत्थर महबूब, सलीम व सत्तार बाबू के मकान पर गिरा। धमाके के साथ वजनी पत्थर गिरने से अफरातफरी मच गई। पत्थर गिरने की आवाज सुन मोहल्ले के लोग वहां एकत्र हो गए। घटना में मकान पूरी तरह क्षति ग्रस्त हो गया। लोगों ने मकान में मौजूद परिवार के सभी सदस्यों को सकुशल बाहर निकाल लिया। अचानक हुई इस घटना के बाद परिवार के लोग बुरी तरह घबरा गए। गनीमत रही कि किसी को चोट नहीं आई। गैस सिलेंडर में रिसावसमाचार लिखे जाने तक मकान में रखे रसोई गैस सिलेंडर में रिसाव हो रहा था। इस सिलेंडर को मकान के मलबे से निकालने के प्रयास शुरू किए गए। सूचना पर नागोरी गेट थाना अधिकारी लूणसिंह मौके पर पहुंच। बेघर हुए परिवार के सभी सदस्यों को पास के निकट ही एक मदरसे में ठहराया गया है। पत्थर गिरने के कारण का पता नहीं चला है।

-------------

 

किशोरों को रुपए देकर लगवाई थी दुकान में आग

 

पिचकारी में ज्वलनशील पदार्थ भरकर मधुबन हाउसिंग बोर्ड स्थित रेडीमेड कपड़ों की दुकान में डालकर आग लगाने के मामले का पुलिस ने शुक्रवार को पर्दाफाश कर दिया। पुलिस ने इस प्रकरण में दो किशोरों को संरक्षण में लिया है। मामला लेन-देन का निकला। एक व्यक्ति ने दुकानदार से लेन-देन विवाद की रंजिश के चलते दो किशोरों को रुपए देकर आग लगाने के लिए भेजा था। मुख्य आरोपी की तलाश जारी है। बासनी थाना पुलिस ने बताया कि मधुबन हाउसिंग बोर्ड में सेक्टर-२ 'जÓ निवासी ओमप्रकाश पुत्र पन्नालाल वैष्णव की रेडीमेड कपड़ों की एक दुकान है। तीन दिसम्बर की रात को मोटरसाइकिल सवार दो जनों ने पिचकारी की मदद से शटर के नीचे से दुकान में ज्वलनशील पदार्थ छिड़क कर आग लगा दी थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने दो किशोरों को संरक्षण में लिया।

दस हजार का प्रलोभन
पूछताछ में किशोरों ने खुलासा किया कि दुकानदार ओमप्रकाश व चांदणा भाखर ज्योति नगर निवासी सलीम के बीच लेन-देन का विवाद है। रंजिश के चलते सलीम ने दस हजार रुपए में दुकान जलाने के लिए दो किशोरों से बात की। दोनों किशोर आर्थिक तंगी से परेशान थे। किशोरों को पांच हजार रुपए दुकान जलाने से पहले व बाकी के पांच हजार बाद में देना तय किया गया। वारदात में प्रयुक्त मोटरसाइकिल व पिचकारी बरामद कर ली गई। आरोपी सलीम की तलाश जारी है।

-------------

 

स्वाइन फ्लू से एक और महिला की मौत

 

शहर में स्वाइन फ्लू से मौत का सिलसिला दूसरे दिन भी जारी रहा। शुक्रवार रात एक और महिला की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार लालसागर निवासी 50 वर्षीय महिला की स्वाइन फ्लू से मौत हुई। महिला दो दिसम्बर से एमडीएम हॉस्पिटल के स्वाइन फ्लू वार्ड में भर्ती थी। उसकी दोबारा हुई जांच में भी स्वाइन फ्लू पॉजिटिव आया था। जोधपुर में इस साल कुल 17 मौतें स्वाइन फ्लू से हो चुकी हैं। गत गुरुवार को भी नागौर मूंडवा निवासी 21 वर्षीय महिला की मौत हुई थी।और मरीज मिले-डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज की माइक्रोबायोलोजी लैब ने शुक्रवार को तनावड़ा खींवसर नागौर निवासी महिला को स्वाइन फ्लू होने की पुष्टि की। रोगी का फिलहाल एमडीएमएच में उपचार चल रहा है। वहीं इस दिन डेंगू के २ और चिकनगुनिया के ५ नए रोगी मिले।

--------------

 

तेजाब पीने से अचेत अधेड़ का दम टूटा

 

गत दिनों शास्त्री सर्किल के निकट तेजाब पीने से अचेत हुए अधेड़ का शुक्रवार को उपचार के दौरान दम टूट गया। शास्त्री नगर थाना पुलिस के अनुसार जगदम्बा कॉलोनी प्रताप नगर निवासी जितेन्द्रसिंह राजपूत ने गत दिनों तेजाब पी लिया था। इससे वह अचेत हो गया। उपचार के दौरान एमडीएम अस्पताल में उसका दम टूट गया। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। शास्त्री नगर थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

----------

 

साथी के साथ डकैत भागा, पुलिस ने दोनों को पकड़ा

 

डांगियावास थाना पुलिस ने दो शातिर अपराधियों को शुक्रवार को गिरफ्तार किया। पुलिस के अनुसार पीथावास निवासी संजय पुत्र श्रीराम उर्फ रामूराम विश्नोई स्कॉर्पियो गाड़ी में पाली-रोहट की ओर से अपने गांव की तरफ आ रहा था। मुखबिर की इत्तला पर पुलिस ने सरहद काकेलाव में घेराबंदी की। इस पर वह स्कॉर्पियों गाड़ी छोड़कर अपने एक साथी के साथ भाग गया। पुलिस ने पीछा कर आरोपी संजय व उसके साथी अशोक को गिरफ्तार किया। आरोपी संजय के खिलाफ वाहन डकैती, वाहन चोरी व वाहनों पर फर्जी नम्बर अंकित कर काम में लेने के 4 प्रकरण विभिन्न थानों में दर्ज है। इस तरह की वारदातों में अन्य थानों में भी वांछित होने की खबर है। इसका साथी अशोक पुत्र मिश्रीलाल विश्नोई सारण निवासी जालेली फोजदारा से पूछताछ की गई। उसके खिलाफ थाना कल्याणपुर जिला बाड़मेर के टोल बूथ डकैती का प्रकरण दर्ज है। संजय के खिलाफ प्रताप नगर, झंवर, डांगियावास, श्याम नगर जयपुर में मामले दर्ज है। जबकि अशोक के खिलाफ कल्याणपुर में मामला दर्ज है। इनकी लम्बे समय से पुलिस को तलाश थी।

-----------

 

डकैती का वांछित आरोपी गिरफ्तार

 

डांगियावास थाना क्षेत्र के काकेलाव गांव के पास डांगियावास पुलिस ने घेराबंदी कर 4 थानों में डकैती के वांछित आरोपी संजय पुत्र श्रीराम उर्फ रामूराम बिश्नोई निवासी पिथावास व उसके साथी अशोक को गिरफ्तार किया है। थानाधिकारी सुरेश चौधरी ने बताया कि मुखबीर की सूचना पर उप निरीक्षक कैलाशी, अमरचंद, हैड कांस्टेबल हप्पाराम, कॉन्स्टेबल प्रकाश, ज्ञानचंद, कृष्णकुमार, राकेश व रामनिवास ने स्कार्पियो गाड़ी की घेराबंदी की। पुलिस को देखते ही डकैत खेत में भागने लगे। जिन्हें पीछा कर गिरफ्तार किया गया। संजय पुलिस थाना झंवर, प्रतापनगर, श्यामनगर जयपुर व डांगियावास थाना क्षेत्र में डकैती का वांछित आरोपी है। वहीं अशोक कल्याणपुर में टोल नाके पर हुई डकैती में वांछित आरोपी है।

-------------

 

सूने मकान से जेवरात व नकदी चुराई

 

झंवर थाना क्षेत्र के पंचों की ढाणी में चोरों ने एक सूने मकान को निशाना बनाया। चोर मकान से नकदी व जेवरात चुरा ले गए। झंवर थाना पुलिस के अनुसार खुडाला हाल पंचों की ढाणी राबडि़या निवासी शंकरराम पुत्र खीमाराम पटेल ने रिपोर्ट दी कि वह घर से बाहर गया हुआ था। घर पर ताला लगा था। पीछे से चोरों ने ताला तोड़ मकान से जेवरात व १५ हजार रुपए चुरा लिए। पुलिस ने मामला दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी।

-----------

 

राजकार्य में बाधा डालने के आरोपितों को जेल भेजा

 

लूणी (जोधपुर). लूणी थाना क्षेत्र के खेजड़ली गांव में राजकार्य में बाधा डालने के तीन आरोपितों को शुक्रवार को न्यायालय ने जेल भेज दिया। पुलिस ने बताया कि २८ नवम्बर को पुलिस गश्त के दौरान थानाधिकारी प्रशिक्षु देवकिशन के साथ पुलिस टीम ने खेजड़ली स्थित लूनी नदी क्षेत्र में बजरी का अवैध खनन कर रहे खेजड़ली निवासी अशोक पुत्र हरसुखराम विश्नोई, अर्जुन पुत्र भीखाराम विश्नोई व गोपालराम विश्नोई को बजरी का खनन कार्य रोकने को कहा। जिस पर तीनों आरोपितों ने पुलिस के साथ धक्का मुक्की करके राजकार्य में बाधा डालने का प्रयास किया। इस पर पुलिस ने तीनो को गिरफतार कर रिमाण्ड अवधि समाप्त होने पर न्यायालय में पेश किया, जहां से तीनों को जेल भेज दिया गया।

Show More
Chainraj Bhati Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned