जोधपुरी मिर्चीबड़ा: म्हाने घणा भावे मिर्च वाला बड़ा, खाइए और खिलाइए..

अनिता चौधरी.वैसे तो आप सबको यह पता ही होगा कि 'खण्डा और खावण खण्डा जोधपुर रा प्रसिद्ध है...

By: Harshwardhan bhati

Published: 12 Nov 2017, 06:36 PM IST

अनिता चौधरी.वैसे तो आप सबको यह पता ही होगा कि 'खण्डा और खावण खण्डा जोधपुर रा प्रसिद्ध है। Ó... हमारी सूर्यनगरी को लेकर यहकहावत यूं ही नहीं प्रसिद्ध है। जोधपुरी जायका पूरे विश्व में अपना नाम कर चुका है। यहां की चटपटी और मसालेंदार चीजों का स्वाद हर किसी की जुबान पर अपनी छाप छोड़ता है। इसमें सबसे ज्यादा प्रसिद्ध जोधपुरी मिर्चीबड़ा है। जो कि विश्व में अपनी पहचान बना चुका है। स्वाद में तीखा होने के बावजूद भी यह जोधपुरवासीयों की पहली पसंद है। जो भी जोधपुर आता है वह अगर मिर्ची बड़ा खाए बगैर चला जाए तो उनका जोधपुर घूमना अधुरा हैं। यहां आने वाले लोग मिर्ची बड़ा खा कर तो जाते ही है लेकिन साथ में इसको बनाने की विधी भी सीख कर जाते हैं। देशी लोगों के साथ ही यह विदेशी मेहमानों की भी पसंद बन चुका हैं।

 

क्यों कहते हैं मिर्ची बड़ा
इसका नाम एेसे ही नहीं मिर्ची बड़ा रखा गया है। इसमें एक बड़ी हरी मिर्ची होती है। जिसको मसालों के बीच डाला जाता है। इस पूरी मिर्ची होने के कारण ही इसका नाम मिर्ची बड़ा रखा गया है। इसी खासियत की वजह से तीखे खाने के शौकीन जोधपुरवासीयों की यह पहली पसंद है।

 

 

 

रोज जीमते है १ से २ लाख तक के मिर्चीबड़े

जोधपुर में लगभग १०० दुकानों पर मिर्चीबड़े बनाए जाते हैं। इनकी रोज की खपत करीब १ से २ लाख तक हो जाती हैं। इसकी खपत के आंकड़ो के आधार पर ही स्पष्ट हो जाता है कि इसकी जोधपुर में लोकप्रियता बहुत है। पर्यटकों को भी जोधपुर आने के बाद मिर्ची बड़ा का स्वाद लेना जरूरी हो जाता है।

 

 

क्या है इसका जादू
मिर्ची बड़े की पहली खासियत इसका जायकेदार होना है। इसमें जोधपुरी मसालों के साथ ही मथानियां की मिर्ची का प्रयोग किया जाता है। इसको बनाने से पहले उबले आलू के साथ जोधपुरी मसालों का प्रयोग किया जाता है। इसके अन्दर एक हरी मिर्ची डाली जाती है। इसके बाद इसे बेसन के घोल में डूबाकर तेल में तला जाता है। यह स्वादिष्ट होने के साथ ही जल्दी बनकर तैयार हो जाता है।

 

 

ये हैं मिर्ची बड़ों के दिवाने

मुझे बचपन से ही मिर्ची बड़े खाने बहुत पसंद है। दिन में एक बार मिर्ची बड़ा खाए बिना दिन अधुरा सा लगता है। इसका तीखापन ही इसकी सबसे बड़ी खासियत है।
- सोनिया

 

व्याख्याता में जब भी कॉलेज जाती हूं एक बार तो मिर्ची बड़ा जरूर खाती हूं। बारीश के मौसम में यह मेरी पहली पसंद है। हम सब फेंड्स का दिन इसे खाए बगैर अधूरा है।

-उर्मिला

 

मिर्ची बड़ा एक एेसी चीज है जिसका नाम सुनते ही हमारे मुहं में पानी आ जाता है। मैं तो हर मौसम में इसे खाती हूं। शाम को एक बार तो इसे खाए बगैर तो मैं घर नहीं जाती हूं।
-सुमन

 

जोधपुर में रहने वालों ने अगर मिर्ची बड़ा नहीं खाया तो क्या खाया। मैं और मेरे दोस्त रोज चाय के साथ मिर्ची बड़ा खाते हैं। दिन में एक बार तो खाना ही पड़ता है।

- गौतम पिण्डेल

Harshwardhan bhati
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned