जोधपुर रेलवे स्टेशन: ग्रीन स्टैण्डर्ड उतरा खरा, मिली प्लेटिनम रेटिंग


- इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल ने किया था सर्वे

By: Amit Dave

Published: 01 Sep 2021, 10:54 PM IST

जोधपुर।
उत्तर पश्चिम रेलवे के जोधपुर रेलवे स्टेशन को एक बड़ी उपलब्ध हासिल हुई है। पर्यावरण, जल और ऊर्जा संरक्षण के क्षेत्र में बेहतरीन काम करने के लिए इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल (आईजीबीसी) ने जोधपुर रेलवे स्टेशन को ग्रीन रेलवे स्टेशन के मानकों पर पूरी तरह खरा उतरने के लिए प्लेटिनम रेटिंग दी है। यह रेटिंग जोधपुर रेलवे स्टेशन को यात्रियों के लिए सुविधाएं और पर्यावरण को लेकर किए गए कार्यो के लिए दी गई है।उत्तर पश्चिम रेलवे व जोधपुर रेल मण्डल के अधिकारियों की ओर से किए गए प्रयासों के बाद इस स्टेशन पर इतने बड़े पैमाने पर सुधार कार्य किए गए कि जोधपुर रेलवे स्टेशन को गोल्ड नहीं बल्कि सीधे प्लेटिनम रेटिंग मिल गई।
----
इन सुविधाओं के लिए मिली रेटिंग
- यात्री के अनुकूल सुविधाएं
- स्वास्थ्य, स्वच्छता और स्वच्छता पहल
- ऊर्जा और जल संरक्षण के कुशल उपाय
- स्टेशन पर सौर ऊर्जा का ज्यादा इस्तेमाल
- स्टेशन परिसर में एलईडी लाइटिंग
- जल संरक्षण से पानी की बचत
- इलेक्ट्रिक चार्जिंग पॉइंट
- सोलर हीटर का इस्तेमाल। इनके अलावा पर्यावरण संरक्षण के लिए कई कदम उठाएं।
---
हर वर्ष सर्वे
इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल हर वर्ष भारतीय रेलवे स्टेशनों का सर्वे करता है। कुछ निर्धारित मापदण्ड़ों के आधार पर रेलवे स्टेशनों को अंक देता है, ये अंक 100 में से दिए जाते है। काउंसिल की ओर से रेलवे स्टेशनों को दी जाने वाली ये रेटिंग्स रेलवे स्टेशनों को पर्यावरण को बिना नुकसान पहुंचाए कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करती है।-ग्रीन कांसेप्ट को ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल में लानाकाउंसिल के सर्वे का एकमात्र उद्देश्य रेलवे स्टेशनों पर ज्यादा से ज्यादा ग्रीन कांसेप्ट का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल में लाया जाना है, ताकि पर्यावरण को होने वाले नुकसान को कम किया जा सके

Amit Dave Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned