यौन उत्पीड़न के आरोपी आसाराम की फिर बढ़ी मुश्किलें, अब इस संगीन मामले में कोर्ट में पेश होने का मिला फरमान

29 मई तक टली आसाराम मामले की सुनवाई, यौन उत्पीड़न के बाद अब इस मामले में होना था फैसला।

By: rajesh walia

Published: 16 May 2018, 08:40 AM IST

जोधपुर। नाबालिग के साथ यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम बापू के खिलाफ चल रहे आईटी एक्ट के मामले में सुनवाई एक बार फिर टल गई है। मामले में आसाराम को कोर्ट के सामने पेश किया जाना था लेकिन जाब्ते के अभाव में आसाराम को कोर्ट के समक्ष पेश नहीं किया गया। जिसके चलते मामले में सुनवाई टल गई और अब अगली सुनवाई 29 मई को होगी। आपको बता दें कि यौन उत्पीड़न के आरोपी आसाराम की ओर से आईटी एक्ट के तहत उसके विरुद्ध दर्ज मामले को अपास्त कराने के लिए दायर विविध आपराधिक याचिका की सुनवाई आसाराम के कोर्ट के समक्ष पेश ना होने की वजह से टल गई। गौरतलब है कि आसाराम को यौन उत्पीड़न के मामले में दोषी ठहराया गया है और वह मौत तक उम्रकैद की सजा में जोधपुर की सेंट्रल जेल में बंद है।

 

वही एक अन्य मामले में आसाराम की याचिका पर सुनवाई होना अभी भी बाकी है। आपको बता दें कि आसाराम के खिलाफ पुलिस को धमकाने व दुष्प्रचार करने का एक मुकदमा उदय मंदिर थाने के तत्कालीन एसएचओ हरजीराम ने दर्ज कराया था। दरअसल, आसाराम के समर्थकों ने उदयमंदिर थानाधिकारी हरजीराम का रावण रूपी कार्टून बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था। इसके अलावा जान से मारने की धमकी भी दी थी। पुलिस ने इस मामले में आसाराम के खिलाफ जोधपुर महानगर मजिस्ट्रेट संख्या तीन की अदालत में चालान पेश किया था। एडीजे कोर्ट ने आसाराम को आंशिक राहत देते हुए धारा कुछ धाराओं को हटा दिया था। अब आसाराम के खिलाफ महानगर मजिस्ट्रेट संख्या तीन के समक्ष मुकदमे का विचारण शुरू होना था। इस मामले में आसाराम को आईटी एक्ट मामले में महानगर मजिस्ट्रेट संख्या 3 मदन चौधरी की कोर्ट में पेश किया जाना था, लेकिन जाब्ते के अभाव में पेश नहीं किया गया, जिसके चलते मामले में सुनवाई टल गई।

Show More
rajesh walia Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned